1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Uttar Pradesh Politics : भोजपुरी सुपरस्टार निरहुआ का अखिलेश यादव पर जुबानी हमला

Uttar Pradesh Politics : भोजपुरी सुपरस्टार निरहुआ का अखिलेश यादव पर जुबानी हमला

भगवा रंग पर सियासत हुई तेज. अखिलेश यादव के भगवा रंग वाले बयान पर निरहुआ का पलटवार

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

लखनऊ, 18 नवम्बर। अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) के एक रंग (भगवा) वाले बयान पर विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी (BJP) के साथ ही भोजपुरी स्टार दिनेश लाल यादव निरहुआ ने भी हमला बोला है। उन्होंने एक वीडियो जारी करते हुए अखिलेश यादव को कहा कि यह तो जगजाहिर है कि आप भगवा से नफरत करते हैं। उन्होंने कहा है कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ऐसे वक्त पर यह कह कर के प्रदेश की जनता को आगाह कर दिया है कि ‘भगवा से इतना बड़ा बैर रखने वाले के हाथों में अगर उत्तर प्रदेश की चाबी जाती है तो क्या हालात होंगे’।

 

भगवा रंग से नफरत करते हैं सपा अध्यक्ष 

निरहुआ ने जारी वीडियो में कहा अखिलेश यादव जी ‘यह जो एक रंग की आपकी और आपके पार्टी की नफरत है, वह जगजाहिर है’। उसमें कुछ कहने की बात नहीं है। मैं तो सिर्फ आपको इतना कहना चाहता हूं कि ‘मान ले लिए-सम्मान ले लिए, आप तो यादवों का स्वाभिमान ले लिए। क्योंकि भगवान कृष्ण भी उस दिन खून के आंसू रोए होंगे जिस दिन यही तुष्टीकरण की राजनीति करने के लिए आप लोगों ने अयोध्या में राम भक्तों की जान ले ली थी।

निरहुआ कहते हैं यह ठीक है कि ‘आप अपनी विचारधारा ऐसे ही समय-समय पर बताते रहिए’। ताकि धीरे-धीरे उन लोगों की भी आंख खुले जो लोग आज भी भ्रम में हैं। उन्हें पता चलता रहे कि आप जिन्ना की विचारधारा वाले आदमी हैं। अगर आपको मौका मिला तो इस देश का प्रदेश का क्या करेंगे ? यह सबको पता होना चाहिए।

 

भगवा रंग को लेकर अखिलेश ने किया था कटाक्ष 

मालूम हो कि समाजवादी पार्टी के मुखिया व उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव इस समय विजय रथ यात्रा निकाल रहे हैं। अपनी इसी विजय रथ यात्रा के दौरान उन्होंने बुधवार को पूर्वांचल में समर्थकों को संबोधित करते हुए कहा कि ‘एक रंग वाले प्रदेश का विकास नहीं कर सकते हैं। लोग उनके इस एक रंग वाले बयान को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से जोड़कर देख रहे हैं। लिहाजा भारतीय जनता पार्टी ने भी अखिलेश यादव पर पलटवार किया।

 

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष का आरोप हिंदुत्व से नफरत करती हैं विपक्षी पार्टियां 

वार पलटवार के इस सियासी खेल में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह ने भी बुधवार को पत्रकारों के एक सवाल पर कहा था कि ‘अकेले अखिलेश यादव ही नहीं समाजवादी पार्टी के साथ कांग्रेस और बसपा जैसे दल भी भगवा से परहेज करते हैं’। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि इन लोगों को हिंदुत्व से नफरत है। हिंदुओं से नफरत है। भगवान राम में इनकी आस्था नहीं है। उनके अस्तित्व को नकारने वाले हैं। यहां तक कि उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव अपने पिता और चाचा को भी अपमानित किया है। अखिलेश यादव का यह चरित्र जनता के सामने पूरी तरह से उजागर हो चुका है। यही वजह है कि प्रदेश की जनता उन्हें सबक सिखा रही है। आने वाले समय में भी जनता उन्हें सबक जरूर सिखाएगी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
India Voice Ads
X