afp header code ends here -->

ताज़ा खबरें



होम >> नाग-नागिन का 'प्रेम मंदिर', हिन्दू-मुस्लिम भी करते है साथ में पूजा

नाग-नागिन का 'प्रेम मंदिर', हिन्दू-मुस्लिम भी करते है साथ में पूजा

  ज्योति रानी 2017-01-12 15:39:52

साझा करें




नई दिल्ली: मध्य प्रदेश प्रान्त का एक प्रमुख शहर ग्वालियर में वैसे तो बहुत से मंदिर हैं। लेकिन एक अनोखा ऐसा अनोखा मंदिर आपको यहां देखने को मिलेगा जिसके अंदर भगवान की नहीं बल्कि नाग-नागिन की पूजा की जाती है। और सबसे दिलचस्प यह है कि हिंदू धर्म ही नहीं बल्कि मुस्लिम धर्म के मोग भी इस मंदिर में पूजा-अर्चना करते हैं।

यह मंदिर ज्यादा पुराना नहीं है। इस मंदिर के बनने के पीछे भी एक रोचक कहानी है। कि यह साल 2015 में ग्वालियर के ही ट्रांसपोर्ट नगर में गेट नंबर एक के पास से एक नाग-नागिन का जोड़ा सड़क पार कर रहा था। तभी अचानक बीच सड़क पर एक ट्रक के नीचे आ जाने से नाग की मौके पर ही मौत हो गई। लेकिन नागिन बच गई।

नागिन, नाग के मर जाने के गम में इतनी दुखी थी कि वह सड़क से अलग ही नहीं हुई। घंटों सड़क पर जाम लगा रहा। तब एक सपेरे की मदद से नागिन को वहां से अलग किया गया। आलम यह था कि दूसरे दिन जहां नाग की मृत्यु हुई थी, वहीं नागिन ने भी दम तोड़ दिया।


सच्चे प्रेम की आस्था को देखकर लोगों ने नाग-नागिन का न केवल हिंदू विधि से अंतिम संस्कार किया। बल्कि सड़क के नजदीक ही नाग-नागिन की मूर्ति स्थापित कर मंदिर भी बनवाया। जिसका नाम रखा गया प्रेम मंदिर।



ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें। हर पल अपडेट रहने के लिए ANDROID पर India Voice APP डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें। 

साझा करें



वीडियो

बड़ी खबरें



Live Streaming

IndiaVoice © Copyright 2016, All Rights Reserved Design and develop by DataLogic Tricks