1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तराखंड
  3. उत्तराखंड : पीएम मोदी ने ‘मन की बात कार्यक्रम’ में किया पूनम नौटियाल का जिक्र, जमकर की तारीफ़ !

उत्तराखंड : पीएम मोदी ने ‘मन की बात कार्यक्रम’ में किया पूनम नौटियाल का जिक्र, जमकर की तारीफ़ !

बागेश्वर जिले की रहने वाली हैं हेल्थ वर्कर पूनम नौटियाल. मुख्यमंत्री धामी ने कहा 'मन की बात' कार्यक्रम देश और समाज हित के लिए करता है प्रेरित.

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

उत्तराखंड, 24 अक्टूबर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज  अपने ‘मन की बात’ कार्यक्रम में उत्तराखंड में शत-प्रतिशत कोरोनारोधी टीका की पहली डोज लगाने पर सरकार की जमकर सराहना की। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ‘मन की बात’ कार्यक्रम में ना सिर्फ उत्तराखंड सरकार की सराहना की बल्कि पीएम ने इस दौरान बागेश्वर जिले की रहने वाली हेल्थ वर्कर पूनम नौटियाल का जिक्र कर उनके द्वारा किए गए अथक प्रयासों की भी जमकर चर्चा करते हुए उनसे फोन पर भी बातचीत की।

पढ़ें :- Madhya Pradesh : भारत में दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा स्टार्टअप्स ईकोसिस्टम- प्रधानमंत्री मोदी

पढ़ें :- Germany : यूक्रेन संघर्ष में कोई पक्ष विजेता नहीं, सभी को होगा नुकसान- प्रधानमंत्री मोदी

वहीं आपको बता दें कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने भी सीएम आवास पर प्रधानमंत्री मोदी के ‘मन की बात’ कार्यक्रम को अपने साथी मंत्रियों के साथ सुना। इस दौरान सीएम आवास पर मुख्यमंत्री धामी के साथ कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज, गणेश जोशी, डॉ. धन सिंह रावत, स्वामी यतीश्वरानंद और मेयर सुनील उनियाल गामा मुख्य रूप से मौजूद थे।

कौन हैं पूनम नौटियाल 

पूनम नौटियाल उत्तराखंड के बागेश्वर जिले के क्वैराली सेंटर में एएनएम के तौर पर इन दिनों कार्यरत हैं। कोरोना महामारी के दौरान पूनम नौटियाल पहाड़ी क्षेत्रों में करीब 8 से 10 किलोमीटर पैदल जाकर वहाँ के लोगों को कोरोना से जागरूक करने का काम किया। इसके आलावा प्रदेश में कोरोना वैक्सीन को बढ़ावा देने के लिए लोगों को घर घर जाकर वैक्सीन लगाने का भी काम किया।

पूनम नौटियाल ने पीएम से अपने अनुभवों को किया साँझा

पीएम मोदी ने आजके अपने मन की बात कार्यक्रम में उत्तराखंड के बागेश्वर जिले की रहने वाली स्वास्थ्य कर्मी पूनम नौटियाल के द्वारा किए गए कार्यों की जमकर प्रशंसा की। इस दौरान पीएम मोदी ने पूनम नौटियाल के कार्यों की प्रशंसा करते हुए कि जिस तरह पूनम नौटियाल ने आउट ऑफ द वे जाकर लोगों का टीकाकरण किया यह बहुत सराहनीय कार्य है। उनका यह कार्य सभी के लिए प्रेरणादायी है।

पढ़ें :- The Kashmir Files : 'कश्मीर फाइल' फिल्म से बौखला गए हैं अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के झंडाबरदार- प्रधानमंत्री मोदी

कार्यक्रम के दौरान पीएम मोदी ने पूनम नौटियाल से फोन पर भी बातचीत की जहाँ पूनम नौटियाल ने अपने अनुभवों को पीएम मोदी के साथ साँझा किया। पूनम नौटियाल ने अपने अनुभव साँझा करते हुए पीएम मोदी को बताया कि हमने अपने क्षेत्र में लोगों को सबसे पहले तो कोरोना को लेकर प्रेरित करने का काम किया। इसके आलावा एक दिन में पर्वतीय क्षेत्रों में 8 से 10 किमी की दूरी तय कर टीकाकरण किया। साथ ही बुजुर्गों, दिव्यांगों और धात्री महिलाओं का उनके घरों पर जाकर टीकाकरण किया।

मन की बात कार्यक्रम देश और समाज हित के लिए करता है प्रेरित

‘मन की बात’ कार्यक्रम को सुनने के बाद मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा है कि प्रधानमंत्री मोदी का यह कार्यक्रम हम सभी को देश और समाज हित में सोचने और काम करने के लिए प्रेरित करता है। प्रधानमंत्री ने एक अभिभावक की तरह मार्ग दर्शन किया। उनका सक्षम नेतृत्व ही है कि ”सबको वैक्सीन, मुफ्त वैक्सीन” अभियान से देश 100 करोड़ वैक्सीनेशन डोज का पड़ाव पार कर चुका है।

पढ़ें :- Gujarat Panchayat Mahasammelan : ग्राम स्वराज का सपना पूरा करने के लिए पंचायती राज व्यवस्था बेहद जरूरी- पीएम मोदी

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज देश एक नए उत्साह और ऊर्जा के साथ आगे बढ़ रहा है। आज भारत ने कोरोना वैक्सीनेशन में दुनिया को राह दिखाई है। निस्संदेह इसमें हमारे हेल्थ वर्कर्स की महत्वपूर्ण भूमिका है। कोविड वॉरियर्स की दिन रात मेहनत से ही हम महामारी से बाहर निकल रहे हैं लेकिन हमें अभी भी सावधानी रखनी है।

हेल्थ वर्कर पूनम नौटियाल से पीएम मोदी की बातचीत प्रदेश के लिए गौरव की बात

मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि हम उत्तराखण्ड वासियों के लिए सम्मान की बात है कि प्रधानमंत्री ने राज्य की हेल्थ वर्कर पूनम नौटियाल से बात की। उत्तराखण्ड के हेल्थ वर्कर्स का जज्बा ही है कि दुर्गम भौगोलिक परिस्थितियों वाले उत्तराखण्ड में 100 प्रतिशत पहली डोज का लक्ष्य पूरा किया जा चुका है। हम जल्द ही शत-प्रतिशत सेकेंड डोज का लक्ष्य भी हासिल करेंगे।

मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों से अपील की है कि प्रधानमंत्री मोदी ने वोकल फॉर लोकल का जो मंत्र दिया है, हम सबको मिलकर इसे साकार करना है। त्योहारों का सीजन चल रह है, इस दौरान हमें स्थानीय उत्पादों को अधिक से अधिक बढ़ावा देना है। इससे स्थानीय लोगों की आमदनी में बढ़ोत्तरी होगी।

पढ़ें :- महामारी के बीच रफ्तार पकड़ रही है भारत की अर्थव्यवस्था, भारत का साल 2070 तक नेट जीरो का लक्ष्य- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वच्छता के लिए हम सभी को अपनी दिनचर्या का अंग मानकर प्रयास करने होंगे। अपने घरों के साथ ही आसपास के क्षेत्रों में भी स्वच्छता पर ध्यान देना होगा। आइये, हम संकल्प लें कि स्वच्छ भारत अभियान को आगे बढ़ाते हुए हम सब मिलकर अपने देश को पूरी तरह स्वच्छ बनाएंगे और स्वच्छ रखेंगे। मुख्यमंत्री ने हेल्थ वर्कर पूनम नौटियाल से फोन से बात की और उनके सराहनीय कार्य के लिए उन्हें बधाई दी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...