1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. सिर्फ आम जनता को जकड़ रहा कोरोना, राजनेता नहीं कर रहे कोविड नियमो का पालन

सिर्फ आम जनता को जकड़ रहा कोरोना, राजनेता नहीं कर रहे कोविड नियमो का पालन

कोरोना महामारी ने प्रचंड रूप ले रखा है कोरोना के कहर के कारण आए दिन नई गाइडलाइन जारी की जा रही है। वही कई जगह लॉकडाउन दोबारा शुरू कर दिया गया है।जहां एक तरफ कोरोना वैक्सीनेशन करने कबाद भी बड़े दोबारा कोरोना महामारी जकड़ रही है वही हमारे देश के बड़े राजनेताओं को कोरोना महामारी ने आश्वासन दे दिया कि आप हर नियम का उल्लंघन करिए आपको कुछ नहीं होगा । 

By Team India Voice 
Updated Date

 नई दिल्ली: कोरोना महामारी ने प्रचंड रूप ले रखा है कोरोना के कहर के कारण आए दिन नई गाइडलाइन जारी की जा रही है। वहीं कई जगह लॉकडाउन दोबारा शुरू कर दिया गया है।जहां एक तरफ कोरोना वैक्सीनेशन करने के बाद भी दोबारा कोरोना महामारी जकड़ रही है वही हमारे देश के बड़े राजनेताओं को कोरोना महामारी ने आश्वासन दे दिया कि आप हर नियम का उल्लंघन करिए आपको कुछ नहीं होगा।

पढ़ें :- News Bulletin : रहना चाहते हैं 'अप टू डेट' तो कम शब्दों में पढ़ें सुबह की 5 बड़ी ख़बरें

दरअसल, ये बात हम इस लिए कह रहें हैं क्योंकि बीते दिन यूपी के डिप्टी सीएम ने लखनऊ के जीडी गोयनका पब्लिक स्कूल में कोरोना गाइडलाइन के नियमो का उल्लंघन किया। वो कई शिक्षकों के बीच बिना मास्क के नजर आए और ये तस्वीर उन्होने अपने ट्वीट पर भी शेयर की है।

कांग्रेस सोशल मीडिया विभाग की वाइस चेयरमैन पंखुड़ी पाठक और प्रदीप माथुर मथुरा में सोशल मीडिया अभियान की शुरुआत की, और इस इवेंट के दौरान दोनों ने महामारी के नियम को ताक पर रखा और दोनों नेता बिना किसी मास्क के इंटरव्यू करते नजर आए। आपको बता दें, भाजपा की नीतियों पर हमला बोलने वाली पंखुड़ी पाठक को भी कोरोना जैसी गंभर बीमारी से कोई डर नजर नहीं आ रहा।

पढ़ें :- News Bulletin : रहना चाहते हैं 'अप टू डेट' तो कम शब्दों में पढ़ें सुबह की 5 बड़ी ख़बरें

वहीं दूसरी तरफ बीजेपी नेता गृह मंत्री अमित शाह चुनावी रैली के बीच आए दिन नए नए वादे करते नजर आ रहें हैं। लेकिन बड़ी बड़ी लोगों की भीड़ से भरी रैली में बिना मास्क के नजर आ रहें हैं उनके पास भी किसी प्रकार का मास्क नजर नई आ रहा।

इसकी तस्वीरें भी सोशल मीडिया पर देखी जा सकतीं हैं। इस लिए हम ये बात कह रहें हैं कि ये कोरोना बड़ा बेवफा है सिर्फ जनता को नियमो और मास्क में बांध कर रखता है और राजनेताओं को बिना मास्क आजादी से घूमने की आजादी देता है। या ये कोरोना सिर्फ आम आदमी के लिए है? या किसी चुनावी रैली से खौफ खाता है ये कोरोना?

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...