1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. फिक्की ने वित्त वर्ष 2021-22 में GDP का 9.1% वृद्धि दर का अनुमान जताया

फिक्की ने वित्त वर्ष 2021-22 में GDP का 9.1% वृद्धि दर का अनुमान जताया

उद्योग मंडल फिक्की ने गुरुवार को कहा कि कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर के बाद अब आर्थिक सुधार अपनी पकड़ मजबूत करता दिखाई दे रहा है।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

नई दिल्ली, 08 अक्टूबर। भारतीय वाणिज्य और उद्योग महासंघ (फिक्की) ने वित्त वर्ष 2021-22 में भारत के सकल घरेलू उत्पाद (GDP) के 9.1 फीसदी की दर से बढ़ने का उम्मीद जताई है। उद्योग मंडल फिक्की ने गुरुवार को कहा कि कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर के बाद अब आर्थिक सुधार अपनी पकड़ मजबूत करता दिखाई दे रहा है।

पढ़ें :- Petrol-Diesel Rate: यूपी में पेट्रोल-डीजल के रेट जारी, जानें आपके शहर में तेल सस्ता या महंगा

फिक्की ने अपने आर्थिक परिदृश्य सर्वेक्षण में देश का विकास दर 9.1 फीसदी की दर से बढ़ने की उम्मीद जताई है। उद्योग मंडल ने ये भी कहा कि मौजूदा त्योहारी सीजन में रफ्तार को समर्थन मिलेगा। हालांकि, उद्योग संघ ने आगाह किया कि दिवाली के दौरान लोगों की आवाजाही बढ़ने के चलते कोविड-19 के मामलों में बढ़ोतरी हो सकती है।

उद्योग मंडल ने जारी बयान में कहा कि ‘फिक्की के आर्थिक परिदृश्य सर्वेक्षण के ताजा दौर में वित्त वर्ष 2021-22 के लिए 9.1 फीसदी की वार्षिक औसत GDP वृद्धि दर का अनुमान लगाया गया है, जबकि पिछले सर्वेक्षण जुलाई, 2021 में 9 फीसदी की आर्थिक वृद्धि दर का अनुमान जताया गया था। फिक्की का मानना है कि मानसूनी बारिश में तेजी और खरीफ फसलों के रकबे में बढ़ोतरी से कृषि क्षेत्र में वृद्धि की उम्मीदें बरकरार हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...