1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. फर्जी मामले में NCB के खिलाफ हाई कोर्ट जाएंगे नवाब मलिक के दामाद समीर खान

फर्जी मामले में NCB के खिलाफ हाई कोर्ट जाएंगे नवाब मलिक के दामाद समीर खान

नवाब मलिक ने कहा कि NCB ने उनके दामाद को फर्जी मामले में गिरफ्तार किया और साढ़े 8 महीने तक जमानत नहीं होने दी। साथ ही मीडिया में पूरे परिवार को बदनाम किया गया।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

मुंबई, 14 अक्टूबर। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता और अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री नवाब मलिक के दामाद समीर खान नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) के खिलाफ हाईकोर्ट में मुकदमा दर्ज करेंगे। नवाब मलिक ने कहा कि NCB ने उनके दामाद को फर्जी मामले में गिरफ्तार किया और साढ़े 8 महीने तक जमानत नहीं होने दी। साथ ही मीडिया में पूरे परिवार को बदनाम किया गया।

नवाब मलिक ने कहा कि उनके दामाद को जमानत पिछले महीने ही मिली है, लेकिन कोर्ट ने अपना ऑर्डर कोर्ट की वेबसाइट पर सार्वजनिक कर दिया है। इस ऑर्डर को पढ़ने के बाद पता चला कि NCB ने समीर खान को हर्बल तंबाखू के मामले में गिरफ्तार किया था।

समीर खान की गिरफ्तारी फर्नीचर वाला की निशानदेही पर की गई थी। फर्नीचर वाला के पास भी सिर्फ साढ़े 7 ग्राम गांजा बरामद किया था। नवाब मलिक ने कहा कि NCB के पास नशीले पदार्थों की पहचान करने की उच्च स्तर मशीन है, इसके बाद भी NCB गांजा और हर्बल तंबाखू में फर्क नहीं कर सकी, ये आश्चर्यजनक ही है। नवाब मलिक ने कहा कि उनके दामाद की गिरफ्तारी के बाद ड्रग सहित विदेशी आरोपियों को भी पकड़ा गया, जिन्हें बाद में छोड़ दिया गया। इनमें विदेशी ड्रग पेडलर, महिला ड्रग पेडलर भी शामिल हैं। जानबूझकर साढ़े 8 माह तक NCB उनके दामाद की जमानत का विरोध करती रही, लेकिन एनसीबी के मामले में कोई दम नहीं होने की वजह से उनके दामाद को कोर्ट ने ही जमानत दे दी। नवाब मलिक ने कहा कि उनके दामाद के मामले में कोर्ट का फैसला और सारा प्रोसीजर कोर्ट की वेबसाइट पर मौजूद है। नवाब मलिक ने कहा कि कार्डिलिया क्रुज शिप ड्रग पार्टी के बारे में उन्होंने जब से पत्रकार वार्ता की है, तब से उन्हें देश के अलग-अलग इलाकों से जान से मारने की धमकी के फोन आ रहे हैं। इस मामले की शिकायत उन्होंने पुलिस के सामने दी है। उन्होंने फिर दोहराया कि NCB जानबूझकर सिलेक्टिव फर्जी कार्रवाई कर रही है। एनसीबी की इस फर्जी कार्रवाई का पर्दाफाश वो करते रहेंगे, भले ही उन्हें कितनी भी धमकी मिले।

इस पर NCB के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े ने कहा कि ये मामला कोर्ट के अधीन है। इसलिए वो इस मामले में कोई प्रतिक्रिया नहीं देंगे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
India Voice Ads
X