1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. झारखंड में पारा शिक्षक 29 दिसम्बर से करेंगे आन्दोलन, कहा सरकार ने नहीं पूरे किये वादे

झारखंड में पारा शिक्षक 29 दिसम्बर से करेंगे आन्दोलन, कहा सरकार ने नहीं पूरे किये वादे

9 दिसंबर को अगर पारा शिक्षकों के वेतनमान और नियमावली की घोषणा नहीं की गई तो राज्यभर के पारा शिक्षकों द्वारा कार्यक्रम में विरोध प्रदर्शन किया जाएगा। दरअसल 29 दिसम्बर को झारखण्ड सरकार के दो वर्ष पूरे हो रहे हैं।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

राज्य के पारा शिक्षकों ने आंदोलन की रूपरेखा तैयार कर ली है। और उन्होंने कहा है कि 29 दिसंबर को अगर पारा शिक्षकों के वेतनमान और नियमावली की घोषणा नहीं की गई तो राज्यभर के पारा शिक्षकों द्वारा कार्यक्रम में विरोध प्रदर्शन किया जाएगा। दरअसल 29 दिसम्बर को झारखण्ड सरकार के दो वर्ष पूरे हो रहे हैं।

पढ़ें :- Presidential Election : द्रौपदी मुर्मू ने झारखंड सीएम हेमंत सोरेन को किया फोन, अपनी उम्मीदवारी के लिए मांगा समर्थन

 

19 दिसम्बर को रांची के लिए जायेंगे शिक्षक

आन्दोलन की रूप रेखा तैयार करने के लिए संघ की बैठक में यह निर्णय लिया गया कि 12 दिसंबर को राज्य के सभी जिला कमेटियों की बैठक होगी। 13 और 14 दिसंबर को राज्य के सभी पारा शिक्षक, मंत्री और विधायकों को उनके विधानसभा क्षेत्र में मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपेंगे। 19 दिसंबर को सभी प्रखंड कमेटी की बैठक कर रांची कूच की तैयारी को अंतिम रूप दिया जाएगा।

इसके बाद 29 दिसंबर को सरकार के दो वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रम में नियमावली की घोषणा को देखने के लिए शिक्षक फूल माला के साथ मोरहाबादी मैदान पहुंचेंगे। नियमावली लागू करने की घोषणा के साथ शिक्षक मुख्यमंत्री, शिक्षा मंत्री समेत तमाम मंत्रियों का स्वागत भी करेंगे वहीँ आगे शिक्षकों ने कहा कि अगर घोषणा नहीं की गई तब पूरे प्रदेश में शिक्षकों के द्वारा व्यापक स्तर पर आन्दोलन किया जायेगा।

 

पढ़ें :- Hemant Soren Press Conference : सीएम सोरेन ने प्रेसवार्ता कर केंद्र सरकार को घेरा, कहा ईडी को नहीं है मनरेगा जांच में दिलचस्पी

पूरे नहीं हुए वादे

बैठक में मौजूद कमेटी के सदस्यों ने कहा कि सीएम ने विधानसभा चुनाव 2019 से पहले प्रत्येक चुनावी सभा में सरकार बनने के तीन महीने के भीतर ही राज्य के तमाम पारा शिक्षकों को स्थायी कर दिया जाएगा, जो कि आज दो वर्ष बीतने के बावजूद तक पूरा नहीं हो पाया है। उन्होंने कहा कि शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो, विभागीय अधिकारियों व एकीकृत पारा शिक्षक संघर्ष मोर्चा के शिष्टमंडल के बीच कई बार बातचीत भी हुई है जिसमें अंतिम वार्ता में 07 और 18 अगस्त 2021 बिहार के मॉडल पर आधारित नियमावली को लागू करने की बात तय हुई। मंत्री जगरनाथ महतो के साथ 13 नवंबर को एकीकृत पारा शिक्षक संघर्ष मोर्चा की वार्ता में स्पष्ट रूप से बताया गया कि विभाग द्वारा तैयार प्रस्तावित नियमावली को तमाम प्रक्रिया पूर्ण कराते हुए 29 दिसंबर 2021 को सरकार के दो वर्ष पूर्ण होने पर होनेवाले कार्यक्रम में मुख्यमंत्री द्वारा लागू करने की घोषणा की जाएगी। अब राज्य के तमाम पारा शिक्षक आश्वासन से परेशान हो गए हैं। 12 दिसंबर से नियमावली को लागू कराने के लिए सांगठनिक गतिविधियां प्रारंभ की जाएंगी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...