1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Night Curfew UP : कोरोना के खतरे के बीच योगी सरकार की सख्ती, 25 दिसम्बर से रात 11 से सुबह 5 बजे तक नाईट कर्फ्यू

Night Curfew UP : कोरोना के खतरे के बीच योगी सरकार की सख्ती, 25 दिसम्बर से रात 11 से सुबह 5 बजे तक नाईट कर्फ्यू

शनिवार 25 दिसंबर से प्रदेशव्यापी रात्रिकालीन कोरोना कर्फ्यू प्रभावी किया जाए। हर दिन रात्रि 11 बजे से सुबह पांच बजे तक रात्रिकालीन कोरोना कर्फ्यू लागू होगा।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

उत्तर प्रदेश : योगी सरकार ने 25 दिसम्बर से रात्रिकालीन कर्फ्यू लागू करने की घोषणा की है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को यहां उच्चस्तरीय बैठक में यह निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि देश के विभिन्न राज्यों में कोविड के मामलों में बढ़ोतरी देखी जा रही है। ऐसे में कुछ कड़े कदम उठाए जाने की आवश्यकता है।

पढ़ें :- मथुरा में सूटकेस में मिली 21 साल की लड़की की लाश, शरीर पर गोली और चोट के निशान

 

पढ़ें :- आज मुलायम सिंह यादव का उनके पैतृक गांव सैफई में होगा अंतिम संस्कार,मुख्यमंत्री आदित्यनाथ सहित कई अन्य लोग होंगे शामिल

शादियों में होगी 200 लोगों के शामिल होने की अनुमति

उन्होंने कहा कि शनिवार 25 दिसंबर से प्रदेशव्यापी रात्रिकालीन कोरोना कर्फ्यू प्रभावी किया जाए। हर दिन रात्रि 11 बजे से सुबह पांच बजे तक रात्रिकालीन कोरोना कर्फ्यू लागू होगा। शादी-विवाह आदि सार्वजनिक आयोजनों में कोविड प्रोटोकॉल के साथ अधिकतम 200 लोगों के भागीदारी की अनुमति होगी। आयोजनकर्ता इसकी सूचना स्थानीय प्रशासन को देगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोविड से बचाव के लिए ट्रेसिंग, टेस्टिंग, ट्रीटमेंट और टीकाकरण की नीति के सही क्रियान्वयन से प्रदेश में स्थिति नियंत्रित है। बावजूद इसके हमे सचेत रहने की आवश्यकता है।

 

मास्क नहीं तो सामान नहीं

योगी ने कहा कि बाजारों में “मास्क नहीं तो सामान नहीं” के संदेश के साथ व्यापारियों को जागरूक करें। बिना मास्क कोई भी दुकानदार ग्राहक को सामान न दे। सड़कों, बाजारों में हर किसी के लिए। मास्क अनिवार्य किया जाए। पुलिस बल लगातार गश्त करे। पब्लिक एड्रेस सिस्टम को और प्रभावी बनाया जाए।

 

बाहर से आने वाले लोगों की जांच के निर्देश

देश के किसी भी राज्य से अथवा विदेश से उत्तर प्रदेश की सीमा में आने वाले हर एक व्यक्ति की ट्रेसिंग-टेस्टिंग की जाए। बस, रेलवे और एयरपोर्ट पर अतिरिक्त सतर्कता बरती जाए। निगरानी समितियों ने कोरोना प्रबंधन में सराहनीय कार्य किया है। तीसरी लहर के दृष्टिगत गांवों और शहरी वार्डों में निगरानी समितियों को पुनः एक्टिव करें। बाहर से आने वाले हर एक व्यक्ति की टेस्टिंग कराएं। उनके स्वास्थ्य पर सतत नजर रखी जाए। आवश्यकतानुसार लोगों को क्वारन्टीन किया जाए, अस्पतालों में भर्ती कराया जाए।

पढ़ें :- Gaziabad News:गैस सिलेन्डर बना मौत का वजह,सिलेंडर फटने से 2 मंजिला मकान गिरा,3 की मौत कई लोग घायल

 

टीकाकरण में प्रथम स्थान पर है प्रदेश

19 करोड़ 14 लाख 94 हजार से अधिक कोविड टीकाकरण और नौ करोड़ 14 लाख से अधिक टेस्टिंग करके उत्तर प्रदेश टेस्टिंग और टीकाकरण देश में प्रथम स्थान पर है। यहां छह करोड़ 73 लाख 17 हजार से अधिक लोगों को टीके की दोनों डोज देकर कोविड का सुरक्षा कवर प्रदान कर दिया गया है। 12 करोड़ 41 लाख लोगों ने टीके की पहली डोज प्राप्त कर ली है। इस प्रकार टीकाकरण के लिए पात्र प्रदेश की कुल आबादी में से 84.23 फीसदी को पहली और 45.66 फीसदी लोगों को दोनों डोज मिल चुकी है। वैक्सीनेशन को और तेज करने की जरूरत है। इस संबंध में सभी जरूरी प्रयास किए जाएं।

सीएम योगी ने ट्वीट कर भी इसकी जानकारी दी है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...