1. हिन्दी समाचार
  2. अन्य खबरें
  3. आश्रम वेब सीरीज पर मध्य प्रदेश के गृहमंत्री ने कहा, अपनी सीरीज का नाम बदलें प्रकाश झा

आश्रम वेब सीरीज पर मध्य प्रदेश के गृहमंत्री ने कहा, अपनी सीरीज का नाम बदलें प्रकाश झा

गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि इसका नाम बदलने का मैं भी पक्षधर हूं । हमारी भावनाओं को आहत करने वाले दृश्य फिल्माते क्यों हो? हिम्मत है तो दूसरे धर्म के बारे में ऐसा करके बताओ।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

निर्माता-निर्देशक प्रकाश झा की वेब सीरीज आश्रम को लेकर अब मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा की ओर से भी आपत्ति दर्ज की गई है। उन्होंने कहा है कि इसका नाम आश्रम ही क्यों रखा गया है । जिन्होंने कल गलती की है, उन पर कार्रवाई हो रही है लेकिन प्रकाश झा पर क्या कार्रवाई की जाए?

पढ़ें :- यूपी विधानसभा सत्र : यूपी विधानमंडल की कार्यवाही शुरू होने से पहले योगी सरकार करेगी कैबिनेट बैठक, आज पेश होगा अनुपूरक बजट

उल्लेखनीय है कि रविवार को राजधानी भोपाल में हो रही शूटिंग के दौरान बजरंग दल ने अपना भारी विरोध प्रदर्शन किया था। विश्व हिन्दू परिषद से जुड़े बजरंगदल संगठन के प्रदेश संयोजक सुशील सुडेले का कहना है कि हमारे पूज्य संत आश्रम में निवास करते हैं, उनकी प्रेरणा से समाज चलता है। इस वेब सीरीज में दिखाया जा रहा है कि आश्रम गोरखधंधा, अय्याशी का अड्डा है, यहां महिलाओं-भक्तों का शोषण होता है। यह पूर्ण रूप से असत्य है और यह सब केवल हिन्दू समाज की भावनाओं को आहत करने के लिए किया जा रहा है। शूटिंग पुरानी जेल (अरेरा हिल्स) में चल रही थी। । घटना के दौरान वेब सीरीज के एक्टर बॉबी देओल भी मौजूद थे।

गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि इसका नाम बदलने का मैं भी पक्षधर हूं । हमारी भावनाओं को आहत करने वाले दृश्य फिल्माते क्यों हो? हिम्मत है तो दूसरे धर्म के बारे में ऐसा करके बताओ। उन्होंने कहा कि शूटिंग को लेकर हम स्थायी गाइडलाइन भी जारी करने वाले हैं। फिल्म निर्मातओं को पहले प्रशासन को स्टोरी देनी होगी, उसके बाद अनुमति मिलेगी। अगर उसमें कोई आपत्तिजनक दृश्य या किसी धर्म को आहत करने वाला सीन होगा तो उसके हटाने के बाद ही प्रदेश में शूटिंग की अनुमति मिलेगी।

भोपाल से भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा ने ट्वीट कर कहा कि “आश्रम” पर वेब सीरीज़ बनाने वाले क्या कभी “मदरसों” पर वेब सीरीज़ बनाने की औक़ात रखते है ? ईद पर जबलपुर में पुलिस पर हमला करने वाले कठमुल्ले क्या थे, राजा साहब ? शांति दूत ? उस दिन आपकी ट्विटर की चिड़िया क्यों नही चहकी ?

इसके साथ ही भोपाल जिले के प्रभारी मंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कि वेब सीरीज को हम देखेंगे। कोई विषय होगा तो उसको प्रतिबंधित करेंगे। वेब सीरीज को लेकर कुछ भ्रम की स्थिति है। कल का घटनाक्रम नहीं होना था, जो भी हुआ दुर्भाग्यजनक है। मध्य प्रदेश में फिल्म शूटिंग के लिए पर्याप्त सुरक्षा, साधन, जगह उपलब्ध कराई जा रही है। दूसरी ओर अब इस पूरे प्रकरण में संत समाज भी खुलकर विरोध में सामने आ गया है। तमाम संतों ने मामले के दूसरे दिन सोमवार भी प्रकाश झा की इस वेब सीरीज को लेकर अपना विरोध दर्ज कराया है। सभी संत और साधुओं का यही कहना है कि इस प्रकार के विषय अन्य धर्म के साथ करने में इन भ्रमित लोगों की हिम्मत भी नहीं होती है । यह हिन्दू अस्मिता पर वैचारिक आक्रमण है, जिसे संत समाज सहन नहीं करेगा।

पढ़ें :- Iran News: प्रदर्शनकारियों द्वारा सोमवार से बुधवार तक 3 दिनों की आम हड़ताल की अपील,सरकार पर बढ़ा दबाव

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...