1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Kashi Vishwanath Dham Corridor: अखिलेश यादव का दावा- काशी विश्वनाथ धाम कॉरिडोर की शुरुआत सपा ने की

Kashi Vishwanath Dham Corridor: अखिलेश यादव का दावा- काशी विश्वनाथ धाम कॉरिडोर की शुरुआत सपा ने की

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 13 दिसंबर को वाराणसी में अपने ड्रीम प्रोजेक्ट काशी विश्वनाथ धाम कॉरिडोर के पहले चरण का उद्घाटन करेंगे। इस प्रोजेक्ट की आधारशिला पीएम नरेंद्र मोदी ने 8 मार्च 2019 को रखी थी।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

लखनऊ, 12 दिसंबर। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने रविवार को लखनऊ में दावा किया है कि ‘काशी विश्वनाथ धाम कॉरिडोर’ की शुरुआत सपा सरकार के कार्यकाल में हुई थी। अखिलेश ने कहा कि हमारी सरकार के दौरान काशी विश्वनाथ कॉरिडोर के निर्माण का प्रस्ताव कैबिनेट से पास हुआ था। इसलिए कह रहा हूं कि इस प्रोजेक्ट की शुरुआत किसी ने की है तो वो सपा ने की थी।

पढ़ें :- कुंडा विधानसभा सीट से राजा भैया के किले को भेदना भाजपा और सपा के लिए कड़ी चुनौती !

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 13 दिसंबर को वाराणसी में अपने ड्रीम प्रोजेक्ट काशी विश्वनाथ धाम कॉरिडोर के पहले चरण का उद्घाटन करेंगे। इस प्रोजेक्ट की आधारशिला पीएम नरेंद्र मोदी ने 8 मार्च 2019 को रखी थी।

पढ़ें :- सपा का 'ब्राह्मण वोट' के लिए फरसा उठाना मात्र ढोंग ? कहीं पार्टी के नेता दे रहे हैं ब्राह्मण विरोधी भाषण तो कहीं अखिलेश यादव ब्राह्मण उम्मीदवारों के काट रहे हैं टिकट

अखिलेश यादव का बीजेपी पर क्रेडिट लेने का आरोप

इससे पहले 11 दिसंबर को बलरामपुर में 43 साल पुराने ‘सरयू नहर राष्ट्रीय परियोजना’ का लोकार्पण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया था। इस प्रोजेक्ट को लेकर भी अखिलेश यादव ने प्रदेश की योगी सरकार की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाते हुए दावा किया था कि सरयू नहर राष्ट्रीय परियोजना का 3 चौथाई काम सपा सरकार के कार्यकाल में पूरा हुआ था। थोड़ा काम बचा था, जिसे पूरा करने में बीजेपी की डबल इंजन सरकार ने 4 साल लगा दिए और अब क्रेडिट ले रहे हैं।

बतादें कि प्रधानमंत्री मोदी ने सरयू नहर राष्ट्रीय परियोजना का लोकार्पण करने के बाद जनसभा को संबोधित करते हुए अखिलेश यादव के इस दावे पर चुटकी ली थी। उन्होंने कहा था कि ‘जब वो दिल्ली से चले थे तो सुबह से इंतजार कर रहे थे कि कब कोई आएगा और कहेगा कि मोदी जी इस योजना का फीता तो हमने काटा था, ये योजना उन्होंने शुरू की थी। कुछ लोगों की आदत है ऐसा कहने की। वहीं कुछ की प्राथमिकता फीता काटना है, लेकिन हमारी सरकार की प्राथमिकता योजनाओं को समय पर पूरा करना है।

अखिलेश यादव के प्रोजेक्ट्स को लेकर दावे अनेक

गौरतलब है कि इससे पहले भी अखिलेश यादव ने पीएम मोदी और सीएम योगी की ओर से लोकार्पित विकास कार्यों का क्रेडिट लेने की कोशिश की हे। अखिलेश यादव पूर्वांचल एक्सप्रेसवे को भी समाजवादी पार्टी की सरकार का काम बताते हैं। यहां तक कि गोरखपुर में AIIMS के निर्माण को लेकर अखिलेश यादव ने कहा था कि अगर सपा सरकार ने जमीन आवंटित नहीं की होती तो ये प्रोजेक्ट कभी भी पूरा नहीं होता। राप्ती नहर परियोजना को भी अखिलेश ने सपा सरकार की देन बताया था।

पढ़ें :- सीट घोषित करने के बाद बदलने में सबसे आगे सपा, उसके अपने ही बने परेशानी का कारण

और पढ़ें:

दो बार बीएसपी से विधायक रहे कालीचरण समेत राजभर बड़ी संख्या में समाज के लोग हुए भाजपा में शामिल

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...