1. हिन्दी समाचार
  2. ख़बरें जरा हटके
  3. पीएम को मिलने वाले उपहारों की हो रही नीलामी , जाने आप भी उसमें कैसे लें सकते हैं हिस्सा !

पीएम को मिलने वाले उपहारों की हो रही नीलामी , जाने आप भी उसमें कैसे लें सकते हैं हिस्सा !

प्रधामंत्री मोदी मिलने वाले उपहारों की नीलामी ऑनलाइन की जा रही है. लिहाजा पीएम ने नागरिकों से इस नीलामी में जुड़ने का अपील किया है.

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

नई दिल्ली, 19 सितंबर । प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को मिलने वाले उपहारों की नीलामी एक बार फिर ई-नीलामी के माध्यम से शुरू कर दी गई है। जिसके लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा नागरिकों से इस नीलामी में भाग लेने के लिए आह्वान किया गया है. पीएम ने कहा कि इस ई-नीलामी से प्राप्त पैसों को गंगा की सफाई के लिए बनाये गए नमामि गंगे प्रोजेक्ट और स्वछता मिशन में उपयोग किया जायेगा।
आपको बता दें कि पीएम को जो भी उपहार प्रदान किए जाते हैं उसे नीलाम किया जाता है और उससे मिलने वाले पैसों को नमामि गंगे और स्वछता मिशन में उपयोग किया जाता है। नीलामी से प्राप्त राशि को गंगा संरक्षण और उसके कायाकल्प को बदलने हेतु उपयोग में लाया जाता है।

पढ़ें :- Hyderabad : दुनिया को लीड कर सकते हैं भारतीय युवा, पीएम मोदी ने कहा- आज दुनिया महसूस कर रही है 'India Means Business'

आपको बता दें किपीएम मोदी को मिलने वाले इन सभी उपहारों की नीलामी का तीसरा संस्करण 17 सितंबर से 7 अक्टूबर तक चलाया जायेगा। इस ई-नीलामी को वेब पोर्टल https://pmmementos.gov.in. के माध्यम से आयोजित किया जा रहा है। लिहाजा जो भी व्यक्ति या संगठन इस नीलामी में हिस्सा लेना चाहता है वो दिए गये वेबसाइट के माध्यम से होने वाली इस ई नीलामी से जुड सकता है।

प्रधानमंत्री मोदी ने रविवार को एक वीडियो शेयर करते हुए ट्वीट किया कि “समय के साथ, मुझे कई उपहार और स्मृति चिन्ह मिले हैं जिनकी नीलामी की जा रही है। इसमें हमारे ओलंपिक नायकों द्वारा दिए गए विशेष स्मृति चिन्ह भी शामिल हैं। नीलामी में अवश्य भाग लें। नीलामी से प्राप्त राशि नमामि गंगे पहल में जाएगी।” आपको बता दें कि इन स्मृतिचिन्हों में टोक्यो 2020 पैरालंपिक खेलों और टोक्यो 2020 ओलंपिक खेलों के विजेताओं द्वारा प्रधानमंत्री को उपहार में दिए गए स्पोर्ट्स गियर और उपकरण शामिल हैं। इस बात की जानकारी भारत सरकार की संस्कृति मंत्रालय द्अवारा दी गई. इसके आलावा उपहार में कई अन्य दिलचस्प कलाकृतियों में अयोध्या राम मंदिर की प्रतिकृति, चारधाम, रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर, मॉडल, मूर्तियां, पेंटिंग और अंगवस्त्र शामिल हैं।

संस्कृति मंत्रालय के अनुसार, ई-नीलामी के इस चरण में लगभग कुल 1 हज़ार 330 स्मृति चिन्हों की नीलाम की जा रहा है। टोक्यो 2020 पैरालंपिक खेलों में स्वर्ण पदक विजेता सुमित अंटिल और टोक्यो 2020 ओलंपिक खेलों में नीरज चोपड़ा द्वारा इस्तेमाल भाले का सबसे अधिक मूल्य निर्धारित किया गया हैं। इन वस्तुओं का आधार मूल्य करीब एक करोड़ रुपये है। आपको बता दें कि सबसे कम कीमत वाली वस्तुओं में एक छोटे आकार की सजावटी हाथी है जिसकी कीमत 200 रुपये है।

इसके आलावा कुछ अन्य वस्तुएं जैसे लवलीना बोरगोहेन द्वारा इस्तेमाल किए गए बॉक्सिंग दस्ताने जिस पर लवलीना का ऑटोग्राफ है उन्हें भी नीलामी के लिए रखा गया है। पैरालंपिक में स्वर्ण पदक विजेता कृष्णा नागर द्वारा हस्ताक्षर किए गए बैडमिंटन रैकेट की भी बोली लगाई जा रही है। इसके अलावा एक टेबल टेनिस रैकेट भी है, जो टोक्यो 2020 पैरालंपिक खेलों की रजत पदक विजेता भाविना पटेल द्वारा हस्ताक्षर किया गया है। इसका उपयोग टोक्यो 2020 पैरालंपिक खेलों में भाविना पटेल द्वारा किया गया था।

पढ़ें :- Madhya Pradesh : भारत में दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा स्टार्टअप्स ईकोसिस्टम- प्रधानमंत्री मोदी

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...