1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. उप्र के पारुल ने यूरोप की माउंट एलबर्स चोटी पर भारतीय ध्वज फहराया

उप्र के पारुल ने यूरोप की माउंट एलबर्स चोटी पर भारतीय ध्वज फहराया

यूरोप की सबसे ऊंची माउंट एलबर्स 5642 मीटर चोटी पर उप्र की औद्योगिक नगरी कानपुर की रहने वाली पारुल सिंह ने भारत का तिरंगा झंडा फहराकर देश का नाम रोशन कर दिया

उत्तरप्रदेश, 21 अगस्त । कानपुर के बर्रा इलाके में रहने वाले 22 वर्षीय युवा पारुल ने यूरोप की सबसे ऊंची माउंट एलबर्स 5642 मीटर की चोटी पर भारतीय ध्वज फहरा कर दुनिया में देश का नाम रोशन किया है। उनकी इस कामयाबी की जिले में ही नहीं देशभर में चर्चा बनी। यूरोप की चोटी पर फतह करने वाली पर्वतारोही के इस रिकार्ड को देखते हुए भाजपा महिला मोर्चा द्वारा सम्मानित किया गया है।

पढ़ें :- बहुचर्चित रोनिल हत्याकांड का पुलिस ने किया खुलासा, 36 दिन बाद खुली मिस्ट्री, लव ट्रांयगल में की गई हत्या

कानपुर के श्याम नगर में रहने वाले पारुल सिंह बचपन से ही पर्वतारोही बनना चाहते थे। बीती 08 अगस्त को पारुल ने यूरोप महाद्वीप की सबसे ऊंची चोटी माउंट एलबर्स की 5642 मीटर ऊंची बर्फ से ढकी हुई चोटी पर चढ़ाई शुरू की थी। इस मिशन को महज छह दिन के अंदर पूरा करते हुए भारत के तिरंगे झंडे को फहरा कर उन्होंने दुनिया भर में अपना और देश के साथ-साथ उप्र के कानपुर का नाम रोशन कर दिया।

नहीं डगमगाया हौसला, मिली सफलता

देश का नाम रोशन करने वाली पारुल ने बताया कि जब वो अपने लक्ष्य की तरफ बढ़ रहे थे, उस वक्त माइनस 40 डिग्री टेंपरेचर हो चुका था। शरीर पूरी तरीके से सुन्न हो गया था और उन्हें एक-एक कदम बढ़ाने में काफी कड़ी मशक्कत का सामना करना पड़ रहा था लेकिन लक्ष्य प्राप्ति और देश का नाम रोशन करने का उनका जज्बा तनिक भी नहीं डगमगाया और वह आगे बढ़ते रहें। परिणाम स्वरुप उन्होंने भारतीय ध्वज को पर्वत की चोटी पर लगाकर अपने लक्ष्य को भी पूरा कर दिया। उन्होंने बताया कि इससे पूर्व वह अफ्रीका महाद्वीप की सबसे ऊंची चोटी माउंट किलिमंजारो को भी फतह कर चुके हैं। पारुल ने बताया कि उन्होंने जम्मू-कश्मीर के पहलगांव से 2017 में पर्वतारोही की ट्रेनिंग ली है।

महिला मोर्चा के पदाधिकारियों ने किया सम्मान

पढ़ें :- यूपी में श्रद्धा जैसा केस: दूसरे से शादी करने पर पूर्व प्रेमी ने महिला के किए 6 टुकड़े, गिरफ्तार

पारुल के देश वापस आने के बाद बर्रा-7 में भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेश मंत्री विजया तिवारी की अगुवाई में सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। इस दौरान रीता शास्त्री, मधु तिवारी के साथ-साथ अन्य कार्यकर्ताओं ने पारुल को सम्मानित कर उनका उत्साहवर्धन किया। इस मौके पर प्रदेश मंत्री विजया तिवारी ने कहा कि पारुल कानपुर का गौरव है और इनके सातों महाद्वीपों की चोटियों पर फतह करने की उपस्थित पदाधिकारियों ने अग्रिम बधाई दी।

बताते चलें कि, यूरोप की सबसे ऊंची माउंट एलबर्स 5642 मीटर चोटी पर उप्र की औद्योगिक नगरी कानपुर की रहने वाली पारुल सिंह ने भारत का तिरंगा झंडा फहराकर देश का नाम रोशन कर दिया है। यूरोप की सबसे ऊंची चोटी को फतह करने वाले देश का लाल पारुल सिंह ने मात्र 22 वर्ष की छोटी उम्र में ही वो कर दिखाया जिसे करने के लिए लोग सालों तक प्रयास करते रहते हैं। वहीं उन्होंने छोटी सी उम्र में एक बड़ा उदाहरण भी पेश किया है कि हौसलों में जान हो तो आसमानों में भी सुराख किया जा सकता है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...