1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. पंचकूला पहुंचे बिहार के बाद अब MP के ADGP, डायल 112 के हुए मुरीद

पंचकूला पहुंचे बिहार के बाद अब MP के ADGP, डायल 112 के हुए मुरीद

हरियाणा के डीजीपी प्रशांत कुमार अग्रवाल ने एसके झा को बताया कि राज्य सरकार के सहयोग से शुरू की गई 112 सेवा का मुख्य उद्देश्य प्रदेश में कहीं भी 24 घंटे बिना किसी देरी के जरुरतमंदों को सुरक्षा और आपातकालीन सेवाएं देना है।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

पंचकूला, 13 सितंबर। हरियाणा पुलिस का डायल 112 ERSS देश में रोल मॉडल बनता जा रहा है। कई राज्यों से वरिष्ठ पुलिस अधिकारी इमरजेंसी रिस्पांस र्स्पोट सिस्टम (ERSS) का अध्ययन करने के लिए हरियाणा 112 परियोजना का दौरा कर रहे हैं। इसी कडी में सोमवार को मध्यप्रदेश के एडीजीपी एसके झा ने भी हरियाणा 112 की कार्यशैली को जानने के लिए प्रदेश का दौरा किया। इससे पहले बिहार पुलिस के अधिकारियों ने भी ERSS को समझने के लिए दौरा किया था।

पढ़ें :- Haryana : आय से अधिक संपत्ति मामले में पूर्व सीएम ओमप्रकाश चौटाला दोषी करार, 26 मई को सजा पर फैसला

हरियाणा पुलिस की ओर से नागरिकों को 24 घंटे से कम समय में पुलिस सहायता पहुंचाने के उद्देश्य से शुरू की गई ऐतिहासिक पहल हरियाणा 112 ने थोड़े ही समय में आम लोगों के बीच अपनी अलग पहचान बनाई है। एसके झा ने पुलिस मुख्यालय पहुंच कर हरियाणा के पुलिस महानिदेशक प्रशांत कुमार अग्रवाल से शिष्टाचार मुलाकात की। ADGP दूरसंचार और IT हरियाणा एएस चावला, एडीजीपी (लॉ एंड ऑर्डर) नवदीप सिंह विर्क, एसपी ईआरएसएस उदय सिंह मीणा भी मौजूद थे।

इस मौके पर डीजीपी अग्रवाल ने एसके झा को बताया कि राज्य सरकार के सहयोग से शुरू की गई 112 सेवा का मुख्य उद्देश्य प्रदेश में कहीं भी 24 घंटे बिना किसी देरी के जरुरतमंदों को सुरक्षा और आपातकालीन सेवाएं देना है। 600 से अधिक इआरवी वाहनों के जरिए से इसे संचालित किया जा रहा है। एसके झा ने पंचकुला में स्टेट इमरजेंसी रिस्पॉन्स सेंटर का दौरा कर हरियाणा 112 की कार्य प्रणाली के बारे में जानकारी हासिल करते हुए इसके सफल कार्यान्वयन की भी सराहना की। इस दौरान एएस चावला जो कि हरियाणा 112 परियोजना के नोडल अधिकारी भी हैं, ने विस्तार से 112 परियोजना की कार्यप्रणाली के बारे में उन्हें जानकारी दी। हाल ही में बिहार पुलिस से भी 7 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने इस परियोजना का दौरा कर सराहना की थी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...