1. हिन्दी समाचार
  2. दुनिया
  3. Omicron Alert : क्रिसमस पर लगा Omicron का ग्रहण, यूरोप के कई देशों मे जश्न मानाने पर प्रतिबंध

Omicron Alert : क्रिसमस पर लगा Omicron का ग्रहण, यूरोप के कई देशों मे जश्न मानाने पर प्रतिबंध

Merry Christmas : अमेरिका ने हालात से बचाव के लिए सेना के चिकित्सकों को तैनात कर दिया है।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

न्यूयार्क, 22 दिसंबर। यूरोप और अमेरिका में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। कोरोना के डेल्टा वैरिएंट की तबाही के बाद Omicron वैरिएंट ने नई चुनौती खड़ी कर दी है। अमेरिका, ब्रिटेन और यूरोप में फिर से संक्रमण बढ़ने लगे हैं। कई देश इस महामारी से बचने के लिए पाबंदी लगाने पर विचार कर रहे हैं। यूरोपीय देश इस मुद्दे पर बंटे नजर आ रहे हैं। वहीं, अमेरिका ने हालात से बचाव के लिए सेना के चिकित्सकों को तैनात कर दिया है।

पढ़ें :- Monkeypox alert: चीन में मिला पहला मंकीपॉक्स वायरस का केस, विदेशियों को न छूने की दी सलाह

 

खतरे को देखते हुए सख्त कदम उठाने वाला पहला देश बना यूरोप 

नीदरलैंड ने फिर से लॉकडाउन लगा दिया है। ऐसा सख्त कदम उठाने वाला वह यूरोप का पहला देश बन गया है। इसमें एक साथ अधिकतम दो मेहमानों को घर बुलाने की अनुमति है। बता दें कि क्रिसमस के त्योहार से पहले यह शर्त लोगों को तकलीफ देने वाली है।

डेनमार्क ने थिएटर, सिनेमा हाल, मनोरंजन पार्क, चिडि़याघर और भीड़ वाले स्थानों को बंद कर दिया है। हालांकि, टीकाकरण के चलते मास्क पहनने और शारीरिक दूरी बनाए रखने की अनिवार्यता को खत्म कर दिया गया है। वहीं, फ्रांस, स्पेन और इटली सख्त प्रतिबंध लगाने से अभी तक बच रहे हैं। इसके स्थान पर बूस्टर डोज लगाने पर जोर दे रहे हैं।

Omicron : अमेरिका में ओमिक्रोन से हुई पहली मौत, तेजी से बढ़ रहे हैं मामले

पढ़ें :- देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 13,313 नए मरीज

 

क्रिसमस की छुट्टियों के बावजूद लोग घरों में रहने को मजबूर 

ब्रिटेन में स्थिति उलट है। एक महीने से भी कम समय में वहां Omicron प्रमुख वैरिएंट बन गया है। ऐसे में सरकार के सलाहकारों और वैज्ञानिकों ने सख्त लॉकडाउन लगाने का सुझाव दिया है, लेकिन क्रिसमस को देखते हुए बोरिस जॉनसन की सरकार कोई फैसला नहीं ले पा रही है। सरकार में सख्त लॉकडाउन लगाने को लेकर मतभेद भी हैं।

अमेरिका में क्रिसमस की छुट्टियां शुरू हो गई हैं, लेकिन Omicron के डर ने लोगों को घरों में रहने को मजबूर कर दिया है। प्रतिदिन एक लाख से अधिक मामले मिल रहे हैं। रोग नियंत्रण एवं रोकथाम केंद्र (सीडीसी) ने एक दिन पहले ही कहा था कि नए मामलों में 73 फीसदी ओमिक्रोन के हैं।

राष्ट्रपति जो बाइडन ने अभी सख्त पाबंदियों का एलान तो नहीं किया है, लेकिन बढ़ते मरीजों को देखते हुए सेना के डॉक्टरों को मैदान में उतार दिया है। हालांकि, न्यूयार्क, वॉशिंगटन डीसी, टेक्सास, बोस्टन जैसे राज्यों में कुछ सख्त पाबंदियां लगाई गई हैं।

 

पढ़ें :- इमरान ने भारत के गुण गाए, मरियम ने कहा- वहीं क्यों नहीं चले जाते!

और पढ़ें – डेल्टा से 3 गुना ज्यादा संक्रामक है ओमिक्रॉन, केंद्र ने राज्यों को किया अलर्ट

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...