1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. Bihar : ऑफिसर्स प्रशिक्षण अकादमी OTA में 20वीं पासिंग आउट परेड का हुआ आयोजन

Bihar : ऑफिसर्स प्रशिक्षण अकादमी OTA में 20वीं पासिंग आउट परेड का हुआ आयोजन

Chief Guest : मुख्य अतिथि 'लेफ्टिनेंट जनरल जीएवी रेड्डी' ने ली परेड की सलामी

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

 

पढ़ें :- बिहार विधान परिषद की 11 सीटों पर लगभग तय हुए जदयू के उम्मीदवार

बिहार, 11 दिसंबर। गया शहर के गया-बोधगया मुख्य सड़क मार्ग पर पहाड़पुर गांव के समीप स्थित ऑफिसर्स प्रशिक्षण अकादमी (ओटीए) में 20वीं पासिंग आउट परेड का आयोजन शनिवार को किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि लेफ्टिनेंट जनरल जीएवी रेड्डी ने परेड की सलामी ली। कोरोना काल के दो वर्षों के बाद पहली बार जेंटलमैन कैडेट्स के अभिभावक सहित कई अन्य अधिकारी मौजूद थे।सेना की धुन पर जेटलमैन कैडेट्स द्वारा शानदार परेड मार्च किया गया। इस दौरान जेंटलमैन कैडेट्स के ऊपर सेना के 3 हेलीकॉप्टरों द्वारा फूल बरसा कर उनका उत्साह बढ़ाया गया। ‘इस दृश्य को देखकर सभी लोग रोमांचित हो उठे’।

Passing Out Parade in Gaya: ओटीए, गया में पासिंग आउट परेड आज, ड्रिल स्क्वायर शुरू गया के ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी

 

देश को मिले 99 नए कैडेट्स

कुल 108 जेंटलमैन कैडेट्स पास आउट हुए। जिनमें 99 भारत के एवं 9 कैडेट्स वियतनाम, श्रीलंका और भूटान के शामिल हैं। इस तरह से देश को 99 कैडेट्स मिले। जिन्होंने अंतिम पग पर पैर रखकर कमीशन प्राप्त किया। यहां प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद ये देश के अन्य संस्थानों में प्रशिक्षण लेंगे। जिसके बाद ये देश की सेवा करेंगे। वैश्विक महामारी के निर्देशों एवं नियमों का पालन करते हुए पासिंग आउट परेड का आयोजन किया गया। हालांकि पिपिंग सेरेमनी का आयोजन नही किया गया।

पढ़ें :- बिहार में विप की सीटों का बंटवारा, 13 पर भाजपा और 11 पर जदयू लड़ेगी चुनाव

 

लेफ्टिनेंट जनरल जीएवी रेड्डी ने कैडेट्स को किया संबोधित 

इस दौरान मुख्य अतिथि लेफ्टिनेंट जनरल जीएवी रेड्डी ने पास आउट होने वाले जेंटलमैन कैडेट्स को उनके उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए बधाई दी। उन्होंने कहा कि जेंटलमैन कैडेट्स के लिए अनुशासन बड़ी बात होती है। अपने जीवन में अनुशासित रहते हुए आप देश की सेवा में लगिये और अपनी मातृभूमि की रक्षा कीजिए। उन्होंने कहा कि सेना के जवान अपने शौर्य और पराक्रम से गौरव गाथा लिखते हैं। हम इनके उज्जवल भविष्य की कामना करते हैं। यहां के बाद देश के अन्य सैन्य संस्थानों में प्रशिक्षण लेने के बाद ये लोग देश की सेवा में लगेंगे।

 

और पढ़ें – 17-Gun Salute: CDS रावत को क्यों दी गई 17 तोपों की सलामी ? जानें इसके पीछे की सच्चाई

पढ़ें :- बिहार में नहीं बनेंगे मिट्टी से ईंट, केन्द्र सरकार की अधिसूचना के बाद राज्य सरकार शुरू करेगी पहल
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...