1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. मोहम्मद अली जिन्ना लाखों हिन्दुओं का था हत्यारा, वो कभी नहीं बन सकता भारत का आदर्श- CM योगी

मोहम्मद अली जिन्ना लाखों हिन्दुओं का था हत्यारा, वो कभी नहीं बन सकता भारत का आदर्श- CM योगी

शुक्रवार को सदन में अनुपूरक बजट पर चर्चा होगी। बजट और लेखानुदान पारित होने के बाद सदन की कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दी जाएगी।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

लखनऊ, 16 दिसंबर। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को विधानसभा में मोहम्मद अली जिन्ना को लाखों हिन्दुओं का हत्यारा बताया। उन्होंने कहा कि जिन्ना भारत का आदर्श कभी नहीं बन सकता।

पढ़ें :- 2024 में PM Modi के खिलाफ कौन होगा विपक्ष का दावेदार?

 

सदन में सीएम योगी का अखिलेश पर हमला

 

विधानसभा सदन में जिन्ना का नाम लेकर मुख्यमंत्री योगी ने समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव पर तीखा हमला किया। उन्होंने कहा कि जिन्ना का नाम सरदार पटेल के साथ लेना देश का बहुत बड़ा अपमान है। दरअसल पिछले दिनों सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अपने एक संबोधन में महात्मा गांधी और सरदार पटेल के साथ जिन्ना के नाम का भी जिक्र किया था। तभी से सीएम योगी आदित्यनाथ इस मुद्दे को लेकर सपा अध्यक्ष पर हमलावर हैं।

 

पढ़ें :- Presidential Elections 2022 : यशवंत सिन्हा के पुराने बयान पर शिवपाल सिंह ने अखिलेश यादव को घेरा

सपा और बसपा पर सीएम योगी के आरोप

 

सदन को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री योगी ने समाजवादी पार्टी पर डॉ. भीमराव आम्बेडकर और बहुजन समाज पार्टी के संस्थापक कांशीराम के अपमान का भी आरोप लगाया। योगी ने कहा कि जिस समाजवाद की परिकल्पना डॉ. राममनोहर लोहिया ने की थी, वर्तमान में समाजवादी पार्टी (सपा) उससे बहुत दूर है। मौजूदा समय में सपा को योगी ने बहुरुपिया समाजवाद का ब्रांड बताया। उन्होंने आतंकवाद समाजवाद और माफिया समाजवाद जैसे तमाम ब्रांड भी गिनाएं।

 

सीएम योगी ने रामगोविंद चौधरी की प्रशंसा की

 

नेता सदन के संबोधन के दौरान सदन में उनके और नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी के बीच कई बार तीखे संवाद भी हुए। जब योगी सपा पर हमला करते तो रामगोविंद अपनी सीट से उसका माकूल जवाब भी देते रहे। हालांकि बाद में मुख्यमंत्री ने रामगोविंद चौधरी की जमकर प्रशंसा भी की और उन्हें आज का सच्चा समाजवादी बताया।

पढ़ें :- Presidential Election 2022 : अखिलेश यादव पर भारी पड़ी CM योगी की डिनर डिप्लोमेसी

 

शुक्रवार को सदन में अनुपूरक बजट पर चर्चा

 

वहीं शुक्रवार को सदन में अनुपूरक बजट पर चर्चा होगी। बजट और लेखानुदान पारित होने के बाद सदन की कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दी जाएगी। वहीं अगले साल विधानसभा का चुनाव है। ऐसे में माना जा रहा है कि 17वीं विधानसभा का ये अंतिम सत्र है।

 

योगी सरकार ने 8479.53 करोड़ रु. का दूसरा अनुपूरक बजट विधानसभा में पेश किया

 

उधर इससे पहले विपक्ष के हंगामे के बीच योगी सरकार ने गुरुवार को 8479.53 करोड़ रुपये का दूसरा अनुपूरक बजट विधानसभा में पेश किया। वित्तमंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने इस दौरान वित्तीय वर्ष 2022-23 के पहले 4 महीनों (अप्रैल-जुलाई) के लिए 1,68,903.23 करोड़ का लेखानुदान भी सदन में पेश किया।

पढ़ें :- Nupur Sharma Case : नूपुर शर्मा पर अखिलेश यादव के बयान को लेकर NCW ने लिया संज्ञान, जानें क्या है मामला

और पढ़ें:

बदल गए प्रशांत किशोर के सुर, कहा राहुल गांधी बन सकते हैं पीएम

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...