1. हिन्दी समाचार
  2. दुनिया
  3. तालिबान पर बाइडन को नहीं है भरोसा

तालिबान पर बाइडन को नहीं है भरोसा

जो बाइडन ने कहा कि अगर तालिबान, अफगानिस्तान के लोगों पर शासन करना चाहता है तो उन्हें आर्थिक सहायता, व्यापार और कई तरह की चीजों के मामले में अतिरिक्त मदद की आवश्यकता होगी,

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने तालिबान को मान्यता देने पर कहा कि उनको उसपर भरोसा नहीं है। तालिबान को मान्यता दिलाने के लिए चीन और पाकिस्तान की कोशिशें जारी हैं।

पढ़ें :- अफगानिस्तान के हेरात शहर की मस्जिद में भीषण विस्फोट, शीर्ष मौलवी की मौत, 200 से ज्यादा घायल

व्हाइट हाउस से राष्ट्र को संबोधित करते हुए जो बाइडन ने कहा कि अगर तालिबान, अफगानिस्तान के लोगों पर शासन करना चाहता है तो उन्हें आर्थिक सहायता, व्यापार और कई तरह की चीजों के मामले में अतिरिक्त मदद की आवश्यकता होगी, लेकिन मुझे किसी पर भरोसा नहीं है। तालिबान को एक मौलिक निर्णय लेना है।

इसके साथ राष्ट्रपति ने प्रश्न करते हुए कहा कि क्या तालिबान अफगानिस्तान के लोगों की भलाई के लिए प्रयास करने जा रहा है, जो कि 100 वर्षों से किसी एक समूह ने कभी नहीं किया है ? यदि वह करता है तो उसे आर्थिक सहायता, व्यापार और कई तरह की चीजों के मामले में अतिरिक्त मदद की आवश्यकता होगी। बाइडन ने कहा कि तालिबान ने जबसे अफगानिस्तान पर कब्जा किया, एक समूह की तरफ से कहा जा रहा है कि वह किसी के साथ भेदभाव नहीं करेंगे और साथ ही यह समूह मांग कर रहा है कि उसे अन्य देशों द्वारा मान्यता मिल जाए। इसके अलावा तालिबान ने अन्य देशों से कहा कि वे अपने राजनयिक को यहां बनाएं रखें। इन सभी बातचीत में तालिबान ने अमेरिकी बलों पर कोई कार्रवाई नहीं की है।

बता दें कि राष्ट्रपति की तरफ से यह टिप्पणी ऐसे समय में आई है, जब देश अपने नागरिकों को काबुल हवाई अड्डे के माध्यम से अफगानिस्तान से निकाल रहे हैं।

पढ़ें :- तालिबान ने पूर्ववर्ती अफगान सरकार के सौ से अधिक लोगों को मारा, संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट में खुलासा
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...