1. हिन्दी समाचार
  2. विधानसभा चुनाव 2022
  3. अखिलेश यादव की चेतावनी, रोजगार के मुद्दे पर लोगों को झूठ बोलना बंद करे योगी सरकार

अखिलेश यादव की चेतावनी, रोजगार के मुद्दे पर लोगों को झूठ बोलना बंद करे योगी सरकार

प्रदेश में कुछ ही महीनों के भीतर चुनाव होना है ऐसे में चुनाव से ठीक पहले सत्ता धारी पार्टी जहाँ एक तरफ बड़े-बड़े दावे कर रही है। वहीं दूसरी तरफ विपक्षी दल योगी सरकार के दावे को लेकर जोरदार हमला बोला है।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

Uttar Pradesh Assembly Election 2022 : उत्तर प्रदेश में चुनाव का माहौल इन दिनों गर्म है। ऐसे में तमाम राजनीतिक दल एक दूसरे के ऊपर निशाना साधने में लगे हुए हैं। आलम यह है कि एक दूसरे को कटघरे में खड़े करने का मौका कोई छोड़ना नहीं चाहता। वार-पलटवार के इस दौर में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने योगी सकरार पर रोजगार के मुद्दे पर जमकर निशाना साधा है।

पढ़ें :- Uttar Pradesh : योगी आदित्यनाथ चुने गए BJP विधायक दल के नेता, कहा- जिम्मेदारी बिना रुके, बिना थके और बिना डिगे लगातार निभाते रहेंगे

69000 शिक्षक भर्ती का उठाया मामला 

अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर निशाना साधते हुए अपने ट्वीट में प्रदेश में 69000 शिक्षक भर्ती का मामला उठाया है। अखिलेश यादव ने अपने ट्वीट में बेरोजगारी का मुद्दा उठाते हुए लिखा है कि मुख्यमंत्री जी उन लोगों के होर्डिंग क्यों नहीं लगवा देते हैं जिनको उन्होंने अपने कार्यकाल में नौकरी या रोजगार दिया है।

नौकरी-रोजगार देने के झूठे आंकड़े पेश कर रही है योगी सरकार 

अखिलेश यादव ने आगे लिखा कि मुख्यमंत्री जी मंच से नौकरी-रोजगार देने के झूठे आंकड़े दे रहे हैं। जबकि सच्चाई यह है कि बेरोजगार उनके दरवाजे के सामने शासन प्रशासन की हिंसा का शिकार हो रहे हैं। ऐसे में बात बात में होर्डिंग लगवाने वाले मुख्यमंत्री उनके होर्डिंग क्यों नहीं लगवा देते जिनको उन्होंने नौकरी या रोजगार दिया है।

पढ़ें :- Delhi : सीएम योगी आदित्यनाथ ने की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात, कई मुद्दों पर हुई चर्चा

2022 में प्रदेश की जनता योगी-सरकार को देगी जवाब 

पढ़ें :- UP में 10 मार्च के बाद महिलाओं को सरकारी बसों में मुफ्त यात्रा : CM योगी

इसके अलावा अखिलेश यादव ने हाल ही में नीति आयोग द्वारा जारी हुए स्वास्थ्य सूचकांक में खराब प्रदर्शन को लेकर भी प्रदेश सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने कहा है कि नीति आयोग के स्वास्थ्य इंडेक्स में स्वास्थ्य और चिकित्सा के मामले में यूपी सबसे नीचे है। वास्तव में यह है उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार की रिपोर्ट। उन्होंने कहा कि प्रदेश की सेहत खराब करने वाली सरकार को 2022 में प्रदेश की जनता जवाब देगी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...