1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तराखंड
  3. उत्तराखंड : डीएम ने किया धान क्रय केन्द्र का औचक निरीक्षण !

उत्तराखंड : डीएम ने किया धान क्रय केन्द्र का औचक निरीक्षण !

क्रय केन्द्र में रखे धान के अलग-अलग बोरों से धान निकालकर देखा और धान क्रय केन्द्र प्रभारी से धान में नमी के सम्बन्ध में जानकारी ली।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

हरिद्वार, 30 अक्टूबर। जिलाधिकारी विनय शंकर पाण्डेय ने शनिवार को राजकीय धान क्रय केन्द्र ज्वालापुर का औचक निरीक्षण किया।राजकीय धान क्रय केन्द्र ज्वालापुर परिसर पहुंचने पर जिलाधिकारी ने सबसे पहले धान क्रय केन्द्र में रखे धान के अलग-अलग बोरों से धान निकालकर देखा और धान क्रय केन्द्र प्रभारी से धान में नमी के सम्बन्ध में जानकारी ली।

पढ़ें :- तीन घेरों की सुरक्षा में बंद हुईं ईवीएम

इसके पश्चात जिलाधिकारी उस स्थान पर पहुंचे जहां पर धान के बोरों की तौल होती है। उन्होंने धान तौलने वाले कांटे की भी जांच की। इसके बाद जिलाधिकारी ने पूरे गोदाम का निरीक्षण किया तथा केन्द्र प्रभारी से धान के बोरों की उपलब्धता के सम्बन्ध में भी जानकारी ली। विनय शंकर पाण्डे निरीक्षण करते हुए उस स्थान पर पहुंचे, जहां धान की नमी मापक यंत्र रखा हुआ था।

उन्होंने निर्देश दिये कि धान में कितनी नमी है, इसे मापकर दिखायें। इस पर धान क्रय केन्द्र में तैनात कर्मचारी ने बिक्री के लिए आये हुए धान के बोरे से धान निकाल कर नमी मापक यंत्र में डालकर धान में नमी की मात्रा कितनी है, को जिलाधिकारी को दिखाया। धान क्रय केन्द्र पर गैंडीखाता के किसान स्वर्ण सिंह ट्रैक्टर ट्राली से धान विक्रय हेतु लेकर आये थे, उनसे जिलाधिकारी ने पूछा कि धान तौलाई आदि में कोई समस्या तो नहीं है, स्वर्ण सिंह ने कहा कि पहले से टाइम लेकर हम लोग धान क्रय केन्द्र पर आ रहे हैं तथा कोई दिक्कत नहीं है।

जिलाधिकारी को धान क्रय केन्द्र प्रभारी ने बताया कि अब तक 1623 कुन्तल धान की खरीद की जा चुकी है। धान खरीदने पर किसानों को भुगतान उसी दिन चेक के माध्यम से किया जा रहा है तथा किसानों को धान की खरीद पर, भुगतान के लिये, पर्याप्त धनराशि उपलब्ध है। विनय शंकर ने धान क्रय केन्द्र के कार्यालय का भी निरीक्षण किया तथा वहां रखे गये स्टॉक रजिस्टर आदि की भी जांच की।

पत्रकारों से वार्ता करते हुए जिलाधिकारी ने बताया कि धान क्रय केन्द्र पर व्यवस्थाएं सुचारू रूप से पायी गयी। उन्होंने कहा कि धान क्रय केन्द्र पर आने वाले किसानों को यदि धान क्रय आदि संबंधी कोई समस्या आती है, तो प्रत्येक धान क्रय केन्द्र पर एक नम्बर प्रदर्शित किया गया है, किसान उस नम्बर पर तत्काल सूचना दे सकते हैं।

पढ़ें :- मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अवर अभियंता के पद पर चयनित अभ्यर्थियों को जारी किए नियुक्ति पत्र

जिलाधिकारी विनय ने कहा कि प्रत्येक धान क्रय केन्द्र हेतु एक नोडल अधिकारी की नियुक्ति की गयी है। नोडल अधिकारी को निर्देश दिये गये हैं कि वे प्रत्येक दिन कम से कम एक बार धान क्रय केन्द्रों का औचक निरीक्षण अवश्य करें तथा निरीक्षण के लिये कितने बजे आये, कितने बजे प्रस्थान किया तथा धान क्रय केन्द्र पर पायी गयी व्यवस्थाओं के सम्बन्ध में अपनी टिप्पणी रखे गये रजिस्टर में अंकित करें।

इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी (वित्त एवं राजस्व) वीर सिंह बुदियाल सहित सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित थे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...