1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तराखंड
  3. विकास के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाए जा रहे हैं : पुष्कर सिंह धामी

विकास के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाए जा रहे हैं : पुष्कर सिंह धामी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार का राज्य को पूरा सहयोग मिल रहा है।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

देहरादून, 27 अक्टूबर। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी अपने दो दिवसीय जनपद भ्रमण के दौरान बुधवार को अपने निजी आवास नगला तराई खटीमा में आम जनता की जन समस्याएं सुनीं। इसके उपरान्त मुख्यमंत्री ने फाइबर कम्पनी के परिसर में पहुंचकर दीप प्रज्ज्वलित करते हुए बूथ कार्यक्रम प्रारम्भ किया। अपने सम्बोधन में मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि प्रदेश के समग्र विकास के लिए राज्य सरकार द्वारा अनेक कदम उठाए जा रहे हैं। सभी वर्गों को ध्यान में रखते हुए कार्य हो रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार का राज्य को पूरा सहयोग मिल रहा है।

पढ़ें :- Uttarakhand : चहुंमुखी विकास की ओर अग्रसर है उत्तराखंड, लोगों का हो रहा है री-वेरिफिकेशन- CM पुष्कर सिंह धामी

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार प्रत्येक जनमानस के साथ हर दुख-सुख में खड़ी है। उन्होंने कहा कि सरकार प्रत्येक व्यक्ति के हित के बारे में लगातार विकास कार्योंं को कर रही है। उन्होंने कहा कि खटीमा नागरिक चिकित्सालय में एक हजार एलपीएम का ऑक्सीजन प्लांट लगा दिया गया है। पुराने अस्पताल में अस्थाई सैनिक कैन्टीन बनाया जा रहा है, जिसे आगामी माह नवम्बर तक संचालित कर दिया जाएगा।

उन्होंने कहा कि खटीमा में बस अड्डा निर्माण, खटीमा बाईपास निर्माण, एकलव्य विद्यालय निर्माण, राजकीय आश्रम पद्धति जनजाति स्कूल, शहीद स्मारक एवं मण्डी में धान क्रय केन्द्रों का औचक निरीक्षण कर सम्बन्धित अधिकारियों व कार्यदायी संस्थाओं को निर्देशित किया गया है कि कार्यों में तेजी लाते हुए शीघ्र कार्य पूर्ण करें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाओं की मजबूती के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। आयुष्मान योजना के तहत नि:शुल्क इलाज व 207 प्रकार की जांचे नि:शुल्क की जा रही हैं। कोविड-19 संक्रमण के दौरान अनाथ हुए बच्चों के लिए वात्सल्य योजना के तहत तीन हजार रुपये प्रत्येक बच्चे को दिया जा रहा है व बच्चे को बड़े होने पर पांच प्रतिशत आरक्षण की व्यवस्था की गई है।

बहनों और नवजात कन्याओं को महालक्ष्मी किट प्रदान की जा रही है। नौजवानों को विभिन्न प्रतियोगिता परीक्षाओं के लिए नि:शुल्क आवेदन करने की प्रक्रिया, ग्राम प्रधानों का मानदेय रुपये 1500 से बढ़ाकर 3500, आशा कार्यकत्रियों को रुपये 3500 से बढ़ाकर 6500, उपनल कर्मियों की मांग मानते हुए दस साल की सेवा पूर्ण करने वाले कर्मचारियों को मानदेय में रुपये 2000 व दस वर्ष से अधिक सेवा पूर्ण करने वाले कर्मचारियों को रुपये 3000 देने का काम सरकार द्वारा किया गया है।

पढ़ें :- Uttarakhand : भाजपा के लिए मास्टर स्ट्रोक साबित हो सकता है समान नागरिक संहिता

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...