1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. महात्मा गांधी पर अभद्र टिप्पणी करने वाले कालीचरण महाराज गिरफ्तार, जानें क्या था मामला ?

महात्मा गांधी पर अभद्र टिप्पणी करने वाले कालीचरण महाराज गिरफ्तार, जानें क्या था मामला ?

Dharm Sansad : गिरफ़्तारी के बाद पुलिस टीम उन्हें लेकर शाम करीब 7 बजे तक रायपुर लौटेगी।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

रायपुर, 30 दिसंबर। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को लेकर अभद्र टिप्पणी करने वाले कालीचरण महाराज को रायपुर पुलिस ने गुरुवार की सुबह करीब 4 बजे खजुराहो से गिरफ्तार कर लिया है। जानकारी के अनुसार कालीचरण महाराज खजुराहो में एक किराए का मकान लेकर छिपने का प्रयास कर रहे थे। गिरफ़्तारी के बाद पुलिस टीम उन्हें लेकर शाम करीब 7 बजे तक रायपुर लौटेगी।

पढ़ें :- U19 World Cup : इंग्लैंड को शिकस्त देकर भारत 5वीं बार बना विश्व चैंपियन

महाराष्ट्र पुलिस काफी दिनों से कर रही थी तलाश

बताया जा रहा है कि कालीचरण महाराज ने अपने छिपने के लिए एक कॉटेज भी बुक कराया था। कालीचरण महाराज के खिलाफ उनकी काली जुबान के चलते और विवादित बयानबाजी के चलते रायपुर से लेकर महाराष्ट्र तक उनक खिलाफ केस दर्ज किया जा चुका है। वहीं महाराष्ट्र पुलिस काफी दिनों से कालीचरण की तलाश में थी।

रायपुर के पुलिस अधीक्षक (एसपी) प्रशांत अग्रवाल ने बताया कि महात्मा गांधी पर की गई अभद्र टिप्पणी के बाद रायपुर के टिकरापारा थाने में कालीचरण महाराज पर धारा 294, 505बी, 295ए, 53ए के तहत केस दर्ज किया गया था।

पढ़ें :- वसीम रिजवी उर्फ जितेन्द्र नारायण त्यागी ने अब बदला अपने पिता का नाम, जानें क्या है पूरा मामला ?

वीडियो जारी कर दिया था बयान

रायपुर में हुई धर्म संसद में महात्मा गांधी के खिलाफ आपत्तिजनक बयान देने के बाद महाराष्ट्र में भी कालीचरण ने अभद्र टिप्पणी की थी। इसके बाद 27 दिसम्बर को देर रात कालीचरण ने अपने यूट्यूब चैनल पर करीब 8 मिनट 51 सेकंड का एक वीडियो जारी किया था। वीडियो में कालीचरण ने बयान दिया कि उन्हें इस बात का कोई अफ़सोस नहीं कि उन्होंने गांधी को लेकर अपशब्द कहे।

पढ़ें :- Haridwar : धर्म संसद मामले पर दो और संतों के नाम मुकदमा हुआ दर्ज

इसके बाद रायपुर सहित महाराष्ट्र के अकोला में भी कालीचरण के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। आज देर शाम तक कालीचरण महाराज को पुलिस रायपुर ला रही है। जहां उन्हें कोर्ट में पेश किया जाएगा। बता दें कालीचरण महाराज के खिलाफ रायपुर के टिकरापारा थाना में केस दर्ज किया गया है।

क्या है पूरा मामला ? 

वीडियो में कालीचरण ने महात्मा गांधी को लेकर कहा था कि महात्मा गांधी को राष्ट्रपिता नहीं बल्कि वंशवाद का जनक कहा जाना चाहिए। इतना ही नहीं उन्होंने सरदार पटेल के बजाय नेहरु को प्रधानमंत्री बनने पर भी सवाल उठाया था। उन्होंने साफ़ कहा कि मैं महात्मा गांधी को राष्ट्रपिता नहीं मानता।

अगर इसकी सजा मौत भी है तो मुझे सजा मंजूर है। कालीचरण ने धर्म संसद में दिए अपने बयान में महात्मा गांधी की हत्या करने वाले नाथूराम गोडसे की सराहना करने के साथ ही अन्य कई आपत्तिजनक बातें कही थीं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...