1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. Quad summit: अमेरिका में क्वाड शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेंगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

Quad summit: अमेरिका में क्वाड शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेंगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

क्वाड शिखर सम्मेलन में नेताओं के बीच बातचीत के लिए एक मूल्यवान मौका होगा। क्वाड सम्मेलन के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 23, 24 और 25 सितंबर को अमेरिका में रहेंगे।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

नई दिल्ली, 14 सितंबर। अमेरिका के राष्ट्रपति जो. बायडेन 24 सितंबर को वॉशिंगटन डीसी में  क्वाड समूह के नेताओं की पहले शिखर सम्मेलन की मेजबानी करेंगे। ये जानकारी व्हाइट हाउस की ओर से जारी की गई है। अमेरिका के राष्ट्रपति बायडेन व्हाइट हाउस में पीएम नरेंद्र मोदी, ऑस्ट्रेलिया के पीएम स्कॉट मॉरिसन और जापान के प्रधानमंत्री योशीहिदे सुगा का स्वागत करेंगे।

वहीं राष्ट्रपति बायडेन ने 12 मार्च को क्वाड नेताओं के पहले शिखर सम्मेलन की डिजिटल तरीके से मेजबानी की थी। जिसमें स्वतंत्र, उन्मुक्त, समावेशी, लोकतांत्रिक मूल्यों से जुड़े हिंद-प्रशांत क्षेत्र का संकल्प व्यक्त किया गया था, जो जबरन कब्जे जैसी बाधाओं से मुक्त हो। पीएम मोदी ने इससे पहले सितंबर 2019 में अमेरिका का दौरा किया था, जब उन्होंने और पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ह्यूस्टन में हाउडी मोदी कार्यक्रम को संबोधित किया था।

वहीं विदेश मंत्रालय के मुताबिक क्वाड शिखर सम्मेलन में नेताओं के बीच बातचीत के लिए एक मूल्यवान अवसर करेगा। ये एक स्वतंत्र, खुले और समावेशी हिंद-प्रशांत क्षेत्र को सुनिश्चित करने के लिए उनके साझा दृष्टिकोण पर आधारित होगा।

तो उधर क्वाड सम्मेलन में कोविड महामारी की रोकथाम के प्रयासों के हिस्से के रूप में वैक्सीन पहल की समीक्षा होगी, जिसकी घोषणा इस साल मार्च में की गई थी। समकालीन वैश्विक मुद्दों जैसे महत्वपूर्ण और उभरती प्रौद्योगिकियों, कनेक्टिविटी और बुनियादी ढांचे, साइबर सुरक्षा, समुद्री सुरक्षा, मानवीय सहायता, आपदा राहत, जलवायु परिवर्तन और शिक्षा पर भी विचारों का लेन-देन होगा।

बतादें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 25 सितंबर को न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र महासभा के 76वें सत्र के उच्च-स्तरीय खंड की सामान्य चर्चा को संबोधित करने वाले हैं। इस साल की सामान्य चर्चा का विषय ”कोविड-19 से उबरने की आशा के जरिए लचीलेपन का निर्माण, स्थायी पुनर्निर्माण, ग्रह की जरूरतों को समझकर काम करना, लोगों के अधिकारों का सम्मान करना और संयुक्त राष्ट्र को दोबारा मजबूती देना” है।

हिन्दुस्थान समाचार

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
India Voice Ads
X