1. हिन्दी समाचार
  2. दुनिया
  3. भारत और अमेरिका ने तालिबान से किया आग्रह, अफगानिस्तान ना बने आतंकवादियों की पनाहगाह

भारत और अमेरिका ने तालिबान से किया आग्रह, अफगानिस्तान ना बने आतंकवादियों की पनाहगाह

भारत और अमेरिका ने तालिबान से कहा कि अफगानिस्तान को आतंकवादियों का पनाहगाह नहीं बनाना चाहिए।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

वॉशिंगटन, 29 अक्टूबर। भारत और अमेरिका ने तालिबान से आग्रह किया है कि अफगानिस्तान आतंकवादियों के लिए पनाहगाह नहीं बनना चाहिए।

पढ़ें :- तालिबान ने पूर्ववर्ती अफगान सरकार के सौ से अधिक लोगों को मारा, संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट में खुलासा

दोनों देशों के अधिकारियों ने आतंकवाद को खत्म करने के लिए परस्पर सहयोग बढ़ाने पर वार्ता की। भारतीय और अमेरिकी पक्षों ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद द्वारा प्रतिबंधित सभी आतंकवादी समूहों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का भी आह्वान किया। इन आतंकवादी संगठनों में अल-कायदा, आईएसआईएस/दायेश, लश्कर-ए-तैयबा, जैश-ए-मोहम्मद आतंकवादी संगठन हैं।

इससे पहले 26 और 27 अक्टूबर को वॉशिंगटन में हुई दो दिवसीय बैठक के दौरान अमेरिका ने आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में भारत के लोगों और भारत सरकार के साथ खड़े होने पर अपनी प्रतिबद्धता दोहराई थी।

उल्लेखनीय है कि तालिबान ने अफगानिस्तान पर 15 अगस्त को पूरी तरह से कब्जा कर लिया था। अमेरिका और भारत की ओर से जारी संयुक्त बयान में किसी भी रूप में हुई आतंकवादी घटनाओं की निंदा की गई है।
हिन्दुस्थान समाचार

पढ़ें :- अफगानिस्तान पर डोभाल ने की तजाकिस्तान और उज्बेकिस्तान के NSA से मुलाकात, आज होगी दिल्ली में 8 देशों की बैठक
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...