Booking.com

राज्य

  1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. किसान आंदोलन : नहीं मानी गई बात तो आंदोलन होगा तेज – राकेश टिकैत

किसान आंदोलन : नहीं मानी गई बात तो आंदोलन होगा तेज – राकेश टिकैत

आज पूरे देश में रेल रोको अभियान चलाया जा रहा है। यह सुबह 10 से शुरु होकर शाम 04 बजे तक जारी रहेगा।

By इंडिया वॉइस 

Updated Date

नई दिल्ली, 18 अक्टूबर। लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा को लेकर किसान संगठन केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा ‘टेनी’ को पद से हटाने की मांग पर अड़े हैं। इसी क्रम में संयुक्त किसान मोर्चा ने सोमवार सुबह 10 बजे से देशव्यापी रेल रोको अभियान चलाकर अपना विरोध दर्ज करा रही है। मोर्चे ने अपने बयान में साफ कहा है कि अगर सरकार टेनी को पद से नहीं हटाती है तो आंदोलन और तेज किया जाएगा।

पढ़ें :- कृषि कानूनों के खिलाफ हुए आंदोलन के दौरान दर्ज 17 मामले वापस लेने की मंजूरी

संयुक्त किसान मोर्चा के नेता और भारतीय किसान किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने आज मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि किसान चाहते हैं कि केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा को पद से हटाया जाए। जिससे लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा की निष्पक्ष जांच हो सके।

लखीमपुर खीरी हिंसा की निष्पक्ष जांच की मांग 

टिकैत ने कहा कि अगर अजय मिश्रा पद पर बने रहेंगे तो लखीमपुर खीरी हिंसा की निष्पक्ष जांच संभव नहीं हैं। उन्होंने कहा कि आज पूरे देश में रेल रोको अभियान चलाया जा रहा है। यह सुबह 10 से शुरु होकर शाम 04 बजे तक जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि अगर केन्द्र सरकार किसानों मांगों को नहीं मानेगी को आंदोलन और तेज किया जाएगा।

सिंघु बॉर्डर पर हुई एक किसान की हत्या के विषय पर टिकैत ने कहा कि वह हत्या का विरोध करते हैं। जो हिंसा में लिप्त थे पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया है। उन्होंने कहा कि सरकार आंदोलन को बदनाम करने के लिए साजिश कर रही है। सिविल ड्रेस में आंदोलन स्थलों पर पुलिस तैनात रहती है। उसके बाद भी ऐसी घटनाएं हो जाती हैं। इससे पता चलता है कि सरकार किसानों के शांतिपूर्ण आंदोलन को बदनाम करने में जुटी है।

पढ़ें :- Lakhimpur Kheri Violence : लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा को मिली जमानत, जानें कब होगी रिहाई ?

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...
Booking.com
Booking.com
Booking.com
Booking.com