1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तराखंड
  3. उत्तराखंड : महापौर ने लगवाई बायोमेट्रिक मशीन निगम कर्मचारी करते थे लेट लतीफ़

उत्तराखंड : महापौर ने लगवाई बायोमेट्रिक मशीन निगम कर्मचारी करते थे लेट लतीफ़

निगम के कर्मचारी पहले रजिस्टर में ही हाजिरी लगा रहे थे।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

ऋषिकेश, 30 सितम्बर। निगम के कर्मचारियों की लेट लतीफी को दूर करने के लिए महापौर अनिता ममगाईं ने दफ्तर के बाहर बायोमेट्रिक मशीन लगवाई है। इसी के साथ नगर निगम कर्मचारियों की हाजिरी अब बायोमेट्रिक से लगनी शुरू हो गई है।

पढ़ें :- उत्तराखंड चुनाव - बुजुर्ग, दिव्यांग और कोरोना से संक्रमित व्यक्तियों के लिए निर्वाचन आयोग का क्या है नया प्लान ? जानने के लिए पढ़ें पूरी खबर !

गुरुवार को महापौर ने बताया कि इससे लेट आने वाले कर्मियों पर नकेल कसी जाएगी। कर्मचारी बाज नहीं आए तो उनकी तनख्वाह भी काटी जा सकती है। जो शाम को ड्यूटी ऑफ के समय से पहले दफ्तर को अलविदा कह देते हैं, उन्हें भी तय समय तक रोका जा सकेगा। उन्होंने बताया कि निगम के कर्मचारी पहले रजिस्टर में ही हाजिरी लगा रहे थे।

नगर निगम में मौजूदा समय में सैकड़ों कर्मचारी हैं जिनकी हाजिरी नगर निगम के कार्यालय में ही लगती थी। आपको बता दें कि बायोमेट्रिक मशीन लगने के बाद इन कर्मचारियों की हाजिरी रजिस्टर की बजाय अब ”बायोमेट्रिक मशीन” में लगनी शुरू हो गई है।

महापौर ने बताया कि निगम की कार्य प्रणाली को बेहतर बनाने के लिए हर आवश्यक कदम उठाए जा रहे हैं। नगर आयुक्त को भी निगम की कार्यप्रणाली को बेहतर बनाने के लिए निर्देशित किया गया है। उन्होंने कहा कि बायोमेट्रिक मशीन कर्मचारियों को समय का पाबंद बनाने के लिए लगवाई गई है।

उन्होंने आगे कहा कि ”नगर निगम के जो कर्मचारी ऑफिस में लेट आते हैं और समय से पहले चले भी जाते हैं, अब उन्हें भी समय का पाबंद होना पड़ेगा”। बायोमेट्रिक मशीन से पता चल जाएगा कि कौन-सा कर्मचारी लेट लतीफ आता है और किसे समय से पहले घर जाने की जल्दी रहती है। आपको बता दें कि लगातार देर से आने वाले कर्मियों को गैर हाजिर किया जाएगा।

पढ़ें :- उत्तराखंड : सीएम धामी ने अतिवृष्टि से प्रभावित क्षेत्रों का किया हवाई सर्वेक्षण !

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...