1. हिन्दी समाचार
  2. दुनिया
  3. अमेरिका में तबाही मचाने के बाद कनाडा पहुंचा चक्रवात, अंधेरे में लाखों घर

अमेरिका में तबाही मचाने के बाद कनाडा पहुंचा चक्रवात, अंधेरे में लाखों घर

राष्ट्रपति जो बाइडन ने केंटुकी में आपदा की घोषणा पर मुहर लगाते हुए कहा कि ये देश के इतिहास के भीषण चक्रवातों में से एक है। वो पर्यावरण संरक्षण एजेंसी से ये पता लगाने को कहेंगे कि इतना भीषण चक्रवात आया कैसे। उन्होंने चक्रवात चेतावनी प्रणाली पर भी सवाल उठाए।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

ओटावा /वाशिंटन 13 दिसंबर। अमेरिका में आए सबसे बड़े और लंबे चक्रवात से भारी नुकसान के बाद अब चक्रवात कनाडा पहुंच गया है। ओंटारियो प्रांत के उत्तरी, मध्य और पूर्वी क्षेत्रों में बिजली आपूर्ति व्यवस्था चरमरा गई और 2.80 लाख घर-प्रतिष्ठान अंधेरे में डूब गए है। प्रांत के करीब 14 लाख लोगों को बिजली आपूर्ति करने वाली कंपनी हाइड्रो वन का कहना है कि कुछ और इलाकों में बिजली आपूर्ति बाधित हो सकती है। पर्यावरण और जलवायु परिवर्तन विभाग ने बताया कि तूफान की रफ्तार 120 किलोमीटर प्रति घंटे रही।

पढ़ें :- भारत सरकार ने कनाडा जाने वाले स्टूडेंट्स के लिए जारी किया अलर्ट, कहा- सतर्क रहें

चक्रवात से अमेरिका के केंटुकी प्रांत में सबसे ज्यादा नुकसान

चक्रवात से अमेरिका के केंटुकी प्रांत में सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है। वहां 100 से ज्यादा लोगों के मरने की ख़बर है। मेफील्ड में मोमबत्ती फैक्टरी पूरी तरह ध्वस्त हो गई, जबकि थानों को भी काफी नुकसान पहुंचा है। पड़ोसी मिसौरी में एक नर्सिगहोम ध्वस्त हो गया, जबकि इलिनोइस स्थित अमेजन के वेयरहाउस के 6 कर्मचारी मारे गए। गवर्नर एंडी ने कहा कि इतिहास में चक्रवात के कारण इतनी बर्बादी कभी नहीं।

अमेरिकी इतिहास का सबसे लंबा चक्रवात

अर्कसास, मिसिसिप्पी, इलिनोइस, केंटुकी, टेनेसी और मिसौरी प्रांतों में कुछ ही अंतराल पर 30 चक्रवात गुजरे। इसने केंटुकी के 350 किलोमीटर से ज्यादा बड़े इलाके को नुकसान पहुंचाया। अमेरिकी इतिहास का ये सबसे लंबा चक्रवात माना जा रहा है।

पढ़ें :- Canada News:कनाडा के सैसकेचवेन जिले में चाकूबाजी से 10 लोगों की मौत, 15 घायल

वहीं राष्ट्रपति जो बाइडन ने केंटुकी में आपदा की घोषणा पर मुहर लगाते हुए शनिवार को कहा कि ये देश के इतिहास के भीषण चक्रवातों में से एक है। वो पर्यावरण संरक्षण एजेंसी से ये पता लगाने को कहेंगे कि इतना भीषण चक्रवात आया कैसे। उन्होंने चक्रवात चेतावनी प्रणाली पर भी सवाल उठाए।

और पढ़ें:

केजरीवाल ने बताया दिल्ली में कब लगेगा लॉकडाउन

पढ़ें :- कनाडा के टोरंटो में सड़क हादसा, 5 भारतीय छात्रों की मौत, विदेश मंत्री ने जताया शोक
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...