1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. Corona: ब्रिटेन से सीधे कोलकाता आने वाली उड़ानों पर बंगाल सरकार ने लगाई रोक

Corona: ब्रिटेन से सीधे कोलकाता आने वाली उड़ानों पर बंगाल सरकार ने लगाई रोक

राज्य सरकार ने कहा है कि एयरलाइंस कंपनियां अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट से आने वाले लोगों में से 10 फीसदी यात्रियों को रेंडमली RT-PCR जांच के लिए चयन करेगी और बाकी 90 फ़ीसदी यात्रियों को आगमन पर हवाई अड्डे पर ही अपने खर्चे पर रैपिड एंटीजन टेस्ट कराना होगा।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

कोलकाता, 23 दिसंबर। पश्चिम बंगाल सरकार ने ब्रिटेन से कोलकाता आने वाली सीधी उड़ानों पर 3 जनवरी से अगले आदेश तक अस्थाई रूप से निलंबित करने का फैसला किया है। गुरुवार को राज्य सचिवालय ने एक अधिसूचना जारी ये जानकारी दी है।

पढ़ें :- North Korea : उत्तर कोरिया में अज्ञात बुखार का कहर, 17,400 नए मरीज, 21 की मौत

यात्रियों को अपने खर्चे से कराना होगा RTPCR टेस्ट

जानकारी के मुताबिक राज्य सरकार ने इस संबंध में एक पत्र भी केंद्रीय विमानन मंत्रालय को भेजा है। जिसमें बताया गया है कि ब्रिटेन के अलावा बाकी गैर जोखिम वाले देशों से अंतरराष्ट्रीय उड़ानों से पश्चिम बंगाल आने वाले सभी यात्रियों को एयरपोर्ट पर ही अपने खर्चे से अनिवार्य रूप से कोरोना जांच करानी होगी। राज्य सरकार ने कहा है कि एयरलाइंस कंपनियां अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट से आने वाले लोगों में से 10 फीसदी यात्रियों को रेंडमली RT-PCR जांच के लिए चयन करेगी और बाकी 90 फ़ीसदी यात्रियों को आगमन पर हवाई अड्डे पर ही अपने खर्चे पर रैपिड एंटीजन टेस्ट कराना होगा। पॉजिटिव रिपोर्ट वाले यात्रियों को अनिवार्य रूप से अस्पताल में भर्ती होना होगा। इसके अलावा निगेटिव रिपोर्ट वाले यात्रियों को भी अनिवार्य रूप से होम आइसोलेशन में रहेंगे और 8 दिन के बाद स्वास्थ्य अधिकारियों के निर्देशानुसार फिर से RTPCR जांच कराएंगे।

गौरतलब है कि एक दिन पहले ही पश्चिम बंगाल सरकार ने इसी तरह की अधिसूचना जारी कर विदेशों से लौटने वालों के लिए 22 दिन तक आइसोलेशन में रहना अनिवार्य कर दिया था। ये भी कहा गया था कि इन 22 दिन के दौरान पहले 8 दिन बाद RTPCR जांच करानी होगी। उसकी रिपोर्ट निगेटिव आने पर भी अगले 14 दिन तक क्वारंटाइन में रहना ही होगा।

आपको बतादें कि बंगाल में कोरोना का संक्रमण काफी तेज फैल रहा है। साथ कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन पीड़ितों की संख्या भी तेजी से बढ़ रही है। राज्य में अब तक 11 से ज्यादा लोग ओमिक्रॉन संक्रमित हो चुके हैं। गुरुवार शाम तक 24 घंटे के दौरान राज्य के विधायक तपस रॉय, मेयर परिषद के सदस्य सपन समादार, चार नंबर बोरो की चेयरमैन साधना बसु और देवाशीष बसु भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इसके साथ ही मेयर फिरहाद हकीम के दफ्तर में डाटाएंट्री का काम करने वाले कर्मचारी समेत दो कर्मी भी पॉजिटिव पाए गए हैं।

पढ़ें :- WHO ने कहा- यूरोप में समाप्ति की ओर बढ़ रहा कोरोना, सीमाओं को खोलने की तैयारी में न्यूजीलैंड

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार को गंगासागर से लौटते समय ब्रिटेन से आने वाली सीधी उड़ानों को लेकर सवाल उठाते हुए कहा था कि फ्लाइट से आने वाले लोगों में ओमिक्रॉन संक्रमण की पुष्टि हो रही है। इसलिए केंद्र को इन उड़ानों को रोकने के बारे में सोचना चाहिए। बनर्जी के इस बयान के चंद घंटे बाद ही राज्य सरकार ने ब्रिटेन से सीधे कोलकाता आने वाली उड़ानों पर अस्थाई रोक लगा दी है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...