1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. किसान आंदोलन नहीं, गदर मचा रहे हैं- अनिल विज

किसान आंदोलन नहीं, गदर मचा रहे हैं- अनिल विज

अनिल विज ने कहा कि किसानों के आंदोलन में लोग तलवारें लेकर नहीं आते हैं। आंदोलन में लोग लाठियां नहीं मारते, ना ही आंदोलन में लोग आने-जाने वालों का रास्ता रोकते। किसी भी सूरत में किसानों के इस व्यवहार को आंदोलन का रूप नहीं कहा जा सकता।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

चंडीगढ, 14 सितंबर। दिल्ली की सीमा पर अब किसान आंदोलन नहीं, बल्कि गदर कर रहे हैं। ये कहना है हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज का, विज ने कहा कि किसानों के आंदोलन में लोग तलवारें लेकर नहीं आते हैं। आंदोलन में लोग लाठियां नहीं मारते, ना ही आंदोलन में लोग आने-जाने वालों का रास्ता रोकते। किसी भी सूरत में किसानों के इस व्यवहार को आंदोलन का रूप नहीं कहा जा सकता।

NHRC को सभी जानकारी देंगे- विज

अनिल विज ने मंगलवार रात को जारी अपने बयान में कहा कि ‘‘आंदोलन में तो लोग धरने देते हैं, भूख हड़तालें करते हैं, यहां पर ऐसी-ऐसी घटनाएं हुई हैं कि भूख हड़ताल करके लोगों ने अपनी जिंदगियां दे दी’’। NHRC की ओर से किसान आंदोलन के संबंध में मांगी गई जानकारी के बारे में पूछे गए एक सवाल के उत्तर में विज ने कहा कि किसान आंदोलन के संबंध में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग को हरियाणा सरकार की ओर से सब कुछ बताया जा रहा है। एनएचआरसी ने जो भी जानकारी मांगी हैं हम पूरी जानकारी देंगे। इसके अलावा सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में भी एफिडेविट दाखिल किया है। अनिल विज ने कहा कि उच्चतम न्यायालय के आदेश भी आए हैं कि वहां पर रास्ता दिलाया जाए। उसके लिए हमने 15 सितंबर को मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में उच्च स्तरीय बैठक रखी है और इस संबध में फैसला लिया जाएगा।

विज ने की पंजाब सीएम के बयान की कड़ी निंदा

वहीं पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के आर्थिक नुकसान के संबंध में दिए गए बयान पर अनिल विज ने कहा कि पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह को प्रजातांत्रिक मुख्यमंत्री के तौर पर ये बात नहीं कहनी चाहिए, आपको जो गड़बड़ करनी है वो हरियाणा और दिल्ली में जाकर करो। एक मुख्यमंत्री के तौर पर उनका ये कहना गलत है कि मेरे यहां मत करो, हरियाणा और दिल्ली में जाकर करो। विज ने कहा कि ‘‘ये बहुत ही गैर-जिम्मेदाराना है और इससे यह साबित होता है कि जो आंदोलन खड़ा हुआ है इसके पीछे अमरिंदर सिंह का ही हाथ है। अमरिंदर सिंह ने ही अपनी राजनीतिक महत्वाकांक्षा को पूरा करने के लिए इसे जिंदा रखा हुआ है’’।

विज ने कहा कि हमने उनके (पंजाब के मुख्यमंत्री) बयान का पूरी तरह से खंडन किया है और कहा है कि एक मुख्यमंत्री को इस तरह से नहीं कहना चाहिए कि आप हरियाणा या दिल्ली में करों, इसका मतलब वो हरियाणा और दिल्ली की शांति को भंग करना चाहते हैं।

हिन्दुस्थान समाचार

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
India Voice Ads
X