Booking.com

राज्य

  1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. NIA झारखंड में माओवादियों और आपराधिक गिरोह पर लगाम लगाने में जुटी

NIA झारखंड में माओवादियों और आपराधिक गिरोह पर लगाम लगाने में जुटी

इस साल NIA ने झारखंड के 4 बड़े मामलों को टेकओवर कर जांच शुरू की है।

By इंडिया वॉइस 

Updated Date

रांची, 18 दिसंबर। झारखंड में माओवादियों और आपराधिक गिरोह पर लगाम लगाने में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) जुट गई है।

पढ़ें :- Jharkhand News: गुमला में कार और बस की भीषण टक्कर में परिवार के 6 लोग घायल, 2 की हालत गंभीर

NIA इन मामलों की कर रही है जांच

इस साल NIA ने झारखंड के 4 बड़े मामलों को टेकओवर कर जांच शुरू की है। इनमें तेतरियाखांड कोलियरी में आगजनी, लांजी नक्सली हमला और लातेहार के रूप पंचायत के जंगल में नक्सलियों की मौजूदगी और माओवादी और आपराधिक गिरोह को हथियार सप्लाई करने की जांच शामिल है।

NIA के SP शैलेंद्र मिश्रा के नेतृत्व में जांच

झारखंड में भाकपा माओवादियों और अमन साहू गैंग को हथियार की सप्लाई करने के मामले की जांच NIA ने शुरू कर दी है। झारखंड ATS द्वारा दर्ज किए गए कांड (संख्या 01/2021) को NIA ब्रांच रांची ने 9 दिसंबर 2021 को टेकओवर करते हुए मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। NIA के SP शैलेंद्र मिश्रा के नेतृत्व में इस पूरे मामले की जांच की जा रही है। इस मामले में NIA ने CRPF के जवान अविनाश कुमार, ऋषि कुमार, पंकज सिंह, संजय सिंह, मुहाजिद खान, अमन साहू और अरुण कुमार सिंह को आरोपी बनाया है।

पढ़ें :- Jharkhand news: झारखंड में पिकअप वैन पलटने से 7 मजदूरों की मौत, 8 गंभीर रूप से घायल

जंगल में माओवादी केस में 11 नामजद और 110 अज्ञात नक्सली आरोपी

दूसरा मामला– लातेहार जिले के गारू थाना क्षेत्र स्थित रूप पंचायत का है। NIA ने जंगल में माओवादियों की मौजूदगी की जांच को टेकओवर किया है। NIA ने लातेहार के गारू थाना में दर्ज केस संख्या 32/2017 और NIA केस संख्या RC 14/2017 के अनुसंधान के दौरान मिले तथ्यों के आधार पर NIA ब्रांच रांची ने 18 अप्रैल 2021 केस संख्या RC 03/2021 दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। NIA ने इस मामले में सुधाकरण और उसकी पत्नी नीलिमा सहित 11 नक्सलियों को आरोपी बनाया है। इनमें प्रभु साव, बलराम उरांव, छोटू खेरवार, सुधाकरण, नीलिमा, प्रदीप चेरो, नीरज जी, रविंद्र गंझू, मृत्युंजय, विश्राम उरांव और मनोज सिंह को NIA ने नामजद आरोपी बनाया है। इसके अलावा NIA ने 110 अज्ञात नक्सलियों को भी केस में आरोपी बनाया है।

नक्सली पतिराम मांझी सहित 33 नक्सली नामजद आरोपी

तीसरा मामला– चाईबासा जिले के टोकलो थाना क्षेत्र स्थित लांजी गांव की है। पिछले 4 मार्च 2021 को नक्सलियों की ओर से ID विस्फोट में 3 जवान शहीद हो गए थे। इस मामले की जांच NIA कर रही है। टोकलो थाना में दर्ज मामले को NIA ब्रांच रांची ने टेकओवर करते हुए कांड संख्या RC 02/2021 दर्ज किया है। इस मामले में NIA ने IPC की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। NIA ने इस मामले में 1 करोड़ के इनामी नक्सली अनल दा उर्फ पतिराम मांझी सहित 33 नक्सलियों को नामजद आरोपी बनाया है।

NIA सुजीत सिंहा, अमन साहू समेत 17 लोगों पर चार्जशीट

पढ़ें :- jharkhand News: बोकारो में 4 जंगली भालुओं ने वार्ड सदस्य को बनाया शिकार, हमला कर निकाली आंख, हादसे से मचा हड़कंप

चौथा मामला– लातेहार के बालूमाथ थाना क्षेत्र स्थित तेतरियाखाड़ कोलियरी का है। पिछले 18 दिसंबर 2020 को आगजनी और गोलीबारी के मामले की जांच NIA कर रही है। NIA की रांची ब्रांच ने 24 मार्च 2021 को कांड संख्या RC 01/ 2021 दर्ज किया है। जांच में ये बात सामने आई है कि अपराधी सुजीत सिंहा और अमन साहू ने शाहरुख और प्रदीप गंझू सहित बाकी उग्रवादियों के साथ मिलकर हत्या, जबरन वसूली और आपराधिक गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए धन जुटाने की साजिश रची थी। इस मामले में NIA सुजीत सिंहा, अमन साहू सहित 17 लोगों पर चार्जशीट दायर किया है।

और पढ़ें:

Rohini Court Blast: रोहिणी ब्लास्ट में वैज्ञानिक ने कोर्ट में रखा था बम : पुलिस आयुक्त

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...
Booking.com
Booking.com
Booking.com
Booking.com