Booking.com

राज्य

  1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. कैप्टन दूसरे का बन रहे हैं मुखौटा, अमरिंदर सिंह किसी तरह के दबाव में हैं- हरीश रावत

कैप्टन दूसरे का बन रहे हैं मुखौटा, अमरिंदर सिंह किसी तरह के दबाव में हैं- हरीश रावत

कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव और पंजाब कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत ने कहा कि कैप्टन अमरिंदर सिंह सेक्युलर हैं, लेकिन वो दूसरे का मुखौटा बन रहे हैं। कैप्टन को बीजेपी की किसी भी तरह की मदद नहीं करनी चाहिए।

By इंडिया वॉइस 

Updated Date

देहरादून, 01 अक्टूबर। पंजाब कांग्रेस की राजनीति हर सियासी गलियारे में चर्चा का विषय बनी हुई है। ऐसे में शुक्रवार को कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव और पंजाब कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत ने कहा कि कैप्टन अमरिन्दर सिंह सेक्युलर हैं, लेकिन वो दूसरे का मुखौटा बन रहे हैं। रावत ने शुक्रवार को पार्टी मुख्यालय में आयोजित पत्रकार सम्मेलन में ये बात कही।

पढ़ें :- West bengal: TMC के 2 कार्यकर्ताओं की बम हमले में मौत, एसपी पर गिरी गाज

हरीश रावत ने कहा कि कैप्टन अमरिन्दर सिंह साल 1980 से कांग्रेस से जुड़े हुए हैं। बड़े भारी मन से ये कहना पड़ रहा है कि वो कुछ लोगों के उकसाने पर अलग कदम बढ़ा रहे हैं। उन्होंने कहा कि अमरिन्दर सिंह कांग्रेस में और बाहर भी रहे। उन्होंने सेक्युलरिज्म को हमेशा माना है। हाल ही में गृहमंत्री अमित शाह और बीजेपी के कुछ नेताओं से उनकी नजदीकी सामने आई है। वो उनके जीवन भर की पूंजी पर सेक्युलर प्रश्न चिन्ह खड़ा करेगी।

हरीश रावत ने कहा कि लोगों के उकसावे सैद्धांतिक संबंध नहीं है। देश के लोगों का ध्यान भटकाने के लिए माहौल बनाया जा रहा है। पार्टी ने कैप्टन अमरिंदर सिंह को हमेशा सम्मान दिया है। तीन बार पार्टी के प्रांतीय अध्यक्ष रहे और दो बार मुख्यमंत्री रहे। उनकी तुलना में दूसरे वरिष्ठ नेता को कम मौके मिल पाए।

पंजाब कांग्रेस प्रभारी ने कहा कि पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह के बयानों से ऐसा लगता है कि वो किसी तरह के दबाव में हैं। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने बेअदबी मामले में कार्रवाई नहीं की और इसलिए विधायकों ने उन्हें हटाने का फैसला लिया। अमरिंदर सिंह के हाल-फिलहाल के बयानों से लगता है कि वो किसी तरह के दबाव में हैं।

हरीश रावत ने कहा कि अमरिन्दर सिंह को दोबारा विचार करना चाहिए। उन्हें प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से बीजेपी की मदद नहीं करनी चाहिए। कांग्रेस ने अब तक जो भी किया है वो पंजाब में होने वाले आगामी विधानसभा चुनावों को देखते हुए किया है। उन्होंने कहा कि कैप्टन पर अकाली से मिलने का आरोप लगता रहा है। पिछले दिनों के उनके बयानों से ये बात और साफ होनी लगी है।

पढ़ें :- Delhi Excise Policy Case: "दिल्ली शराब नीति" को लेकर अरविंद केजरीवाल के खिलाफ BJP का बड़ा प्रदर्शन

रावत ने एक सवाल पर कहा कि कांग्रेस ने पंजाब में दलित को मुख्यमंत्री बनाया है। उत्तराखंड में अपने जीवन काल में दलित मुख्यमंत्री देखना चाहते हैं। वहीं नवजोत सिंह सिद्धू पर उन्होंने कहा कि बातचीत चल रही है। वो जल्द ही कांग्रेस प्रमुख से चाय पर मिलेंगे।

हिन्दुस्थान समाचार

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...
Booking.com
Booking.com
Booking.com
Booking.com