1. हिन्दी समाचार
  2. गैलरी
  3. आयकर विभाग का दावा- सोनू सूद ने की 20 करोड़ की टैक्स चोरी

आयकर विभाग का दावा- सोनू सूद ने की 20 करोड़ की टैक्स चोरी

आयकर विभाग के मुताबिक अब तक सोनू सूद और उनके सहयोगियों की ओर से 20 करोड़ रुपये की टैक्स चोरी का खुलासा हुआ है। अभिनेता और उनके सहयोगियों के ठिकानों की तलाशी के दौरान कर चोरी से संबंधित सबूत मिले हैं।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

मुंबई, 18 सितंबर। बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद के आवास और ऑफिस समेत कई ठिकानों पर शनिवार को लगातार चौथे दिन भी आयकर विभाग की छापेमारी जारी रही। आयकर विभाग ने मुंबई, लखनऊ, कानपुर, जयपुर, दिल्ली और गुरुग्राम सहित 28 ठिकानों पर तीन दिन की छापेमारी के बाद 20 करोड़ की टैक्स चोरी का दावा किया है, जबकि चौथे दिन की कार्रवाई का ब्योरा नहीं मिल सका है। आयकर की इस कार्रवाई पर सोनू सूद की तरफ से अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।

पढ़ें :- Punjab Election 2022 : सोनू सूद की बहन मालविका सूद ने थामा कांग्रेस का हाथ, सीएम चन्नी और सिद्धू ने पार्टी में शामिल कराया

20 करोड़ की टैक्स चोरी का खुलासा

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने शनिवार को एक बयान में बताया कि विदेशी अंशदान विनियमन अधिनियम (एफसीआरए) के उल्लंघन के अलावा, अब तक सोनू सूद और उनके सहयोगियों की ओर से 20 करोड़ रुपये की टैक्स चोरी का खुलासा हुआ है। बयान के मुताबिक अभिनेता और उनके सहयोगियों के ठिकानों की तलाशी के दौरान कर चोरी से संबंधित सबूत मिले हैं। 48 साल के अभिनेता ने फर्जी संस्थाओं से फर्जी और असुरक्षित ऋण के रूप में बेहिसाब पैसे जमा किए हैं। आयकर विभाग ने बुधवार से लगातार तीन दिनों तक मुंबई, लखनऊ, कानपुर, जयपुर, दिल्ली और गुरुग्राम में कुल 28 परिसरों की तलाशी ली। आयकर विभाग की कार्रवाई शनिवार को चौथे दिन भी जारी रही, लेकिन शनिवार को हुई कार्रवाई का ब्योरा नहीं मिल सका है।

सोनू सूद चैरिटी फाउंडेशन में कानून का उल्लंघन

आयकर विभाग की टीम ने सोनू सूद चैरिटी फाउंडेशन में विदेशी धन के लेन-देन में कानून का उल्लंघन पाया है। फाउंडेशन ने 1 अप्रैल 2021 से अब तक 18.94 करोड़ रुपये का चंदा इकट्ठा किया है, जिसमें से उन्होंने कई राहत कार्यों के लिए करीब 1.9 करोड़ रुपये खर्च किए हैं, जबकि बाकी 17 करोड़ रुपये फाउंडेशन के बैंक खाते में बगैर इस्तेमाल के पाए गए। सीबीडीटी ने कहा कि ऐसा देखा गया है कि फाउंडेशन ने क्राउड फंडिंग प्लेटफॉर्म पर एफसीआरए का उल्लंघन करते हुए 2.1 करोड़ रुपये की राशि जुटाई है।

पढ़ें :- State Icon Of Punjab : सोनू सूद अब नहीं रहेंगे पंजाब के स्टेट आइकन, चुनाव आयोग ने रद्द की सूद की नियुक्ति

ED भी कर सकती है मामले में जांच

आयकर विभाग का दावा है कि सोनू सूद अपनी आय को लेकर जो जानकारी दे रहे हैं, वो विश्वास से परे है। सोनू सूद के ठिकानों पर ऐसे दस्तावेज मिले, जिनसे पता चलता है कि उन्होंने टैक्स चोरी की है। आयकर विभाग ने उनके चैरिटी ट्रस्ट पर एफसीआरए के उल्लंघन का भी आरोप लगाया है। आयकर के इस खुलासे के बाद आने वाले समय में प्रवर्तन निदेशालय (ED) भी इस मामले की जांच कर सकती है।

लखनऊ की एक इंफ्रा कंपनी पर छापा

आयकर विभाग के मुताबिक लखनऊ की एक इंफ्रा कंपनी पर छापा मारा गया। इस कंपनी ने बड़े पैमाने पर आयकर चोरी की है। 11 लॉकर्स का भी पता चला है। इस कंपनी के 175 करोड़ रुपये के लेन-देन भी संदेह के घेरे में हैं, जिसकी जांच जारी है। गौरतलब है कि आयकर विभाग केंद्रीय वित्त मंत्रालय के तहत कार्यरत राजस्व विभाग का एक अंग है और ये CBDT द्वारा संचालित है।

हिन्दुस्थान समाचार

पढ़ें :- CBDT Issues Refund : CBDT ने 3 जनवरी तक 1,50,407 करोड़ रुपये का रिफंड किया जारी

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...