Booking.com

राज्य

  1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. NCP के आरोप पर NCB की सफाई, कहा- NCB पर लगाए गए सभी आरोप निराधार और तथ्यहीन

NCP के आरोप पर NCB की सफाई, कहा- NCB पर लगाए गए सभी आरोप निराधार और तथ्यहीन

NCB के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े ने कहा कि NCB कोर्ट की देखरेख में काम कर रही है।

By इंडिया वॉइस 

Updated Date

मुंबई, 09 अक्टूबर। कार्डिलिया द इम्प्रेस क्रूज शिप पर छापेमारी को लेकर लगाए जा रहे आरोपों के मामलों में नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने शनिवार को कहा कि NCB अपना काम पूरी निष्पक्षता और ईमानदारी से करती है। NCB के काम में किसी भी तरह का राजनीतिक हस्तक्षेप नहीं रहता। इसलिए NCB पर लगाए गए सभी आरोप निराधार एवं तथ्यहीन हैं।

पढ़ें :- मुंबई NCB ने मशहूर टीवी कपल और कॉमेडियन भारती सिंह-हर्ष लिंबाचिया के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की

क्रूज शिप पर गोपनीय जानकारी के आधार पर हुई छापेमारी

NCB के डिप्टी डायरेक्टर जनरल (नॉर्थ) ज्ञानेश्वर सिंह और जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े ने शनिवार को संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि 02 अक्टूबर को कार्डिलिया द इम्पेस क्रूज शिप पर गोपनीय जानकारी के आधार पर छापेमारा की गई थी। रेड के समय 14 लोगों को क्रूज शिप से पकड़कर NCB दफ्तर लाया गया था। इनमें से 8 लोगों को गिरफ्तार किया गया और 6 लोगों को सबूत के अभाव में छोड़ दिया गया था। जिन 8 लोगों को पकड़ा गया था, उन्हें पहले एक दिन की कस्टडी कोर्ट ने दी थी। इसके बाद सभी को फिर से कोर्ट ने NCB कस्टडी दी थी। इसके बाद इन 8 आरोपियों को कोर्ट ने ज्यूडिशियल कस्टडी दी। इसके बाद इन 8 लोगों की निशानदेही पर 6 जगहों पर और छापेमारी की गई और 10 लोगों को गिरफ्तार किया गया। NCB ने कहा कि सभी कार्रवाई कोर्ट की देखरेख में की जा रही है, इसलिए इस मामले में लगाए जा रहे सभी आरोप निराधार हैं।

NCB कोर्ट की देखरेख में काम करती है

गौरतलब है कि शनिवार को ही राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता और महाराष्ट्र के अल्पसंख्यक कार्य मंत्री नवाब मलिक ने आरोप लगाया था कि NCB ने कार्डिलिया क्रूज शिप से 11 लोगों को गिरफ्तार किया था। इनमें एक बीजेपी नेता का रिश्तेदार था। नवाब मलिक ने क्रूज शिप पर छापे की खबर को फर्जी भी बताया था। मलिक ने कहा था कि पूरी कार्रवाई फर्जी थी और ये बीजेपी नेताओं के इशारे पर की गई थी। मलिक ने NCB के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े के मोबाइल फोन की फोरेंसिक जांच करवाने की मांग की थी। इस पर समीर वानखेड़े ने कहा कि NCB कोर्ट की देखरेख में काम कर रही है और अगर कोर्ट ने इस तरह का निर्देश दिया तो उसकी भी जांच की जा सकती है।

पढ़ें :- महाराष्ट्र से बॉलीवुड को बाहर ले जाने की साजिश सफल नहीं होने दी जाएगी - नवाब मलिक

हिन्दुस्थान समाचार

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...
Booking.com
Booking.com
Booking.com
Booking.com