1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. उत्तर प्रदेश : लोकभवन से कैसरबाग तक हटायी गयी 50 से ज्यादा अवैध दुकानें

उत्तर प्रदेश : लोकभवन से कैसरबाग तक हटायी गयी 50 से ज्यादा अवैध दुकानें

बुलडोजर लगाकर उखाड़ दिया गया।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

लखनऊ, 29 सितम्बर। नगर निगम लखनऊ के जोन एक अंतर्गत चार किलोमीटर की लोकभवन से कैसरबाग तक की सड़क पर अतिक्रमण हटाओ अभियान चला और इसमें 50 से ज्यादा अवैध कब्जा कर बनायी गयी दुकानें हटायी गयीं। सुबह चलाये गये अभियान के कैसरबाग पहुंचने तक कई जगहों पर विरोध का सामना करना पड़ा।

पढ़ें :- झारखंड के मुख्य सचिव सुखदेव सिंह के बेटी का निधन, सीएम ने जताई संवेदना

बुधवार की सुबह आठ बजे से आरम्भ हुए अतिक्रमण हटाओ अभियान की टीम सबसे पहले लोकभवन पहुंची। लोकभवन से आगे बढ़ते ही जोन की टीम को सड़क पर लगी स्थायी दुकानें दिख गयी। जिसे बुलडोजर लगाकर उखाड़ दिया गया। दुकान के मालिक और स्थानीय लोगों के विरोध करने पर उन्हें मौके से हटाया गया।

लालबाग तिराहे पर सुबह से ही चाय, पान और कचौड़ी की स्थायी और कुछ अस्थायी दुकानें मिलने पर उन्हें खुद से हटाने को कहा गया। जब उन्होंने विरोध दर्ज कराया तो अंतिम चेतावनी देते हुए दुकानों पर बुलडोजर चला दिया गया। कैसरबाग में पेट्रोल पम्प के सामने वर्षो से कब्जा जमाये चाय और फल वाले का तिरपाल, ठेलियां, बैठने के लिए बनाये गये सीट को भी अभियान में हटाते हुए टीम आगे बढ़ी।

कैसरबाग के गोल चौराहे पर फूल की दुकानों, नारियल बेचने वालों की दुकानों, फल विक्रेताओं के ठेले हटाये गये। वही सफेद बारादरी के बगल में नगर निगम के बस स्टैण्ड को अतिक्रमण से खाली कराया गया, जहां कई दिनों से चाय पकौड़ी वालों ने अपना कब्जा कर रखा था।

नगर निगम के अधिकारी राजेश ने बताया कि बीते कुछ दिनों से अतिक्रमण से जाम की समस्या की जानकारी मिल रही थी। वही लोकभवन से कैसरबाग तक चले स्मार्ट सिटी के कार्य में भी बाधा पहुंच रही थी। इसको देखते हुए सुबह के वक्त अतिक्रमण हटाओ दस्ता सक्रिय हुआ और सड़क की सफाई की गयी।

पढ़ें :- पंजाब के सीएम भगवंंत मान करने जा रहे शादी, जानें कौन बनेगी उनकी दुल्हनिया

उन्होंने बताया कि कैसरबाग पहुंचने के बाद अभियान को परिवर्तन चौक तक बढ़ाया गया। जिसमें भी कई अवैध रुप से लगी दुकानों को हटाया गया। साथ ही दुकानदारों को फिर से अतिक्रमण ना करने की चेतावनी दी गयी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...