BHU में छात्राओं पर लाठीचार्ज पर उबला सोशल मीडिया, लोग बोले....

ताज़ा खबरें



होम >

BHU में छात्राओं पर लाठीचार्ज पर उबला सोशल मीडिया, लोग बोले....

 संपादित - राहिल कमाल 2017-09-24 18:37:45  

वाराणसी के काशी हिन्दु विश्वविद्यालय में पिछले दो दिनों से छात्रों और विवि प्रशासन के बीच खींचतान के बाद शनिवार रात को छात्राओं के धरने को खत्म करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज किया जिसमें कई छात्र घायल भी हुए।
इसके बाद सोशल मीडिया ट्विटर पर #अबकी_बार_बेटी_पर_वार हैशटैग टॉप लिस्ट में ट्रेंड कर रहा है. इस हैशटैग पर दो बजे तक 15 हजार से अधिक ट्वीट किए गए हैं.

इस हैशटैग के साथ ज्यादातर ट्वीट बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी से जुड़ा हुए हैं. यूनिवर्सिटी में सुरक्षा की मांग करती लड़कियों पर पुलिस लाठी चार्ज को लोग 'बेटी पर वार' बता रहे हैं.

शाहिद खान (@sky198_khan) ने लिखा कि बेटी पढ़ाओ, बेटी बचाव, अपना हक मांगे तो उनपर डंडा बरसाओ.

राधिका गुप्ता (@Radhika88538358) लिखती हैं कि अगर अब भी आप अपनी चुप्पी नहीं तोड़ेंगे तो साफ है कि इस देश में लड़कियों की कोई वैल्यू नहीं है. हर्ष कुमार (@HarshKu41095706) ने लिखा है कि बीजेपी के किसी ने भी पुलिस लाठीचार्ज और वीसी की कार्रवाई का विरोध नहीं किया है.


कई लोगों ने लड़कियों पर पुलिस कार्रवाई को पीएम के बनारस दौरे और रविवार को उनके मन की बात कार्यक्रम से भी जोड़ते हुए मोदी की आलोचना की है. सलमान शेख (@iamsalmansheikh) लिखते हैं कि अगर वे लड़कियों की जगह पर गाय होतीं तो सुप्रीम सेवक जरूर कुछ करते.


मनोज कुमार साहू (@ManojSahuG) केंद्र और राज्य सरकार की आलोचना करते हुए लिखते हैं कि इन सरकारों के रहते हुए लड़कियों की हिम्मत कैसे हुई कि वे सेक्शुअल हरैसमेंट के खिलाफ न्याय की मांग करें ?

अमित मिश्रा ने लिखा कि (@Amitjanhit)  ने लिखा कि कभी मोदी जी ने चुनाव में कहा था कि मुझे गंगा मैया ने बुलाया है. आज BHU की छात्राएं उनको पुकार रही हैं, कहां हैं वे?? शिखर नेगी (@shikhar4813) ने लिखा है कि गाय को माता और बेटियों को लाठी, यही है मोदी का नया भारत?

साझा करें

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें। हर पल अपडेट रहने के लिए ANDROID पर India Voice APP डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें। 


वीडियो

रोचक खबरें




IndiaVoice © Copyright 2016, All Rights Reserved Design and develop by DataLogic Tricks