1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. यमुना एक्सप्रेस-वे का बदला जा सकता है नाम, जल्द होगी घोषणा

यमुना एक्सप्रेस-वे का बदला जा सकता है नाम, जल्द होगी घोषणा

प्रदेश के शहरों और जिलों का नाम बदलने के बाद से योगी सरकार यमुना एक्सप्रेस-वे (Yamuna Expressway) को भी नया नाम देने का मन बना रही है. उम्मीद है इस बात की घोषणा जल्द ही की जा सकती है.

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

उत्तर प्रदेश, 23 नवंबर : उत्तर प्रदेश की योगी सरकार प्रदेश के शहरों और जिलों के नाम बदलने के बाद अब एक्सप्रेस-वे का नाम बदलने का प्लान बना रही है। आपको बता दें कि प्रदेश की योगी सरकार अब नाम बदलने के सिलसिले को आगे बढ़ते हुए हुए अब यमुना एक्सप्रेस-वे (Yamuna Expressway) का नाम बदलने का विचार कर रही है।

 

एक्सप्रेस-वे का नाम पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर हो सकता है

मिल रही जानकारी के अनुसार यमुना एक्सप्रेस-वे का नाम बदल कर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर रखा जा सकता है। वहीं इस बात की घोषणा ‘जेवर एयरपोर्ट’ के भूमि पूजन कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कर सकते हैं। हालाँकि इस बात की आधिकारिक तौर पर पुष्टि नहीं की गयी है।

बता दें कि 25 नवंबर को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जेवर एयरपोर्ट का शिलान्यास करने गौतमबुद्ध नगर पहुंचेंगे। ऐसे में पीएम मोदी के कार्यक्रम को लेकर चल रही तैयारियों का जायजा लेने आज मंगलवार को सीएम योगी गौतम बुद्ध नगर आ रहे हैं। आपको बता दें कि कार्यक्रमों के रूप रेखा के अनुसार एयरपोर्ट के शिलान्यास कार्यक्रम के बाद एयरपोर्ट साइट पर ही पीएम मोदी एक बड़ी जनसभा को भी संबोधित करेंगे।

वहीं एयरपोर्ट साइट पर होने वाली पीएम मोदी की जनसभा को लेकर तैयारी शुरू की जा चुकी हैं। जेवर एयरपोर्ट के शिलान्यास के लिए पीएम मोदी और सीएम योगी के आगमन को लेकर पुलिस प्रशासन के साथ-साथ सुरक्षा एजेंसियों ने सुरक्षा व्यवस्था से जुड़ी तैयारियां शुरू कर दी हैं।

 

नाम में हो रहे बदलाव हैं चुनावी दाव ?

एक तरफ जहाँ राज्य सरकार एक्सप्रेस-वे का नाम बदलने के बारे में विचार कर रही है वहीं दूसरी तरफ विपक्षी दल और राजनितिक विश्लेषक सरकार के इस कदम को चुनावी दाव बताने में जुटे हुए हैं। बता दें कि अगले साल 2022 में विधानसभा का चुनाव होना है ऐसे में चुनाव से पहले ब्राह्मण मतदाताओं को अपनी तरफ खींचने का प्रयास भी लम्बे समय से राजनितिक दलों द्वारा किया जा रहा है।

 

ब्राह्मण समाज को लुभाने का हो रहा है प्रयास 

कहा ऐसा भी जा रहा है कि ब्राह्मण समाज इन दिनों भाजपा से नाराज है, ऐसे में ब्राह्मणों को खुश करने के लिए भाजपा एक्सप्रेस-वे का नाम यमुना एक्सप्रेसवे से बदलकर अब पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपाई के नाम से रखने की तैयारी में जुटी हुयी है। आपको बता दें कि’ इससे पहले भी भाजपा ने सम्मान देने के लिए कई स्थलों और परियोजनाओं के नाम को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी के नाम से कर चुकी है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
India Voice Ads
X