1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. Corona New Variant: कोरोना के नए वेरियंट को लेकर केंद्र सरकार ने राज्यों को किया आगाह

Corona New Variant: कोरोना के नए वेरियंट को लेकर केंद्र सरकार ने राज्यों को किया आगाह

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को लिखे पत्र में बताया कि वोत्सवाना, दक्षिण अफ्रीका और हांगकांग में कोरोना वेरियंट बी.1.1529 के कई मामले सामने आए हैं।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

नई दिल्ली, 26 नवंबर। दुनिया में कोरोना के नए वेरियंट आने के साथ ही केंद्र सरकार हरकत में आ गई है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना के एक नए वेरियंट को लेकर सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को आगाह किया है। गुरुवार को केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के अतिरिक्त मुख्य सचिव, प्रधान सचिव, स्वास्थ्य सचिवों को हिदायत देते हुए कोरोना वेरियंट बी.1.1529 को लेकर पत्र लिखा है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को लिखा है कि दुनिया के कई देशों में कोरोना वेरिएंट बी.1.1529 के कई मामले सामने आए हैं जिससे हमें काफी सतर्क रहने की जरूरत है।

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को लिखे पत्र में बताया कि वोत्सवाना, दक्षिण अफ्रीका और हांगकांग में कोरोना वेरियंट बी.1.1529 के कई मामले सामने आए हैं। उन्होंने कहा कि बोत्सवाना में कोरोना वेरियंट बी.1.1529 के 3 मामले सामने आ चुके हैं, वहीं दक्षिण अफ्रीका में इस वेरियंट के 6 मामले मिले हैं। जबकि हांगकांग में कोरोना वेरियंट बी.1.1529 का 1 मामला सामने आया है। नेशनल सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल (NCDC) की ओर से नए वेरियंट के बारे में रिपोर्ट किया गया है।

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने विदेशों से आने वाले सभी यात्रियों को लेकर विशेष चिंता जाहिर की है। उन्होंने कहा कि सभी राज्य विदेशों से आने वाले यात्रियों की टेस्टिंग को लेकर खास ध्यान दें। उन्होंने कहा कि बोत्सवाना, दक्षिण अफ्रीका और हांगकांग से भारत आने वाले यात्रियों को लेकर खासकर विशेष ध्यान देने की जरुरत है। क्योंकि इन देश से आने वाले लोग स्वास्थ्य के लिहाज से खतरा साबित हो सकते हैं। ऐसे में इन देशों से आ रहे यात्रियों की सही तरीके से टेस्टिंग और स्क्रीनिंग की जरुरत है। साथ ही हाल में जारी रिवाइज्ड गाइडलाइंस का पालन भी जरुरी है। इसके साथ ही अंतरराष्ट्रीय यात्रियों और उनके संपर्क में आए लोगों की भी स्क्रीनिंग और जांच कड़ाई से होना चाहिए।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
India Voice Ads
X