1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. यूपी में होली से पहले कोरोना संक्रमण में उछाल, 1,032 नये मामलों ने बढ़ाई स्वास्थ्य महकमे की चिंता

यूपी में होली से पहले कोरोना संक्रमण में उछाल, 1,032 नये मामलों ने बढ़ाई स्वास्थ्य महकमे की चिंता

प्रदेश में करीब तीन महीने बाद कोरोना संक्रमण के नये मामलों की संख्या एक दिन में हजार के पार पहुंच गई है। होली के पहले संक्रमण का ग्राफ अचानक ऊपर जाने से स्वास्थ्य महकमे की चुनौती बढ़ गई है। नये मामलोें में इजाफे की वजह से अब रिकवरी की दर में भी गिरावट दर्ज की गई है। राज्य में पिछले चौबीस घंटे में कोरोना संक्रमण के 1,032 नये मामले सामने आये हैं।

By Team India Voice 
Updated Date

लखनऊ। प्रदेश में करीब तीन महीने बाद कोरोना संक्रमण के नये मामलों की संख्या एक दिन में हजार के पार पहुंच गई है। होली के पहले संक्रमण का ग्राफ अचानक ऊपर जाने से स्वास्थ्य महकमे की चुनौती बढ़ गई है। नये मामलोें में इजाफे की वजह से अब रिकवरी की दर में भी गिरावट दर्ज की गई है। राज्य में पिछले चौबीस घंटे में कोरोना संक्रमण के 1,032 नये मामले सामने आये हैं। इस वजह से सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 5,824 हो गई है। संक्रमण से अब तक 8,779 लोगों की मृत्यु हुई है। राज्य में कोरोना से रिकवरी दर 97.6 प्रतिशत चल रही है, जो कि कुछ दिनों पहले तक 98.25 प्रतिशत थी।

अपर मुख्य सचिव, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने शुक्रवार को बताया कि राज्य में कल एक दिन में कुल 1,44,839 सैम्पल की जांच की गयी। इनमें 71,500 से अधिक जांच आरटीपीसीआर से की गई। वहीं, प्रदेश में अब तक कुल 3,42,60,584 सैम्पल की जांच की गयी है। प्रदेश में कोरोना के कुल सक्रिय मामलों में से 3,388 लोग होम आइसोलेशन और 134 मरीज निजी चिकित्सालयों में भर्ती हैं। शेष मरीज सरकारी अस्पतालों में अपना इलाज करा रहे हैं।

उन्होंने बताया कि प्रदेश में अब तक 5,96,698 लोग कोविड-19 से ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं। राज्य में संक्रमण बढ़ने पर सर्विलांस के कार्य में भी तेजी लाई गई है। प्रदेश में सर्विलांस टीम के माध्यम से 1,87,516 क्षेत्रों में 5,14,343 टीम दिवस के माध्यम से 3,15,79,824 घरों के 15,32,79,450 जनसंख्या का सर्वेक्षण किया गया है।

अपर मुख्य सचिव, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य ने बताया कि प्रदेश में कोरोना टीकाकरण का कार्य जारी है। अगले महीने 01 अप्रैल से 45 से अधिक उम्र के सभी लोगों का टीकाकरण शुरू कर दिया जाएगा। अब तक 43,92,802 व्यक्तियों को वैक्सीन की पहली डोज दी जा चुकी है। वहीं, 10,09,111 लोग दूसरी डोज भी लगा चुके हैं। इस तरह 54,01,913 लोगों को वैक्सीन की डोज दी जा चुकी है। उन्होंने कहा कि कुछ स्वास्थ्य केंद्रों को हेल्थ ऐंड वेलनेस केंद्रों के रूप में अपग्रेड किया गया है, इनमें से कुछ में अप्रैल के महीने से कोरोना टीकाकरण का कार्य प्रारंभ हो जाएगा।

अपर मुख्य सचिव, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य ने कहा कि कुछ लोगों में टीकाकरण कराने के बाद भी संक्रमण पाया गया है। लेकिन, यह अहम है कि ऐसे लोगों में ज्यादा गम्भीर संक्रमण नहीं होगा। इसलिए लोग किसी प्रकार के बहकावे में ना आए और टीकाकरण जरूर कराएं। देश में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर बेहद स्पष्ट देखने को मिल रही है। कल ही 59,000 से ज्यादा मामले एक दिन में सामने आये। हमारे राज्य में भी संक्रमण बढ़ा है। इसलिए टीकाकरण जरूर करवाएं। केन्द्र सरकार की नई एडवाइजरी के मुताबिक दूसरी डोज के छह से आठ सप्ताह के बीच लगाने पर ज्यादा प्रभाव देखने को मिला है। इसलिए अब दूसरी डोज छह सप्ताह के बाद दी जाएगी। यदि लोग चाहें तो चार सप्ताह के बाद इच्छानुसार इसे लगवा सकते हैं।

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
India Voice Ads
X