1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. News Bulletin : पढ़ें सुबह की 10 बड़ी ख़बरें…

News Bulletin : पढ़ें सुबह की 10 बड़ी ख़बरें…

Morning Top 10 Hindi News

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

 

पढ़ें :- News Bulletin : रहना चाहते हैं 'अप टू डेट' तो कम शब्दों में पढ़ें सुबह की 5 बड़ी ख़बरें

नई दिल्ली, 23 दिसंबर 2021

 

1. ओमिक्रॉन के बढ़ते मामलों को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे आज समीक्षा बैठक।

देश में बढ़ते ओमिक्रॉन के मामलों पर केंद्र सरकार अलर्ट हो गई है। कोरोना के इस नए वेरिएंट के खतरे को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज समीक्षा बैठक करेंगे। इस बैठक में ओमिक्रॉन से निपटने की तैयारियों का जायजा लेंगे। बतादें कि कोरोना का नया वेरिएंट ओमिक्रॉन 15 राज्यों में अपने पांव पसार चुका है। देश में ओमिक्रॉन संक्रमण के अब तक 213 केस मिल चुके हैं। राजधानी दिल्ली में ओमिक्रॉन का खतरा बढ़ता जा रहा है। दिल्ली में ओमिक्रॉन के अब तक 57 केस सामने आ चुके हैं।

 

2. आज प्रधानमंत्री मोदी वाराणसी में कई परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास करेंगे।

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ताबड़तोड़ रैलियां कर रहे हैं। इन रैलियों के साथ पीएम मोदी यूपी को करोड़ों की सौगात भी दे रहे हैं। इसी के तहत आज पीएम मोदी काशी आ रहे हैं। अपने इस दौरे के दौरान पीएम मोदी करीब डेढ़ घंटे का वक्त काशी में बिताएंगे और इस दौरान काशी को 2100 करोड़ की 27 परियोजनाओं का तोहफा देंगे। इन सौगातों में 870 करोड़ के 22 परियोजनाओं का लोकार्पण और 1225 करोड़ के 5 योजनाओं का शिलान्यास होना है। इनमें 475 करोड़ की लागत से तैयार होने वाले ‘बनास डेयरी संकुल’ के साथ मोहनसराय से बौलिया सिक्सलेन और कई योजनाएं शामिल है। बनारस में इस डेयरी संकुल से गो पालकों को बड़ा फायदा होगा।

पढ़ें :- News Bulletin : रहना चाहते हैं 'अप टू डेट' तो कम शब्दों में पढ़ें सुबह की 5 बड़ी ख़बरें

 

3. मेरठ और मुजफ्फरनगर को आज केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी कई सौगात देंगे।

आज मेरठ को केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी कई महत्वपूर्ण परियोजनाओं की सौगात देंगे। दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे के लोकार्पण सहित मेरठ में रिंग रोड, बिजली बंबा बाईपास चौराहा से हापुड़ अड्डे तक 6 लेन और नजीबाबाद में 4 लेन के बाईपास का शिलान्यास किया जाएगा। इससे मेरठ से कोटद्वार का सफर आसान हो जाएगा। वहीं नितिन गडकरी मेरठ के बाद मुजफ्फरनगर के जीआईसी ग्राउंड में करीब 3 बजे पहुंचेंगे। इस दौरान नितिन गडकरी नेशनल हाईवे की कई योजनाओं का लोकार्पण GIC मैदान में करेंगे। इस दौरान गडकरी जनसभा को भी संबोधित करेंगे।

 

4. आज बसपा प्रमुख मायावती पार्टी मुख्यालय पर पदाधिकारियों के साथ बैठक करेंगीं।

बसपा प्रमुख मायावती अब पूरी तरह से चुनावी मूड़ में नजर आ रहीं हैं। लखनऊ में आज मायावती पार्टी मुख्यालय पर पदाधिकारियों के साथ बैठक करेंगी। विधानसभा चुनाव को लेकर ये बैठक काफी अहम मानी जा रही है। इसमें सभी सेक्टर प्रभारियों, जिलाध्यक्षों और वरिष्ठ पदाधिकारियों को बुलाया गया है। सूत्रों के मुताबिक इसी दिन वो चुनाव प्रचार अभियान और टिकट वितरण के बारे में भी ऐलान कर सकती हैं। मायावती खुद कब और कहां-कहां जनसभाएं करेंगी, इसकी जानकारी भी इस बैठक के बाद दी जाएगी।

 

पढ़ें :- News Bulletin : रहना चाहते हैं 'अप टू डेट' तो कम शब्दों में पढ़ें सुबह की 5 बड़ी ख़बरें

5. अलीगढ़ के इगलास में आज SP और RLD की संयुक्त जनसभा।

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले समाजवादी पार्टी और राष्ट्रीय लोकदल एक बार फिर से संयुक्त रैली करने जा रही है। अलीगढ़ के इगलास में आज एसपी और आरएलडी की संयुक्त जनसभा होगी। इस रैली के जरिए एक बार सपा प्रमुख अखिलेश यादव और आएलडी अध्यक्ष जयंत चौधरी एक साथ मंच साझा करेंगे।

 

6. आज सीएम पुष्कर सिंह धामी हलद्वानी के दौरे पर रहेंगे।

आज मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी हलद्वानी के दौरे पर रहेंगे। करीब 1:30 बजे सीएम धामी यहां पहुंचेंगे। जहां सीएम धामी FTI हैलीपैड पर हल्द्वानी के MB इंटर कॉलेज के मैदान का स्थली निरीक्षण करेंगे। इसके साथ ही सीएम धामी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दौरे को लेकर तैयारियों का जायजा भी लेंगे। बतादें कि 30 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हल्द्वानी में विशाल जनसभा को संबोधित करेंगे।

 

7. उत्तराखंड में चुनाव से पहले हरीश रावत के ट्वीट से सियासी हलचल हुईं तेज।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता, पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय महासचिव हरीश रावत ने ट्वीट कर कांग्रेस आलाकमान के रुख पर सवाल खड़े किए हैं। हरीश रावत ने अपने ट्वीट में लिखा है- ”#चुनाव_रूपी_समुद्र है न अजीब सी बात, चुनाव रूपी समुद्र को तैरना है, सहयोग के लिए संगठन का ढांचा अधिकांश स्थानों पर सहयोग का हाथ आगे बढ़ाने के बजाय या तो मुंह फेर करके खड़ा हो जा रहा है या नकारात्मक भूमिका निभा रहा है।

जिस समुद्र में तैरना है, सत्ता ने वहां कई मगरमच्छ छोड़ रखे हैं। जिनके आदेश पर तैरना है, उनके नुमाइंदे मेरे हाथ-पांव बांध रहे हैं। मन में बहुत बार विचार आ रहा है कि #हरीश_रावत अब बहुत हो गया, बहुत तैर लिए, अब विश्राम का समय है! फिर चुपके से मन के एक कोने से आवाज उठ रही है “न दैन्यं न पलायनम्” बड़ी उपापोह की स्थिति में हूं, नया वर्ष शायद रास्ता दिखा दे। मुझे विश्वास है कि #भगवान_केदारनाथ जी इस स्थिति में मेरा मार्गदर्शन करेंगे।”

पढ़ें :- News Bulletin : रहना चाहते हैं 'अप टू डेट' तो कम शब्दों में पढ़ें सुबह की 5 बड़ी ख़बरें

 

8. कैबिनेट से खोपरा के MSP को 2022 सीजन के लिए मंजूरी।

केंद्र सरकार ने उचित औसत गुणवत्ता (FAQ) के मिलिंग खोपरा (नारियल का गोला) के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) को 2021 के 10,335 रुपए प्रति क्विंटल से बढ़ाकर 2022 सीजन के लिए 10,590 रुपये प्रति क्विंटल कर दिया है। इसके साथ ही बॉल खोपरा के लिए MSP को 2021 के 10,600 रुपये प्रति क्विंटल से बढ़ाकर 2022 सीजन के लिए 11,000 रुपये प्रति क्विंटल कर दिया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने 2022 सीजन के लिए खोपरा के न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) को अपनी मंजूरी दी है।

 

9. देश मसाला के उत्पादन में स्थापित कर रहा है नए आयाम- नरेंद्र सिंह तोमर।

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि देश मसाला उत्पादन में नया कीर्तिमान स्थापित कर रही है। तोमर ने बुधवार को सुपारी और मसाला विकास निदेशालय की ओर से प्रकाशित पुस्तक, “स्पाइस स्टैटिस्टिक्स एट ए ग्लांस 2021” का विमोचन किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि देश में मसाला उत्पादन साल 2014-15 के 67.64 लाख टन से बढ़कर साल 2020-21 में 60 फीसदी वृद्धि के साथ करीब 107 लाख टन के रिकॉर्ड स्तर तक पहुंच गया है। मिर्च, अदरक, हल्दी, जीरा आदि प्रमुख मसालों के उत्पादन में शानदार वृद्धि से विदेशी मुद्रा आय 2014-15 के 14899 करोड़ रु. से करीब दो गुना बढ़कर साल 2020-21 में 29535 करोड़ रु. हो गई है।

 

10. WHO की चेतावनी- हम एक और तूफान आते हुए देख सकते हैं।

विश्व स्वास्थ्य संगठन के यूरोपीय प्रमुख डॉ हंस क्लूज ने कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन को लेकर कहा है कि इसके मामलों में उछाल के लिए तैयार रहें। हम एक और तूफान आते हुए देख सकते हैं। कुछ हफ्तों के भीतर ओमिक्रॉन कई देशों में हावी हो जाएगा, जो पहले से ही फैली हुई स्वास्थ्य प्रणालियों को कगार पर धकेल देगा। उन्होंने कहा कि ओमिक्रॉन वेरिएंट के उभरने की शुरुआत नवंबर के आखिर में हुई थी। WHO यूरोपीय क्षेत्र के 53 सदस्यों में से कम से कम 38 में ओमिक्रॉन के मामले पाए गए हैं।

 

पढ़ें :- News Bulletin : रहना चाहते हैं 'अप टू डेट' तो कम शब्दों में पढ़ें सुबह की 5 बड़ी ख़बरें

आज का अखबार

 

 

और पढ़ें:

RBI New Rules: डेबिट और क्रेडिट कार्ड धारकों के लिए खबर, 1 जनवरी 2022 से बदल रहे हैं नियम…जानें

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...