1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. उप्र: कृषकों को बड़ा बाजार उपलब्ध कराएगी किसान पार्सल ट्रेन

उप्र: कृषकों को बड़ा बाजार उपलब्ध कराएगी किसान पार्सल ट्रेन

-प्रदेश के किसान बड़ी मंडियों तक अपने उत्पादों को किसान एक्सप्रेस पार्सल ट्रेन से भेज सकेंगे

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

लखनऊ,18 सितम्बर। रेलवे प्रशासन उत्तर प्रदेश के प्रमुख स्टेशनों से किसान एक्सप्रेस पार्सल ट्रेन के संचालन की तैयारी कर रहा है। किसान पार्सल ट्रेन के संचालन से प्रदेश के कृषकों को अब बड़ा बाजार उपलब्ध होगा। किसान अपने उत्पादों को देश की बड़ी मंडियों में उचित मूल्य पर बेच सकेंगे।

पढ़ें :- पश्चमी रेलवे : अगले कुछ दिनों विशेष ट्रेनें रहेंगी बाधित , निकलने से पहले जान लें अपने ट्रेन का हाल

रेलवे प्रशासन ने उत्तर प्रदेश के प्रमुख स्टेशनों से किसान एक्सप्रेस पार्सल ट्रेन चलाने की योजना बनाई है। इस योजना के तहत पूर्वोत्तर रेलवे ने गोरखपुर से किसान एक्सप्रेस पार्सल ट्रेन संचालित करने की तैयारी शुरू कर दी है। इससे प्रदेश के कृषकों को अब और बड़ा बाजार उपलब्ध होगा। किसान अपने उत्पादों को देश की बड़ी मंडियों में उचित मूल्य पर बेच सकेंगे।

किसान एक्सप्रेस यात्री ट्रेनों की तरह निर्धारित समय सारिणी और ठहराव के आधार पर चलाई जाएंगी। इससे किसानों के खाद्य उत्पाद और सब्जियां निर्धारित समय पर गंतव्य तक पहुंच सकेंगी। ठहराव वाले स्टेशनों पर किसान अपने उत्पादों को लाद और उतार सकेंगे। किसान एक्सप्रेस की वापसी में भी मनचाहा उत्पाद मंगाया जा सकेगा।

किसानों को अपने उत्पाद को भेजने के लिए मालगाड़ी की तरह अब पूरी रैक बुक करने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। कम वजन होने पर भी उत्पाद बुक हो जाएंगे। इतना ही नहीं माल गाड़ियों की अपेक्षा किसान एक्सप्रेस पार्सल ट्रेन के किराए में भी 50 प्रतिशत की रियायत दी जाएगी। यह रियायत रेलवे प्रशासन के सहयोग से केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय उपलब्ध कराएगा। फिलहाल पहले चरण में फर्रुखाबाद से पहली किसान एक्सप्रेस पार्सल ट्रेन आलू लेकर असम भेजी जा चुकी है। इससे रेलवे को 5.64 लाख रुपए की आमदनी हुई है। केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय ने 5.05 लाख रुपए की छूट दी है।

पूर्वोत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी पंकज कुमार ने शनिवार को बताया कि किसान एक्सप्रेस के संचालन से प्रदेश के किसानों को अपने उत्पाद को उचित मूल्य पर बेचने के लिए और बड़ा बाजार मिलेगा।

पढ़ें :- लखनऊ होकर चलने वाली गोरखपुर-बांद्रा स्पेशल ट्रेन में लगेंगे एलएचबी कोच

उन्होंने बताया कि पूर्वोत्तर रेलवे की बिजनेस डेवलपमेंट यूनिट के प्रयास से कृषक उत्पाद संगठनों का रुझान अब किसान एक्सप्रेस पार्सल ट्रेन की तरफ बढ़ने लगा है। इससे आने वाले दिनों में रेलवे की आय और बढ़ेगी।
हिन्दुस्थान समाचार

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...