1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. उत्तर प्रदेश : मुख्यमंत्री योगी ने की मिशन शक्ति के अंतर्गत ”निर्भया एक पहल” की शुरुआत, जानें इस मिशन की खास बातें !

उत्तर प्रदेश : मुख्यमंत्री योगी ने की मिशन शक्ति के अंतर्गत ”निर्भया एक पहल” की शुरुआत, जानें इस मिशन की खास बातें !

इस कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री ने कुछ महिलाओं को किट भी वितरित किये।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

लखनऊ, 29 सितम्बर। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज ”लोकभवन में मिशन शक्ति” के अन्तर्गत ”निर्भया-एक पहल” कार्यक्रम का शुरुआत की। इस अवसर पर ”एक जनपद-एक उत्पाद योजना” के विशेष आवरण तथा विशेष विरूपण का विमोचन भी किया गया। इस कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री ने कुछ महिलाओं को किट भी वितरित किये।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि महिलाओं की सुरक्षा बेहद जरूरी है, सुरक्षा से सम्मान के साथ जीवन जी सकते हैं। उन्होंने आगे कहा कि ”मिशन शक्ति” के तहत अलग-अलग चरण में अलग लक्ष्य था। पहले चरण में सुरक्षा एक बड़ी चुनौती थी। लिहाजा सबसे पहले सरकार ने प्रदेश में एन्टी रोमियो स्क्वायड का गठन किया। इस दौरान पिंक बूथ स्थापित किये गए, फिर शक्ति केंद्र बनाने का काम हुआ।

तकरीबन डेढ़ लाख पुलिस भर्ती में 30 हजार महिलाओं की भर्ती हुई। सीएम ने कहा कि महिला पुलिस को फील्ड का काम नहीं दिया जाता था। जबकि बहुत सी महिलाएं फील्ड में काम करना चाहती थीं। वह किसी भी मामले में पुरुष से कम नहीं हैं। इसलिए मैंने कहा कि इन्हें फील्ड में तैनाती दी जाए। आज वो सभी महिलाओं से बात करके उन्हें जागरूक का काम कर रही हैं।

सीएम योगी ने कहा कि एमएसएमई विभाग ने प्रशिक्षण का कार्यक्रम पुरुषों के लिए तैयार किये थे। अब इस कार्यक्रम से महिलाओं को जोड़ा जा रहा है। प्रशिक्षण के साथ ही उन्हें किट दी जा रही है। योगी ने कहा कि महिलाओं के सशक्त होने से पूरा परिवार समृद्ध होगा। मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि इन महिलाओं को प्रशिक्षण के दौरान एक निश्चित धनराशि भी दी जाए ताकि इनका परिवार परेशान न हो।

बहुत सी महिलाएं दिन भर काम करने के बाद कमाए पैसे से ही अपना घर चलाती होंगी। सीएम ने कहा कि आज उद्यमिता का हेल्पलाइन जारीकिया गया है, वेबसाइट शुरू हुई है। मुख्यमंत्री ने प्रदेश की महिलाओं को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि महिलाएं चाहेंगी तो रेडीमेट कपड़े तैयार करने में वह पुरुषों से ज्यादा बेहतर कर सकती हैं। इससे हम चीन और वियतनाम जैसे देशों को पीछे छोड़ देंगे।

मुख्यमंत्री ने अगले तीन माह के भीतर इस कार्यक्रम को लक्ष्य तक पहुंचाने के निर्देश दिए हैं। ”एमएसएमई मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह” ने कहा कि मुख्यमंत्री की इच्छा थी कि महिलाओं को भी ओडीओपी से जोड़ा जाए। इससे महिलाएं स्वावलंबी होंगी। उन्होंने आगे कहा कि इन महिलाओं को ओडोओपी के प्रशिक्षण से जोड़ा जाएगा। जिससे महिलाएं उद्यमी बनेंगी। निर्भय का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि आज निर्भया फंड के लिए छह करोड़ रुपये निर्धारित किया गया है।

यह रहा कार्यक्रम

आपको बता दें कि ”निर्भया-एक पहल” कार्यक्रम के अन्तर्गत प्रदेश के सभी 75 जिलों में प्रति जिला एक हजार महिलाओं का एक दिवसीय जागरूकता कार्यक्रम तथा तीन दिवसीय ”कौशल क्षमता विकास प्रशिक्षण” संचालित किया जाएगा। 75,000 महिलाओं को इस कार्यक्रम के माध्यम से लाभान्वित किया जाएगा। प्रदेश के सभी 75 जिलों में सम्बन्धित जिलों के ओडीओपी उत्पाद के सम्बन्ध में भारतीय डाक विभाग के सहयोग से एक विशेष कवर तथा विशेष विरूपण का अनावरण एवं विमोचन किया गया।

इस प्रकार, एक ही दिवस और समय पर प्रदेश में 75 विशेष आवरण जारी किया गया। आपको बता दें कि यह सभी आवरण देश के विभिन्न डाक घरों में भेजे जाएंगे। वहीं इसकी मदद से प्रदेश के ”ओडीओपी उत्पादों ” को व्यापक राष्ट्रीय पहचान मिलेगी। आपको बता दें कि इस मौके पर राज्य मंत्री उदय भान सिंह, मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी, अपर मुख्य सचिव नवनीत सहगल समेत अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
India Voice Ads
X