1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. कांशीराम ने जीवनभर दलित व पिछड़ों के लिए काम किया : मायावती

कांशीराम ने जीवनभर दलित व पिछड़ों के लिए काम किया : मायावती

- बसपा प्रमुख ने पुण्यतिथि पर कांशीराम को किया याद

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

लखनऊ, 09 अक्टूबर। लखनऊ में बहुजन समाज पार्टी के संस्थापक कंशीराम की पुण्यतिथि पर बसपा ने रैली का आयोजन किया। इस रैली में बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने कहा कि आज 9 अक्टूबर को बसपा के जन्मदाता कांशीराम की पुण्यतिथि है। उन्होंने अपने जीवन में दलित, पिछडो, धार्मिक पिछड़े लोगों के लिए काम किया। मान्यवर कांशीराम की पुण्यतिथि पर नमन कर भारत रत्न देने की मांग करती हूँ।

पढ़ें :- मायावती ने कहा, सपा मुखिया को बंद कर देना चाहिए बचकाना बयान

बहुजन समाज पार्टी के संस्थापक मान्यवर कांशीराम की 15 वीं पुण्यतिथि पर बसपा अध्यक्ष मायावती ने कहा कि उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब में होने वाले चुनाव में ध्यान दिला रही हूँ। बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर ने कहा था, मैंने संविधान में बहुजन समाज को अधिकार दिला दिया है लेकिन उन्हें स्वयं से सत्ता लेनी होगी। हमने चार बार सरकार बनाने का काम किया है। कमजोर और पिछड़े लोगों के लिए काम किया गया है। वही उपेक्षित सन्तों को भी हमने पूरा सम्मान दिया है।

मायावती ने कहा कि हमने उत्तर प्रदेश का विकास किया है और जिसे सत्ता परिवर्तन पर काफी सरकारें नकल कर रही है। जब पूर्ण बहुमत की सरकार बनी थी तो वो काम किया गया था, जिसकी पुरे देश में सराहना हुई थी।

उन्होंने कहा कि चाहे सपा ने सत्ता में रही हो, भाजपा की सरकार हो, जनता बसपा की सत्ता को याद कर रही है। कार्यकर्ताओं को इन जैसी पार्टियों के हटकंडो से सावधान रहना है। ऐसी पार्टीयों के जाति बिरादरी, नातेदारी के चक्कर में पड़ कर कार्यकर्ताओं को अपना वोट ख़राब नही करना है। ये लोग वोट पड़ने तक कुछ भी कर सकते है।

उन्होंने कहा कि चुनाव होने के दौरान सर्वे पर रोक लगनी चाहिए। जिससे वोट प्रभावित ना हो। जैसे गुजरात में सर्वे में दिखा रहे थे कि बंगाल चुनाव में ममता बनर्जी काफी पीछे है लेकिन परिणाम उसके विपरीत रहा। ये पार्टी इस बार चुनाव में हिन्दू मुस्लिम करा के लाभ ले सकती है। इस बार भाजपा मोटे पूंजीपति से खर्च करानी वाली है।

पढ़ें :- सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती पर राहुल-मायावती-केशव ने अर्पित किया श्रद्धा सुमन

उन्होंने कहा कि किसानों के विरुद्ध भाजपा की नीतियां सामने आ रही है। लखीमपुर की घटना अभी ताजा उदाहरण है। यूपी में कांग्रेस पार्टी लम्बे समय सत्ता में रही है, लेकिन उनकी नीति भी वैसी ही है। श्रमिक उनके सत्ता के समय में ही दूसरे राज्य में पलायन कर गए थे।

उन्होंने कहा कि गरीब लोग जो मुम्बई में जाकर बस गए थे, वे लोग कोरोना के समय वापस यूपी में लौट आये। वहां शिवसेना की सरकार है। आम आदमी पार्टी ने भी मजदूर के लिए दिल्ली ने कोई व्यवस्था नही की थी। वो भी यूपी में आकर मजदूर की बात कर रहे हैं। दिल्ली से आये लोगों को बेरोजगारी भत्ता देने का झूठ प्रचार किया गया।

उन्होंने कहा कि बसपा कार्यकर्ताओं के बहकावे में नही आना है। बसपा के सत्ता में आने के बाद सबसे ज्यादा काम गरीबों के लिए करेंगे। जिससे कभी पलायन ना करने पड़े।

उन्होंने कहा कि इस बसपा आयी तो पिछली सरकार की योजनाओं को लागू कराया जाएगा। गुंडे जेल ही होंगे। धार्मिक स्थलों का विकास कार्य कराया जाएगा।

उन्होंने कहा कि पार्टी को मजबूत करने के लिए 21 अक्टूबर से अभियान चलाया जाएगा। मण्डल स्तर पर बूथ के कार्यकर्ताओं को मजबूत किया जायेगा। बसपा कार्यकर्ता सर्वजन हिताय सर्वजन सुखाय की सरकार जरूर बनाएंगे।

पढ़ें :- उप्र में महिलाओं को 40 प्रतिशत टिकट देने की घोषणा कांग्रेस की चुनावी नाटकबाजी - मायावती

उन्होंने कहा कि जितने लोग इस कार्यक्रम में आए हैं, लाखों लाखों लोग आए हैं। और जितने अंदर है उतने बाहर भी है। यह वह लोग देख ले, जो अपनी भीड़ दिखाते हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...