1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. 100 फीसदी कांग्रेसी चाहते हैं कि राहुल गांधी पार्टी के अध्यक्ष बनें- रणदीप सुरजेवाला

100 फीसदी कांग्रेसी चाहते हैं कि राहुल गांधी पार्टी के अध्यक्ष बनें- रणदीप सुरजेवाला

इस महारैली में कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के अलावा कांग्रेस के सभी वरिष्ठ, पूर्व केंद्रीय मंत्री, मुख्यमंत्री मौजूद रहेंगे।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

जयपुर, 11 दिसंबर। कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने दावा किया है कि 100 फीसदी कांग्रेसी चाहते हैं कि राहुल गांधी पार्टी के अध्यक्ष बनें। उन्होंने पार्टी में किसी भी तरह के असंतोष और गुटबाजी से इंकार करते हुए कहा कि कांग्रेस परिवार के करीब सभी नेता जयपुर में रविवार को ‘महंगाई हटाओ महारैली’ में शामिल हो रहे हैं। कहीं कोई मनमुटाव नहीं है। जयपुर रैली के जरिए राहुल गांधी की रिलॉचिंग को लेकर पूछे गए एक सवाल पर सुरजेवाला ने कहा कि राहुल गांधी ऐसे नेता हैं जिनके लिए लॉचिंग, रिलॉचिंग का कोई सवाल नहीं हैं। उन्होंने हमेशा देश के पिछड़े, गरीब, शोषित, आदिवासी और युवा की लडाई लडी है और लडते रहेंगे।

पढ़ें :- Omicron में लोगों की जान खतरे में डाल रही मोदी सरकार : सुरजेवाला

रविवार को ‘कांग्रेस की महंगाई हटाओ’ महारैली

राजधानी जयपुर के विद्याधर नगर स्टेडियम में रविवार को कांग्रेस की ‘महंगाई हटाओ महारैली’ का आयोजन किया जाएगा। रैली से एक दिन पहले शनिवार को कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला, प्रदेश कांग्रेस प्रभारी अजय माकन, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने प्रदेश कांग्रेस कमेटी कार्यालय में मीडिया से चर्चा की और सवालों के जवाब दिए।

सुरजेवाला का केंद्र सरकार पर हमला

इस दौरान सुरजेवाला ने केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला। सुरजेवाला ने कहा कि पूरे देश में महंगाई की मार है। आज देश की जनता महंगाई से त्रस्त है और मोदी सरकार मस्त है। सोनिया गांधी और राहुल गांधी के नेतृत्व में रविवार को देश की जनता जयपुर से महंगाई के खिलाफ हुंकार भरेंगी। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार को कुम्भकर्णी नींद से जगाने के लिए जयपुर में महारैली का आयोजन हो रहा है। राजस्थान की वीर भूमि से जो हुंकार गूंजेगी वो पूरे देश में सुनाई देगी।

महंगाई को लेकर केंद्र पर भड़के सुरजेवाला

सुरेजवाला ने कहा कि रविवार को जयपुर महंगाई के ख़िलाफ़ महायुद्ध का गवाह बनेगा। एक निर्णायक लड़ाई का शंखनाद होगा। सुरेजवाला ने आरोप लगाया कि डरी मोदी सरकार ने इस आयोजन को मंजूरी नहीं दी है, लेकिन राजस्थान की माटी वीरों की भूमि है। यहां की माटी को जब-जब माथे पर लगा कर निकले हैं जीत ही मिली है। उन्होंने आरोप लगाया कि आज देश में पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस, सब्जियों के दाम आसमान पर हैं। आज देश में पेट्रोल डीजल 100 के पार, खाना बनाने वाला तेल 200 रुपये के पार है। अब तो तड़का लगाने वाला टमाटर भी 100 रुपये के पार है। उन्होंने नोटबंदी के बाद बिगड़ी अर्थव्यवस्थाओं को लेकर RBI की रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि छोटे और मझोले उद्योग खत्म हो गए हैं। नोटबंदी के बाद नक्सलवाद खत्म हुआ ना आतंकवाद खत्म हुआ। आज हम पाकिस्तान और बांग्लादेश से पिछड़ गए हैं। भारत का 57 प्रतिशत पैसा 10 लोगों के पास है। अमीर और अमीर होता जा रहा है और गरीब और गरीब होता जा रहा है। देश में 10 प्रतिशत बेरोजगारी दर है। उन्होंने आरोप लगाए कि कोरोना महामारी में भी कुछ खास उद्योगपतियों ने तेरह लाख करोड़ रुपये कमाए हैं।

सरकारी संसाधनों के दुरुपयोग के आरोप पर जवाब

रैली के आयोजन को लेकर सरकारी संसाधनों के दुरुपयोग के विपक्ष के आरोपों को नकारते हुए सुरजेवाला ने कहा कि उत्तर प्रदेश में प्रधानमंत्री मोदी जाएं तो आदित्यनाथ रैली करवाएंगे। रैलियों के लिए पूरे यूपी से संसाधन अधिकारियों के जरिए से जुटवाए जाएंगे। इधर कांग्रेस अपने खर्च पर रैली करें तो बीजेपी आरोप लगाती है।

आगामी चुनाव की रैली में रखी जाएगी नींव

वहीं मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि रैली को लेकर पूरे प्रदेश के अंदर कार्यकर्ताओं में उत्साह है। महंगाई की मुद्दा अपने आप में इतना बड़ा मुद्दा है। पूरे देशवासी महंगाई से त्रस्त हैं। पेट्रोल-डीजल के साथ-साथ हर चीज की चाहे वो कंज्यूमर आइटम हों, चाहे रसोई के आइटम हों, चाहे वो रियल ऐस्टेट के लिए सीमेंट-लोहे की बात हो, सब जगह महंगाई इतनी भयंकर हो गई है कि लोग परेशान हैं। इसलिए स्वाभाविक है कि वो मुद्दा बनता है जो पब्लिक के ज़ेहन में पहले से ही है, तो उसे रेस्पॉन्स मिलता है। आज पूरे प्रदेश से और प्रदेश के बाहर से भी एक्स्ट्रा ऑर्डिनरी रेस्पॉन्स मिल रहा है। रविवार को आप देखेंगे कि लोग बहुत उत्साह के साथ में जयपुर में प्रवेश करेंगे और रैली का आयोजन होगा। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दावा किया कि रैली से पूरे देश के अंदर एक मैसेज जाएगा और मैंने पहले भी कहा था कि एनडीए सरकार के पतन की शुरुआत रैली से होगी। अगला चुनाव हम कैसे जीतें, उसकी शुरुआत रैली में रविवार को ही होगी।

रैली में राहुल- प्रियंका आएंगे, सोनिया को लेकर संशय

रैली में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के आने को लेकर प्रदेश प्रभारी अजय माकन ने कहा कि पहली बार कोई राष्ट्रीय रैली दिल्ली से बाहर हो रही है। इस महारैली में राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के अलावा कांग्रेस के सभी वरिष्ठ, पूर्व केंद्रीय मंत्री, मुख्यमंत्री मौजूद रहेंगे।

और पढ़ें:

Corona Infection: 10 राज्यों के 27 जिलों में कोरोना संक्रमण अब भी 5 % से ऊपर, केंद्र ने जारी की चेतावनी

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...