1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. बिहार के 30 जिलों में बाढ़ से फसलों को भारी नुकसान, 6,45,708.63 हेक्टेयर क्षेत्र में फसल तबाह

बिहार के 30 जिलों में बाढ़ से फसलों को भारी नुकसान, 6,45,708.63 हेक्टेयर क्षेत्र में फसल तबाह

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सभी जिलों के जिलाधिकारियों को बाढ़ और बारिश से हुए नुकसान का ब्योरा देने के निर्देश दिए थे। अब तक 30 जिलों में बाढ़ के कहर से 6 लाख 45 हजार हेक्टेयर से ज्यादा फसल को नुकसान हुआ है।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

पटना, 10 अक्टूबर। बिहार में आई बाढ़ और भारी बारिश से 30 जिलों के 283 प्रखंडों में 6,45,708.63 हेक्टेयर क्षेत्र यानी कुल 33 प्रतिशत से ज्यादा फसलों को नुकसान हुआ है।

पढ़ें :- Bihar : जब भरी क्‍लास में टीचर ने कलेक्‍टर से पूछा- हू आर यू? DM की सादगी के कायल हुए लोग, जानें ऐसा क्या हुआ ?

बतादें कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सभी जिलों के जिलाधिकारियों को जिलों में हुए नुकसान का ब्योरा देने के निर्देश दिए थे। जिसके बाद धीरे-धीरे सभी डीएम ने अपने जिलों में बाढ़-भारी बारिश से हुए नुकसान का ब्योरा भेजना शुरू किया था। अब तक 30 जिलों में बाढ़ के कहर से 6 लाख 45 हजार हेक्टेयर से ज्यादा फसल को नुकसान हुआ है।

बारिश के कारण खरीफ की फसलों को नुकसान

कृषि विभाग के मुताबिक भारी से भारी बारिश और अक्टूबर महीने में लगातार बारिश के कारण खरीफ की फसलों को नुकसान पहुंचा है। जिसका मुआवजा किसानों को जल्द मिल जाएगा। विभाग के मुताबिक इस साल 2021 में बाढ़ और बारिश सहित कई कारणों से फसल नहीं हो पाई।

रिपोर्ट के मुताबिक नुकसान की कुल अनुमानित राशि 875.27 करोड़ रुपये है। इसी तरह कई और कारणों से 17 जिलों में जमीन खाली रह गई। 1,41,227.71 हेक्टेयर क्षति के लिए 96.03 करोड़ रुपये यानी कुल 7,86,936.34 हेक्टेयर क्षति के लिए 971.30 करोड़ क्षति का आंकलन किया गया है। इसी तरह 30 सितंबर 2021 से 04 अक्टूबर 2021 के दौरान राज्य में हुई बारिश से फसलों को हुए नुकसान का भी आंकलन कराया गया है।

पढ़ें :- Bihar : बिहार के पूर्णिया में ट्रक पलटा, 8 मजदूरों की मौत, 5 घायल

वहीं पटना, नालंदा, बेगूसराय, लखीसराय, प. चंपारण और पूर्वी चंपारण में क्षति का आंकलन पूरा हुआ। इन 6 जिलों में 18,067.65 हेक्टेयर क्षेत्र में 33 प्रतिशत से अधिक नकसान के लिए 26.81 करोड़ रुपये की आवश्यकता का आंकलन किया गया है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सभी भी भारी बारिश वाले इलाके का हवाई सर्वे किया था। इसकी समीक्षा भी की गई है। फसल नुकसान के लिए कुल 998.11 करोड़ रुपये का प्रतिवेदन कृषि विभाग ने आपदा प्रबंधन विभाग को भेजा है। आपदा प्रबंधन विभाग से राशि मिलने पर प्रभावित किसानों को सहायता राशि मुहैया कराई जाएगी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...