1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. दिल्ली में फर्जी दस्तावेज पर बैंक से करोड़ों की ठगी, आरोपित गिरफ्तार

दिल्ली में फर्जी दस्तावेज पर बैंक से करोड़ों की ठगी, आरोपित गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस ने फर्जी दस्तावेजों के आधार पर लोन लेकर बैंक से ठगी करने वाले आरोपी को गिरफ्तार किया है।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

नई दिल्ली, 30 सितंबर। दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने फर्जी दस्तावेजों पर लोन लेकर बैंक से ठगी करने वाले एक जालसाज को गिरफ्तार किया है। आरोपित की पहचान नोएडा निवासी धीरेंद्र कुमार यादव के रूप में हुई है। आर्थिक अपराध शाखा में एक साल पहले दर्ज हुए मामले में पुलिस को उसकी तलाश थी, अब तक वह कई बैंक से करोड़ों रुपये की ठगी को अंजाम दे चुका था।

आर्थिक अपराध शाखा के अतिरिक्त आयुक्त आरके सिंह ने गुरुवार को बताया कि मयूर विहार स्थित फेडरल बैंक में पांच करोड़ रुपये के क्रेडिट फैसिलिटी के लिए बालाजी ट्रेडिंग कंपनी द्वारा आवेदन दिया गया था। कपड़ा कारोबारी धीरेंद्र कुमार यादव की तरफ से यह लोन एप्लीकेशन आई थी। इसके लिए उसने अपनी सेक्टर-15 नोएडा स्थित एक प्रॉपर्टी को गिरवी रखने की बात कही थी।

वर्ष 2017 में यह लोन उसे दिया गया था, लेकिन उसने लोन की किश्त नहीं चुकाई, जिसकी वजह से 2018 में यह खाता एनपीए घोषित हो गया। इसके बाद जब बैंक ने लोन के लिए जमा कराए गए दस्तावेजों की जांच की तो पता चला कि इस संपत्ति को गिरवी रखने की अनुमति नोएडा प्रशासन द्वारा नहीं दी गई थी।

आरोपित ने यह पत्र फर्जी बनाकर जमा करवाया था। प्राथमिक जांच में पुलिस टीम को पता चला कि आरोपित ने फर्जी दस्तावेज जमा कराकर यह लोन लिया था। बैंक और नोएडा अथॉरिटी से इस फर्जीवाड़े से संबंधित असली दस्तावेज मांगे गए।

पुलिस को पता चला कि आरोपित पहले ही नोएडा स्थित अपना कारोबार समेटकर फरार हो चुका है। इसके बाद से पुलिस टीम लगातार उसकी तलाश कर रही थी। पुलिस को यह भी पता चला कि दिल्ली के करोल बाग में भी उसका कपड़ों का कारोबार था। उसने कई बैंक से फर्जी दस्तावेजों पर लोन लिए थे। वह लोन की रकम नोएडा और ग्रेटर नोएडा में प्रॉपर्टी में इन्वेस्ट करता था। उसने कई बैंकों से इस तरह की ठगी की थी।

टेक्निकल सर्विलांस की मदद से पुलिस टीम को पता चला कि वह सरोजनी नगर मार्केट में आने वाला है। इस जानकारी पर पुलिस टीम ने सरोजनी नगर पार्किंग के पास से उसे पकड़ लिया। आरोपित कार में बैठकर अपने एक मित्र का इंतजार कर रहा था। पुलिस का मानना है कि उसकी गिरफ्तारी से बैंक के साथ होने वाली ठगी की घटनाओं को रोका जा सकेगा।
हिन्दुस्थान समाचार

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
India Voice Ads
X