मां दुर्गा से है यहां के मुस्लिमों का पुराना नाता, जानें पीछे का सच

ताज़ा खबरें



होम >

मां दुर्गा से है यहां के मुस्लिमों का पुराना नाता, जानें पीछे का सच

 दिवाकर सरीन 2017-09-23 21:09:14  


मेरठ: देशभर में नवरात्र का शुभ उत्सव शुरू हो चुका है। जगह-जगह मां दुर्गा के भव्य आयोजन और जागरण के कार्यक्रम चल रहे हैं। इसी क्रम में शहर के दुर्गाबाड़ी मंदिर में भी मां दुर्गा उत्सव को धूमधाम से मनाया जा रहा है। इस उत्सव की खासियत ये है कि यहां मां दुर्गा की मूर्ति एक दो मुस्लिम कलाकार रशीद और मकसूद बनाते है, जो हर साल यहां कोलकाता से खासतौर पर इस मूर्ति को बनाने के लिए आता है। दुर्गा बाड़ी मंदिर में बंगाली रीति रिवाज से मां दुर्गा की पूजा अर्चना की जाती है। यहां मां दुर्गा की मूर्ति का स्वरूप भी बंगाली मां दुर्गा की तरह ही होता है। यहां होने वाले दुर्गा उत्सव के लिए जो मूर्ति तैयार की जाती है उसे तैयार करने के लिए पिछले 22 साल से एक मुस्लिम परिवार के सदस्य कोलकाता से यहां आते हैं। 

सबसे पहले इस मुस्लिम परिवार से जब्बार मिया यहां मूर्ति बनाने आए थे। उसके बाद उनके बेटे गुलफाम और अब उनके पोते रशीद और मकसूद कलाकार के तौर पर यहां आ रहे हैं। इस बार भी कोलकाता से आए मुस्लिम कलाकारों ने ही मां दुर्गा की भव्य मूर्ति तैयार की। मूर्ति को तैयार करने में एक महीने से अधिक का समय लगा। मूर्ति को सजीव बनाने के लिए कलाकारों ने अपनी कला को बड़ी ही खूबसूरती के साथ यहां प्रदर्षित किया। अपनी कला से दिनरात मेहनत कर कलाकारों ने मूर्ति को सजीव बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी। कच्ची मिट्टी से बनाई गई है मूर्ति मंदिर के पुजारी अमिताभ मुखर्जी ने बताया यहां जो मूर्ति बनाई जाती है वह खास तरह की मिट्टी से बनाई जाती है।

यह मिट्टी कच्ची होती है। पूजा उत्सव के बाद जब मूर्ति का विसर्जन किया जाता है तब यह मूर्ति जल्द ही पानी में घुल जाती है।  उन्होंने बताया कि मूर्ति में जो रंग भरे जाते हैं वह भी ईको फ्रेंडली होते हैं। ताकि इन रंगों से प्रकृति को किसी तरह का नुकसान न हो।  मंदिर के पुजारी के मुताबिक मूर्ति तैयार करने वाले मुस्लिम कलाकार श्रद्धालुओं की आस्था और भावनाओं का पूरा ध्यान रखते हैं। मूर्ति बनाते समय ऐसा कोई कार्य नहीं किया जाता जिससे किसी की धार्मिक भावनाएं आहत हो।

साझा करें

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें। हर पल अपडेट रहने के लिए ANDROID पर India Voice APP डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें। 


वीडियो

रोचक खबरें




IndiaVoice © Copyright 2016, All Rights Reserved Design and develop by DataLogic Tricks