1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. बिहार: सियासी सूरमाओं के युवराजों को पंचायत चुनाव में लांच करने की तैयार

बिहार: सियासी सूरमाओं के युवराजों को पंचायत चुनाव में लांच करने की तैयार

-गांव की सरकार से करेंगे चुनावी राजनीति का आगाज

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

पटना, 11 अक्टूबर। बिहार के त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में सियासत के नए युवराज राजनीति का ककहरा पढ़ने की तैयारी में है। पंचायत चुनाव के माध्यम से प्रदेश के सियासत में धमक रखने वाले वाले राज्य सरकार में मंत्री-विधायक-सांसद और पूर्व विधायक अपने-अपने युवराजों को लॉच करने की तैयारी कर रखी है। हालांकि, सियासत की विरासत सौंपने की कवायद में कई राजनीतिक दिग्गज पंचायत चुनाव के पिछले दो चरणों मुंह की खा चुके हैं। इसके बाद भी अगले चरणों में गांव की सरकार पर कब्जे के लिए फ्यूचर ब्रिगेड की कतार लगी है।

पढ़ें :- Bihar : बिहार के पूर्णिया में ट्रक पलटा, 8 मजदूरों की मौत, 5 घायल

उपमुख्यमंत्री रेणु देवी के एक भाई रवि कुमार उर्फ पिउनू चनपटिया से जिला परिषद चुनाव अभी हारे हैं। दूसरे भाई अनिल प्रकाश उर्फ मंटू नौतन से जिला परिषद सदस्य का चुनाव लड़ने की मुनादी कर चुके हैं। इसी तरह सांसद-पूर्व सांसद, विधायक-पूर्व विधायक और वर्षों पहले राजनीति से किनारे हो चुके राजनेता भी पंचायत चुनाव की चौसर पर अपने वारिसों को मोहरें बनाकर चाल चलने में लग गए हैं।

इसके लिए भाई, बहन, पत्नी, बेटा, बेटी और बहू जैसे वारिसों को राजनीति की नई पौध के रूप में पंचायतों के ओहदे पर विराजमान कराने की फिराक में हैं। इनके जरिए आगे की सियासी पारी के लिए दावेदारी मजबूत कर विधानसभा चुनाव के समय अपने या अपने वारिसों की टिकट की मांग को पुख्ता करना भी है। इनमें सत्ता पक्ष और विपक्ष सभी के विधायक शामिल हैं।

बिहार के ये सियासी दिग्गज लड़ रहे परोक्ष रूप से पंचायत की जंग

रेणु देवीः प्रदेश की उपमुख्यमंत्री रेणु देवी के एक भाई रवि कुमार उर्फ पिउनू अभी चनपटिया से जिला परिषद का चुनाव हारे हैं। दूसरे भाई अनिल प्रकाश उर्फ मंटू नौत से जिला परिषद का चुनाव लड़ने की घोषणा कर चुके हैं।

पढ़ें :- Bihar Investors Meet 2022 : बिहार निवेश के लिए तैयार कर रहा अनुकूल वातावरण- शाहनवाज हुसैन

वीणा सिंहः महनार विधायक वीणा सिंह के देवर श्याम किशोर सिंह कुम्हरौल बुजुर्ग पंचायत से मुखिया का चुनाव लड़ने जा रहे हैं। वीणा सिंह के पति रामा सिंह भी वैशाली के सांसद रहे हैं।

रामवृक्ष सदाः अलौली के विधायक रामवृक्ष सदा की पत्नी सुशीला देवी अलौली से जिला परिषद सदस्य का चुनाव लड़ने जा रही हैं।

छत्रपति यादव-खगड़िया के सदर विधायक छत्रपति यादव के भाई लोकेश नंदन अलौली से जिला परिषद के चुनाव लड़ने जा रहे हैं।

बीमा भारती- रूपौली की विधायक बीमा भारती की बेटी रानी भारती भवानीपुर से जिला परिषद का चुनाव लड़ने का एलान कर चुकी हैं।

महेश्वर हजारी- कल्याणपुर के विधायक और विधानसभा उपाध्यक्ष महेश्वर हजारी के बेटे सनी हजारी खानपुर प्रखंड सिरपुर गाहर पंचायत से पंचायत समिति सदस्य का चुनाव लड़ रहे हैं।

पढ़ें :- Bihar : बिहार के सहरसा में कोसी नदी की उपधारा में डूबने से तीन बच्चों की मौत

पूर्व विधायक भी होड़ में नहीं हैं पीछे

बैजू यादव : हिलसा के पूर्व विधायक बैजू यादव की पुत्रवधू चंचला कुमारी ने एकरंगसराय से जिला परिषद का चुनाव लड़ने के लिए बुधवार को नामांकन दाखिल किया।

रामबालक सिंह- विभूतिपुर के पूर्व विधायक रामबालक सिंह की पत्नी आशा रानी सिंघिया बुजुर्ग पंचायत से मुखिया का चुनाव लड़ रही हैं।

स्व. विश्वनाथ ऋषिः कोढ़ा के पूर्व विधायक विश्वनाथ ऋषि की पुत्रवधू वंदना कुमारी कोढ़ा से जिला परिषद का चुनाव लड़ रही हैं।

हिन्दुस्थान समाचार

पढ़ें :- Bihar : पीएम मोदी ने देश को साल 2047 तक विश्व में नंबर एक बनाने का लक्ष्य रखा- अमित शाह
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...