1. हिन्दी समाचार
  2. छत्तीसगढ़
  3. गृह मंत्री अमित शाह ने नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में सुरक्षा-विकास पर की समीक्षा बैठक

गृह मंत्री अमित शाह ने नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में सुरक्षा-विकास पर की समीक्षा बैठक

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि नक्सल प्रभावित राज्यों के मुख्यमंत्रियों और वरिष्ठ अधिकारियों के साथ वामपंथी उग्रवाद पर समीक्षा बैठक की गई है, जिसमें इस समस्या के स्थायी समाधान के लिए केंद्र और राज्यों के बीच और बेहतर समन्वय पर बल दिया गया है।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

नई दिल्ली, 26 सितंबर। गृहमंत्री अमित शाह ने नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में विकास परियोजना की समीक्षा और सुरक्षा के हालातों का जायजा लेने के लिए रविवार को बड़ी समीक्षा बैठक की। इसमें नक्सल और चरमपंथ प्रभावित 10 राज्यों में से 6 राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने शिरकत की। बैठक में बाकी 4 राज्यों के शीर्ष अधिकारियों ने हिस्सा लिया।

दिल्ली के विज्ञान भवन में हुई बैठक में ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक, तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन शामिल हुए। वहीं बैठक में पश्चिम बंगाल, छत्तीसगढ़, आंध्र प्रदेश और केरल के मुख्यमंत्रियों ने हिस्सा नहीं लिया। हालांकि इन राज्यों के शीर्ष अधिकारियों ने बैठक में शिरकत की।

सूत्रों के मुताबिक बैठक में गृह मंत्री ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों और अधिकारियों के साथ वर्तमान में माओवादियों के खिलाफ जारी ऑपरेशन, सुरक्षा स्थिति सहित विकास परियोजना के बारे में जानकारी हासिल की। ये बैठक हर साल में एक या दो बार होती है। कोरोना के चलते पिछले साल ये बैठक नहीं हो पाई थी।

SHAH MEET

गृह मंत्री की वामपंथी उग्रवाद पर समीक्षा बैठक

गृहमंत्री अमित शाह ने माओवादियों के खिलाफ राज्यों के अभियान और विकास योजनाओं से जुड़ी जरूरतों को जाना। बैठक में केंद्रीय मंत्री अश्वनी वैष्णव, गिरिराज सिंह, अर्जुन मुंडा और नित्यानंद राय भी शामिल रहे। इसके अलावा गृह सचिव अजय भल्ला, आईबी निदेशक अरविंद कुमार के साथ केंद्र और राज्यों के शीर्ष पुलिस अधिकारी भी बैठक में शामिल हुए। देश में इस समय 90 जिले माओवाद से प्रभावित माने जाते हैं। हालांकि इनमें से 45 जिलों में ही माओवादी घटनाएं होती हैं। माना जा रहा है कि केंद्र सरकार जल्द ही नक्सल प्रभावित छत्तीसगढ़ में बड़े अभियान की तैयारी में लगी है।

वहीं गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में वामपंथी उग्रवाद पर नकेल कसने में काफी सफलता मिली है।
आज केंद्र और राज्य मिलकर काम कर रहे हैं, क्योंकि जब तक हम इस समस्या से पूरी तरह निजात नहीं पाते तब तक देश का और वामपंथी उग्रवाद से प्रभावित राज्यों का पूरी तरह विकास संभव नहीं है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
India Voice Ads
X