1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. Corona Vaccination: 3 जनवरी से शुरू होगा 15 से 18 साल के बच्चों का टीकाकरण- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

Corona Vaccination: 3 जनवरी से शुरू होगा 15 से 18 साल के बच्चों का टीकाकरण- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

15 से 18 साल के बच्चों को 3 जनवरी और मेडिकल स्टाफ, कोरोना योद्धाओं और कोमोरबिडिटी बुजुर्गों को 10 जनवरी से कोरोना की डोज दी जाएगी।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

नई दिल्ली, 25 दिसंबर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती पर कोरोना के खिलाफ लड़ाई में एक और पहल की शुरुआत की है। जिसमें बच्चों को वैक्सीन और मेडिकल स्टाफ, कोरोना योद्धाओं और 60 साल से ऊपर उम्र के कोमोरबिडिटी (बीमारियों से ग्रस्त) लोगों को डॉक्टर की सलाह पर एहतियाती खुराक (प्रिकॉशनरी डोज) दिए जाने की घोषणा की है। 15 से 18 साल के बच्चों को 3 जनवरी से और मेडिकल स्टाफ कोरोना योद्धाओं और कोमोरबिड बुजुर्गों को 10 जनवरी से कोरोना की डोज दी जाएगी।

पढ़ें :- Jharkhand : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देवघर एयरपोर्ट और एम्स का किया उद्घाटन, एयरपोर्ट से कई शहरों के लिए सेवाएं जल्द

कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन से सचेत रहें- पीएम मोदी

पढ़ें :- Jharkhand : प्रधानमंत्री मोदी का कल देवघर दौरा, 5000 जवान संभालेंगे सुरक्षा व्यवस्था, ड्रोन कैमरे से भी रखी जाएगी नजर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन से सचेत रहने के साथ ही इस दिशा में सरकार की ओर से उठाए गए तमाम कदमों की जानकारी दी। साथ ही कोरोना के खिलाफ लड़ाई को मजबूत करने की दिशा में लिए गए फैसलों की घोषणा की।

3 जनवरी से बच्चों को वैक्सीनेशन की डोज

प्रधानमंत्री ने कहा कि “15 से 18 साल की उम्र के बच्चों के लिए अब देश में वैक्सीनेशन शुरू होगा। 2022 में 3 जनवरी को सोमवार के दिन से बच्चों के लिए वैक्सीनेशन की शुरुआत की जाएगी।”

कोरोना वॉरियर्स, हेल्थकेयर-फ्रंटलाइन वर्कर्स को प्रिकॉशनरी डोज

पीएम मोदी ने कहा कि हम सबका अनुभव है कि जो कोरोना वॉरियर्स, हेल्थकेयर और फ्रंटलाइन वर्कर्स हैं, इस लड़ाई में देश को सुरक्षित रखने में उनका बहुत बड़ा योगदान है। वो आज भी कोरोना के मरीजों की सेवा में अपना समय बिताते हैं। इसलिए एहतियात की दृष्टि से सरकार ने फैसला लिया है कि हेल्थकेयर और फ्रंटलाइन वर्कर्स को वैक्सीन की प्रिकॉशनरी डोज भी शुरू की जाएगी। इसकी शुरुआत 2022 में 10 जनवरी से की जाएगी।

कोमोरबिडिटी नागरिकों को डॉ. की सलाह पर प्रिकॉशनरी डोज

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि अब 60 साल से ऊपर की आयु के कोमोरबिडिटी वाले नागरिकों को उनके डॉक्टर की सलाह पर वैक्सीन की प्रिकॉशनरी डोज का विकल्प मुहैया होगा।

ओमिक्रॉन संक्रमित लोग घबराएं नहीं सतर्क रहें- पीएम

पीएम मोदी ने कहा कि भारत में भी कई लोग ओमिक्रॉन से संक्रमित हुए हैं। वो सभी से आग्रह करते हैं कि घबराएं नहीं, सावधान और सतर्क रहें। मास्क पहने और हाथों को थोड़ी-थोड़ी देर पर धोने जैसी बातों को याद रखें। उन्होंने कहा कि कोरोना वैश्विक महामारी से लड़ाई का अब तक का अनुभव ये ही बताता है कि व्यक्तिगत स्तर पर सभी दिशा-निर्देशों का पालन करें जो कि कोरोना से मुकाबले का बहुत बड़ा और कारगर हथियार है। और कोरोना के खिलाफ दूसरा हथियार वैक्सिनेशन है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज भारत की वयस्क जनसंख्या में से 61 प्रतिशत से ज्यादा जनसंख्या को वैक्सीन की दोनों डोज लग चुकी है। इसी तरह वयस्क जनसंख्या में से करीब 90 फीसदी लोगों को वैक्सीनेशन की एक डोज लगाई जा चुकी है।

और पढ़ें:

Omicron: मुंबई में दुबई से आने वाले यात्रियों के लिए 7 दिन का होम क्वारंटाइन अनिवार्य

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...