1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. कांग्रेस में शामिल होने से पहले कन्हैया कुमार ने सीपीआई के दफ्तर से निकलवाया AC

कांग्रेस में शामिल होने से पहले कन्हैया कुमार ने सीपीआई के दफ्तर से निकलवाया AC

आज भगत सिंह के 114वें जन्मदिवस पर कन्हैया कुमार और  गुजरात के निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवानी कांग्रेस के नाव पर सवार हो सकते हैं।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

नई दिल्ली : अनुमान लगाया जा है की 28 सितम्बर को जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार कांग्रेस का दमन थाम सकते है। इसी बीच खबर आयी है कि कन्हैया ने कांग्रेस में शामिल होने से पहले अपने द्वारा पटना स्थित सीपीआई के प्रदेश कार्यालय में लगवाया गया ए.सी भी निकाल ले गए।

पढ़ें :- Nupur Sharma Case: देश से माफी मांगे नुपुर शर्मा, शर्मा का बयान शर्मसार करने वाला- कांग्रेस

सूचनानुसार, सीपीआई के प्रदेश अध्यक्ष रामनरेश पांडेय ने कन्हैया कुमार के द्वारा कार्यालय से ए.सी ले जाने की खबर की पुष्टि की है। रामनरेश पांडे ने कहा कि कन्हैया कुमार ने सीपीआई प्रदेश कार्यालय के अपने कमरे में एक एयर कंडीशनर (एसी) लगाया था जिसे कुछ दिन पहले ही उन्होंने ले जाने की बात पार्टी पदाधिकारियों के सामने रखी थी। रामनरेश ने आगे कहा की, ए.सी ले जाने की अनुमति मांगने पर हमने उनसे कहा कि, यह तुम्हारी संपत्ति है। तुम इसे ले जा सकते हो। जिसके बाद पार्टी एसी लेकर चले गए। कन्हैया कुमार ने अपने पार्टी प्रमुख से कहा कि उन्होंने कहीं और कमरा लिया है, जहां वह यह एसी लगाएंगे।

पिछले कुछ समय से कन्हैया कुमार और सीपीआई के बीच के रिश्ते ठीक नहीं हैं। कहा जा रहा है कि इसी साल फ़रवरी में हैदराबाद में सीपीआई की बैठक में कन्हैया कुमार के खिलाफ निंदा प्रस्ताव पास किया गया था। सीपीआई कार्यालय में कार्यालय सचिव इंदुभूषण वर्मा के साथ मारपीट को लेकर निंदा प्रस्ताव पारित किया गया था। बैठक में 110 सदस्य मौजूद थे जिसमें तीन को छोड़कर बाकी सभी ने कन्हैया के खिलाफ निंदा प्रस्ताव पास किए जाने का समर्थन किया था।  तभी से कन्हैया के रिश्ते अपनी ही पार्टी के साथ तल्ख़ हो गए थे।

अब आज भगत सिंह के 114वें जन्मदिवस पर कन्हैया कुमार और  गुजरात के निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवानी कांग्रेस के नाव पर सवार हो सकते हैं। सुचना की माने तो, कांग्रेस में शामिल होने से पहले कुमार और मेवाणी दिल्ली के आईटीओ स्थित शहीदी पार्क जाएंगे और  भगत सिंह की प्रतिमा पर माल्यार्पण करेंगे, आईटीओ में राहुल गाँधी भी मौजूद हो सकते हैं। कार्यक्रम स्थल पर युवा कांग्रेस के कार्यकर्ता बड़ी संख्या में मौजूद रहेंगे।

ऐसी अटकलें हैं कि कांग्रेस कन्हैया को बिहार और मेवाणी को गुजरात का दारोमदार दे सकती हैं जहां अगले साल के अंत तक चुनाव होने है।

पढ़ें :- कांग्रेस का BJP पर बड़ा आरोप- बीजेपी ने DHFL से 28 करोड़ की डोनेशन ली, DHFL ने किया सबसे बड़ा बैंक फ्रॉड

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...