1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. राष्ट्रीय महिला आयोग ने चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री पद से हटाने की मांग की, कहा- ‘Me Too’ के लगे आरोप

राष्ट्रीय महिला आयोग ने चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री पद से हटाने की मांग की, कहा- ‘Me Too’ के लगे आरोप

राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष ने पंजाब के नए सीएम चन्नी को बताया महिलाओं के लिए खतरा, कहा- 'मी टू' के लगे हैं आरोप, चन्नी के खिलाफ जांच होनी चाहिए।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

नई दिल्ली, 20 सितंबर। पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के मुख्यमंत्री बनते ही विवाद शुरू हो गया है। सोमवार को राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने चन्नी को CM पद से हटाने की मांग की है।

पढ़ें :- NCW : राष्ट्रीय महिला आयोग ने शुरू किया एंटी ट्रैफिकिंग सेल, महिलाओं और लड़कियों के बीच जागरूकता बढ़ाना

चन्नी महिला सुरक्षा के लिए खतरा- रेखा

रेखा शर्मा ने कहा कि एक महिला के नेतृत्व वाली कांग्रेस पार्टी ने चरणजीत सिंह चन्नी को पंजाब का मुख्यमंत्री बनाया है। ये पंजाब के लोगों के साथ विश्वासघात है। चन्नी महिला सुरक्षा के लिए खतरा हैं। उनके खिलाफ जांच होनी चाहिए। उन्होंने सोनिया गांधी से उन्हें मुख्यमंत्री पद से हटाने की अपील भी की है।

चन्नी पर ‘Me Too’ का आरोप

रेखा शर्मा ने बताया कि साल 2018 में ‘Me Too’ आंदोलन के दौरान चरणजीत सिंह चन्नी के खिलाफ आरोप लगाए गए थे। एक महिला आईएएस अधिकारी ने आरोप लगाया था कि चरणजीत सिंह चन्नी ने उन्हें अश्लील मैसेज भेजे थे। इसके बाद पंजाब महिला आयोग की अध्यक्ष मनीषा गुलाटी ने राज्य सरकार से रिपोर्ट मांगते हुए कार्रवाई करने को कहा था। चन्नी उस वक्त पंजाब के तकनीकी शिक्षा मंत्री थे। अब चन्नी के मुख्यमंत्री बनने के बाद एक बार फिर कई लोग इस मुद्दे को उठा रहे हैं।

पढ़ें :- Punjab Elections 2022 : बेटी राबिया ने संभाली नवजोत सिद्धू के चुनाव प्रचार की कमान, कहा- शादी नहीं करूंगी जब तक पापा जीत ना जाएं

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...